DA Image
14 अगस्त, 2020|4:36|IST

अगली स्टोरी

UPTET रिजल्ट बदला तो सड़क पर आ जाएंगे कई शिक्षामित्र

teacher bharti 2018

टीईटी 2017 के रिजल्ट को चुनौती देनी वाली याचिका को सुप्रीम कोर्ट द्वारा हाईकोर्ट वापस किए जाने के कारण सर्वाधिक शिक्षामित्र परेशान हैं। याचिका में 14 प्रश्नों को लेकर विवाद है। ऐसे में टीईटी परिणाम संशोधित होता है तो 68500 सहायक अध्यापक भर्ती में चयनित सैकड़ों शिक्षामित्र सड़क पर आए जाएंगे।

सपा सरकार में बिना टीईटी सहायक अध्यापक पद पर 1.37 लाख शिक्षामित्रों का समायोजन सुप्रीम कोर्ट से 25 जुलाई 2017 को निरस्त होने के बाद उन्हें दो भर्तियों में वेटेज दिया गया था। पहली भर्ती के लिए शिक्षामित्रों ने मेहनत की जिसका नतीजा था कि टीईटी-17 और उसके बाद 68500 लिखित परीक्षा में 7224 सफल हुए। चयन के बाद इन शिक्षामित्रों ने पूर्व के मानदेय पद से इस्तीफा देकर सहायक अध्यापक पद पर ज्वाईन कर लिया था। लेकिन अब टीईटी 2017 में पाठ्यक्रम के बाहर से प्रश्न पूछने का विवाद ताजा होने से उन शिक्षामित्रों की सांस अटकी है जिन्होंने मामूली अंतर से परीक्षा पास की थी। क्योंकि उन्होंने शिक्षामित्र पद से इस्तीफा दे दिया है और अब सहायक अध्यापक की नौकरी भी नहीं बचेगी। 

UP TET 2018: आज यूं डाउनलोड कर पाएंगे एडमिट कार्ड

सुप्रीम कोर्ट के निर्देशानुसार 2017 टीईटी का मामला दुबारा हाईकोर्ट भेजा गया है। इसलिए सरकार हाईकोर्ट में अपील दायर कर 14 अंक डिलीट करने के बजाय 14 अंक सभी अभ्यर्थियों को प्रदान करने का अनुरोध करे जिससे 2017 में टीईटी पास अभ्यर्थियों के लिए समस्या पैदा न हो।

-कौशल कुमार सिंह, प्रदेश मंत्री, उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षामित्र संघ 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:if UPTET results will be changed its affect uttar pradesh shikshamitra