ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरइंडियन आर्मी भर्ती: क्या गंदे दांतों के कारण कैंडिडेट्स को रिजेक्ट किया जा सकता है?

इंडियन आर्मी भर्ती: क्या गंदे दांतों के कारण कैंडिडेट्स को रिजेक्ट किया जा सकता है?

अगर आप इंडियन आर्मी में शामिल होना चाहते हैं और आपके दांतों में कुछ परेशानी हैं तो जान लीजिए आप दांतों के कारण शायद इंडियन आर्मी से रिजेक्ट हो सकते हैं। आइए जानते हैं इस बात में कितनी सच्चाई है।

इंडियन आर्मी भर्ती: क्या गंदे दांतों के कारण कैंडिडेट्स को रिजेक्ट किया जा सकता है?
Priyanka Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 05 Dec 2023 09:17 PM
ऐप पर पढ़ें

इंडियन आर्मी में शामिल होना गर्व की बात है। वहीं इसमें शामिल होने के कई नियम भी होते हैं। जिनका पालन काफी सख्ती से किया जाता है। वहीं उम्मीदवारों को इंडियन आर्मी में शामिल होने के लिए लिखित परीक्षा, फिजिकल टेस्ट और मेडिकल टेस्ट क्लियर करना होगा। जिसके अपने अलग नियम होते हैं।

इसी के साथ उम्मीदवारों को कई बार कंफ्यूजन रहती है क्या कोई केवल उनके गंदे दांतों के कारण इंडियन आर्मी में भर्ती नहीं हो सकते हैं। क्या इंडियन आर्मी में मेडिकल और फिजिकली फिट होने के बावजूद केवल इसी गंदे दांतों के कारण अयोग्य घोषित किया जा सकता है? आइए इस बारे में विस्तार से जानते हैं।

इंडियन आर्मी, इंडियन नेवी और इंडियन एयरफोर्स की भर्ती प्रक्रिया के दौरान उम्मीदवारों के लिए डेंटल एग्जामिनेशन का आयोजन किया जाता है। जिसके आधार पर उम्मीदवारों के दांतों को चेक किया जाता है कि वह स्वस्थ है या नहीं। बता दें,  भर्ती से पहले सभी उम्‍मीदवारों को इस एग्जामिनेशन में शामिल होना अनिवार्य है।

वहीं इस एग्जामिनेशन में उम्मीदवारों को डेंटल पॉइंट्स दिए जाते हैं। इस परीक्षा का अपना एक नियम होता है, जिसे हर उम्मीदवारों को पालन करना होता है।

कैसे कैलकुलेट किए जाते हैं डेंटल पॉइंट्स

उम्मीदवारों को सबसे पहले बता दें, मानव शरीर में चार प्रकार के दांत होते हैं। डेंटल एग्जामिशन के आधार पर इस प्रकार पॉइंट्स तय किए गए हैं।

(1) कृंतक (incisor)- 1 पॉइंट
(2) कैनाइन (canine)- 2 पॉइंट
(3) प्रीमोलर (premolar) 4 पॉइंट
(4) मोलर, दाढ़ (molar) -2 पॉइंट


बता दें, कृंतक सामने के दांत होते हैं इस्तेमाल भोजन को काटने के लिए किया जाता है। बता दें, ये आठ होते हैं, चार ऊपर, चार नीचे। वहीं मोलर, दाढ़ (molar) दांतों की मदद से इंसान खाना चबाते हैं। बता दें, ये डेंटल पॉइंट्स उम्मीदवारों के स्वास्थ्य के अनुसार निर्धारित किए जाते हैं।

पास होने के लिए इतने डेंटल पॉइंट्स जरूरी

डेंटल एग्जामिनेशन के दौरान उम्मीदवारों को  22 में से कम से कम 14 डेंटल पॉइंट्स हासिल करना अनिवार्य है। बता दें, इस परीक्षा के दौरान कोई उम्मीदवार ऐसा होता है जिसके आर्टिफिशियल दांत हैं, तो इस स्थिति में वह अयोग्य माना जाएगा। इसके अलावा, यदि उम्मीदवार की तीसरी दाढ़ अच्छी तरह से विकसित नहीं है, तो केवल एक पॉइंट दिया जाएगा। वहीं उम्मीदवारों को बता दें, सिर्फ गंदे दांतों के कारण किसी भी उम्मीदवार को अयोग्य घोषित कर देना, ये पूरी तरह से गलत है।

इंडियन आर्मी में क्यों जरूरी है मजबूत और स्वस्थ दांत

इंडियन आर्मी में सिलेक्ट हुए उम्मीदवारों मजबूत और स्वस्थ दांत होने जरूरी है। ऐसा इसलिए है क्योंकि भोजन का सही पाचन तभी अच्छा होगा, जब उसे अच्छे से चबाया जाएगा। भोजन तभी ठीक से चबाया जाता है जब दांत स्वस्थ होते हैं। ऐसे में एक जवान अपनी ड्यूटी आसानी से और बिना किसी परेशानी के कर पाएगा।

 

 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें