ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरIAS अधिकारी ने बताया- UPSC के लिए कितने अटेम्प्ट देना सही

IAS अधिकारी ने बताया- UPSC के लिए कितने अटेम्प्ट देना सही

यूपीएससी की तैयारी करते समय हर उम्मीदवार ये सोचता है कि, वह पहले ही प्रयास में इस परीक्षा में सफलता हासिल कर लें, लेकिन ज्यादातर मामलों में उम्मीदवार परीक्षा पहले प्रयास में पास नहीं कर पाते हैं। आइए

IAS अधिकारी ने बताया- UPSC के लिए कितने अटेम्प्ट देना सही
Priyanka Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 24 Oct 2023 12:13 PM
ऐप पर पढ़ें

UPSC success story:  IAS अधिकारी बनने के लिए यूपीएससी को क्लियर करना जरूरी है। वहीं इस परीक्षा का सिलेबस इतना बड़ा है कि इसे कवर करते करते कई साल लग जाते हैं। जो उम्मीदवार इस परीक्षा की तैयारी पूरे लगन से करते हैं, वह एक न एक दिन परीक्षा को क्लियर कर ही लेते हैं। आज हम बात कर रहे हैं IAS अधिकारी सोनल गोयल की, जिन्होंने दूसरे प्रयास में ऑल इंडिया रैंक 13 हासिल कर यूपीएससी की परीक्षा पास की थी और IAS अधिकारी बनीं। आइए जानते हैं उनके बारे में।

सोनल गोयल हरियाणा के पानीपत की रहने वाली हैं, लेकिन उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा दिल्ली में की। 12वीं कक्षा के बाद सोनल ने दिल्ली विश्वविद्यालय के श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स से ग्रेजुएशन किया और दिल्ली से CS की डिग्री भी हासिल की।

सोनल ने कहा कि पहले उन्हें यूपीएससी सिविल सर्विस परीक्षा के बारे में भी नहीं पता था, लेकिन एक पत्रिका में एक सिविल सेवक पर लिखा लेख पढ़ने के बाद उन्होंने आईएएस अधिकारी बनने का फैसला किया।

सोनल गोयल ने कहा, "सीएस की पढ़ाई के दौरान जब मैंने अपने परिवार को आईएएस अधिकारी बनने के फैसले के बारे में बताया, तो मेरे पिता नहीं चाहते थे कि मैं यूपीएससी की तैयारी करूं"

सोनल ने कहा, "मेरे पिता जानते थे कि यूपीएससी परीक्षा सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक है। हालांकि उन्हें पता था कि मैं होशियार हूं, उन्होंने कहा कि अगर मैं परीक्षा देना चाहती हूं, तो मुझे प्लान B भी तैयार रखना चाहिए"

सोनल गोयल अपनी काबिलियत के बारे में जानते थी, इसलिए उन्होंने यूपीएससी परीक्षा देने का फैसला किया है। वहीं इस दौरान उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय में एलएलबी कोर्स करना शुरू कर दिया था। अब कोर्स को बीच में छोड़ना ठीक नहीं था, ऐसे में उन्होंने  अपनी नौकरी और एलएलबी की पढ़ाई के साथ-साथ सोनल यूपीएससी परीक्षा की तैयारी जारी रखी।

साल 2006 में उन्होंने पहली बार यूपीएससी की परीक्षा दी थी, जिसमें उन्होंने सफलता नहीं मिली। परीक्षा पास न करने का दुख उनके मन में था, लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और दूसरी बार परीक्षा देने का फैसला किया। साल 2007 में दूसरी बार परीक्षा दी और पूरे भारत में 13वीं रैंक हासिल कर IAS बनने में कामयाब रहीं।

मीडिया से बातचीत में सोनल ने कहा था कि उनका मानना ​​है कि यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा के लिए दो प्रयास पर्याप्त हैं। उन्होंने कहा, पहले प्रयास में असफलता आपको अपनी गलतियों का एहसास कराती है, जिसे दूसरे प्रयास में आप उसे सुधार सकते हैं। आईएएस सोनल गोयल सोशल मीडिया पर किसी सेलिब्रिटी से कम नहीं हैं। उन्हें अक्सर "ब्यूटी विद ब्रेन" के नाम से जाना जाता है।

 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें