ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरविश्वविद्यालय में समय पर सत्र शुरू नहीं तो रुक जाएगा फंड- UGC

विश्वविद्यालय में समय पर सत्र शुरू नहीं तो रुक जाएगा फंड- UGC

यूजीसी ने कॉलेजों, विश्वविद्यालयों में शैक्षणिक सत्र समय से शुरू करने के निर्देश दिए हैं। इससे पहले यूजीसी ने संस्थानों से 15 अप्रैल तक एकेडमिक कैलेंडर जारी करने को कहा था। यूजीसी के अनुसार, विश्वविद्

विश्वविद्यालय में समय पर सत्र शुरू नहीं तो रुक जाएगा फंड- UGC
Alakha Singhवरीय संवाददाता,पटनाSun, 21 Apr 2024 11:08 AM
ऐप पर पढ़ें

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूसीजी) ने देश के सभी विश्वविद्यालयों को पत्र भेजकर निर्धारित समय पर नए सत्र की शुरुआत करने का निर्देश जार किया है। इसमें कहा गया है कि जुलाई में नामांकन की प्रक्रिया पूरी कर अगस्त के पहले सप्ताह में कक्षाएं शुरू कर दी जाएं। अगर समय पर सत्र शुरू नहीं हुआ तो सभी विश्वविद्यालयों को दिए जानेवाले फंड पर रोक लगाई जा सकती है। इसके साथ ही विश्वविद्यालयों को पूर्व में दी गई राशि का उपयोगिता प्रमाण-पत्र भी देना है। इसके पहले भी कई विश्वविद्यालय ने उपयोगिता प्रमाण-पत्र नहीं दिया था जिनका फंड रोका गया था। इनमें बिहार के कई विश्वविद्यालय भी शामिल हैं।

यूजीसी ने कहा कि हर हाल में स्नातक पहले वर्ष की कक्षाएं अगस्त में शुरू कर दें। इससे पहले सभी विश्वविद्यालयों व उच्च शिक्षण संस्थानों से प्रवेश से जुड़ी प्रक्रिया को पूरा करने का भी सुझाव दिया है। इधर तमाम केन्द्रीय विश्वविद्यालय में नामांकन के लिए सीयूईटी 15 से 31 मई तक है। हालांकि इस परीक्षा के लिए दस लाख से अधिक छात्रों ने आवेदन किया है। पिछली बार सीयूईटी से दाखिला में विलंब हुआ था।

यूजीसी ने इसके साथ ही नियमों का हवाला देते हुए विश्वविद्यालय से जल्द एकेडमिक कैलेंडर भी जारी करने को कहा है। ताकि समय से संस्थान और उससे संबद्ध कॉलेजों की शैक्षणिक गतिविधियां संचालित हो सके। शैक्षणिक सत्र को पटरी पर लाने की पहल के तहत ही आयोग ने पिछली स्नातक कक्षाओं की परीक्षा के परिणाम भी जून अंत तक और स्नातक दूसरे और आगे के वर्षों की कक्षाएं भी जुलाई के पहले सप्ताह तक शुरू करने को कहा है। आयोग ने 15 अप्रैल तक एकेडमिक कैलेंडर जारी करने का निर्देश दिया था।

सूबे के विश्वविद्यालयों में पीजी का सत्र चल रहा है विलंब
बिहार के कई विश्वविद्यालय ने एकेडमिक कैलेंडर जारी कर दिया है, वहीं कई ने जारी नहीं किया है। ज्यादातर में स्नातकोत्तर का सत्र विलंब चल रहा है। जय प्रकाश विश्वविद्यालय छपरा में पीजी का सत्र दो साल तो स्नातक का छह माह विलंब है। वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय आरा में पीजी का सत्र छह महीना विलंब है। मगध विश्वविद्यालय में कुछ कोर्सो की परीक्षा नहीं हो सकी है। बीएन मंडल का सत्र भी छह माह विलंब है। मौलाना मजहरुल हक विश्वविद्यालय का भी सत्र विलंब है। पटना विश्वविद्यालय ने स्नातक में आवेदन की प्रक्रिया शुरू कर दी है तो पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय में मई में शुरू होगी। 

Virtual Counsellor