ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ करियरIIT : पूर्व छात्रों की मदद से पूरी हो रहीं आईआईटी की योजनाएं, जानें किस छात्र ने दिए कितने करोड़ रुपये

IIT : पूर्व छात्रों की मदद से पूरी हो रहीं आईआईटी की योजनाएं, जानें किस छात्र ने दिए कितने करोड़ रुपये

IIT Kanpur : आईआईटी कानपुर में सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल का सपना पूर्व छात्रों की मदद से धरातल पर उतरने लगा है। पूर्व छात्र-छात्राओं की ओर से लगातार मदद कई तरह के लटके काम भी शुरू हो गए हैं।

IIT : पूर्व छात्रों की मदद से पूरी हो रहीं आईआईटी की योजनाएं, जानें किस छात्र ने दिए कितने करोड़ रुपये
Pankaj Vijayवरिष्ठ संवाददाता,कानपुरMon, 28 Nov 2022 08:25 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

आईआईटी कानपुर में गंगवाल स्कूल ऑफ मेडिकल साइंसेज एंड टेक्नोलॉजी और यदुपति सिंघानिया सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल का सपना पूर्व छात्रों की मदद से धरातल पर उतरने लगा है। पूर्व छात्र-छात्राओं की ओर से लगातार की जा रही आर्थिक मदद के चलते संस्थान में जमीन चिह्नित होने संग अन्य काम भी शुरू हो गए हैं। करीब 600 करोड़ रुपये की योजना में पूर्व छात्र 250 करोड़ से अधिक रकम दे चुके हैं। 

शनिवार को संस्थान के पूर्व छात्र पवन तिवारी ने पांच लाख अमेरिकी डॉलर (4.32 करोड़) की सहायता दी है। एक दिन पहले दीपक नरुला ने 6.5 लाख डॉलर दिए थे। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान में 8.10 लाख वर्ग फुट क्षेत्र में गंगवाल स्कूल ऑफ मेडिकल साइंसेज एंड टेक्नोलॉजी बन रहा है जिसे दो चरणों में पूरा किया जाएगा। 

आईआईटी समेत भारत के 7 संस्थान एशिया के टॉप 100 इंस्टीट्यूट में शामिल, यहां देखें पूरी लिस्ट

पहले चरण में 450 से अधिक बिस्तरों वाला यदुपति सिंघानिया सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल, कैंसर देखभाल व अनुसंधान के लिए 50 बिस्तर वाला केंद्र, शैक्षणिक ब्लॉक, आवास आदि होगा। इसे तीन से पांच साल में पूरा करना है। दूसरे चरण में अस्पताल की क्षमता 1000 बेड तक करने के साथ क्लीनिकल विभाग व अनुसंधान को शामिल किया जाएगा। आईआईटी में न सिर्फ गंभीर से गंभीर बीमारियों का इलाज हो सकेगा बल्कि नए उपकरण, वैक्सीन, दवा आदि पर शोध भी संभाव होगा। अब तक सबसे बड़ी रकम इंडिगो एयरलाइंस के को-फाउंडर राकेश गंगवाल ने 100 करोड़ के रूप में दी है।

इन पूर्व छात्रों ने स्कूल के लिए की बड़ी मदद
- राकेश गंगवाल 100 करोड़ रुपये
- जेके ग्रुप 60 करोड़ रुपये
- इलेक्ट्रिकल कॉरपोरेशन 14.4 करोड़ रुपये
- डॉ. देव जुनेजा 19 करोड़ रुपये
- अनिल बंसल 19 करोड़ रुपये
- हेमंत जालान 18 करोड़ रुपये
- दीपक नरुला 6.5 लाख यूएस डॉलर
- पवन तिवारी 5 लाख यूएस डॉलर