ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरआईआईटी बीएचयू में 5 साल में नौकरियों में 31 प्रतिशत तक का इजाफा

आईआईटी बीएचयू में 5 साल में नौकरियों में 31 प्रतिशत तक का इजाफा

आईआईटी बीएचयू में कैंपस प्लेसमेंट से नौकरी में शानदार इजाफा हुआ है। सेल के आंकड़ों की मानें तो 2018-19 में कैंपस प्लेसमेंट ड्राइव के दौरान कुल नियुक्तियां 837 थीं। 2019-20 में यह 898 हो गई।

आईआईटी बीएचयू में 5 साल में नौकरियों में 31 प्रतिशत तक का इजाफा
Pankaj Vijayवरिष्ठ संवाददाता,वाराणसीWed, 22 Nov 2023 03:09 PM
ऐप पर पढ़ें

आईआईटी बीएचयू में पिछले पांच साल में नौकरियों में 31 प्रतिशत तक का इजाफा हुआ है। आईआईटी की ट्रेनिंग एवं प्लेसमेंट सेल की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक, संस्थान में बड़ी कंपनियों की आमद और छात्रों के बीच से सर्वश्रेष्ठ मेधा के चुनाव के मौके बढ़े हैं। नौकरी पाने वालों के अलावा हजारों छात्र ऐसे भी हैं जो शोध, आगे की पढ़ाई या स्टार्टअप की तरफ बढ़ जाते हैं।

सेल के आंकड़ों की मानें तो 2018-19 में कैंपस प्लेसमेंट ड्राइव के दौरान कुल नियुक्तियां 837 थीं। 2019-20 में यह 898 हो गई। 2020-21 के सत्र में ये घटकर 780 पहुंच गईं। इसके पीछे कोविड के बाद आई वैश्विक मंदी और अन्य समस्याएं रहीं। हालांकि इसके बाद यह आंकड़ा बेहतर होता गया। 21-22 में 1078 और 22-23 के सत्र यानी पिछले वर्ष 1094 छात्रों ने विभिन्न कंपनियों के ऑफर पर जॉब ज्वाइन की। तुलना करें तो 2018-19 के सत्र से पिछले सत्र तक नियुक्तियां 31 फीसदी तक बढ़ी हैं।

ट्रेनिंग एवं प्लेसमेंट अधिकारी प्रो. सुशांत श्रीवास्तव कहते हैं कि बीते वर्षों में अंतरराष्ट्रीय कंपनियों का रुझान आईआईटी बीएचयू की तरफ बढ़ा है। कोविड काल में ऑफर भले कम थे मगर कंपनियों की तरफ से छात्रों को दिए गए पैकेज हमेशा की तरह उच्च मानकों के मुताबिक थे। हर साल प्लेसमेंट ड्राइव में ऑफरों की संख्या हजारों में होती है। हालांकि कई बार छात्र विभिन्न कारणों से नौकरी में न जाकर अनुसंधान या स्टार्टअप पर फोकस करते हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें