ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ करियरHTET : टीईटी के सफल आयोजन के लिए हरियाणा बोर्ड ने कराया हवन यज्ञ, महिलाओं को दी यह छूट

HTET : टीईटी के सफल आयोजन के लिए हरियाणा बोर्ड ने कराया हवन यज्ञ, महिलाओं को दी यह छूट

हरियाणा बोर्ड ने एचटीईटी 2022 परीक्षा के सफल आयोजन के लिए बुधवार को हवन यज्ञ कराया। हरियाणा शिक्षक पात्रता परीक्षा 3 और 4 दिसंबर, 2022 को राज्य भर के विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर आयोजित की जाएगी।

HTET : टीईटी के सफल आयोजन के लिए हरियाणा बोर्ड ने कराया हवन यज्ञ, महिलाओं को दी यह छूट
Pankaj Vijayहिन्दुस्तान टीम,फरीदाबादThu, 01 Dec 2022 07:53 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

हरियाणा बोर्ड ने एचटीईटी 2022 परीक्षा के सफल आयोजन के लिए बुधवार को हवन यज्ञ कराया। हरियाणा शिक्षक पात्रता परीक्षा 3 और 4 दिसंबर, 2022 को राज्य भर के विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर आयोजित की जाएगी। हरियाणा स्कूल शिक्षा बोर्ड के परिसर में हुए इस हवन में बोर्ड अध्यक्ष डॉ. वीपी यादव, सचिव कृष्ण कुमार, एचपीएस, संयुक्त सचिव डॉ. पवन कुमार शर्मा सहित समस्त अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे। बोर्ड की तरफ से हवन यज्ञ कराने का मकसद परीक्षा के लिए सकारात्मक माहौल बनाए रखना और सभी का पूरा सहयोग हासिल करना है। महिलाओं को परीक्षा में मंगल सूत्र पहनने, मांग सिंदूर तथा बिंदियां लगाने की छूट दी गई है। इसके लिए उन पर कोई पाबंदी नहीं होगी। 

बोर्ड सचिव कृष्ण कुमार ने बताया कि इस परीक्षा में कुल 3,05,717 अभ्यर्थी शामिल होंगे, जिनमें 2,18,033 महिलाएं, 87,678 पुरुष और 06 ट्रांसजेंडर हैं। उन्होंने बताया कि लेवल-1 (पीआरटी) परीक्षा में 60,794 अभ्यर्थियों में से 42,888 महिलाएं और 17,904 पुरुष तथा 02 ट्रांसजेंडर हैं। लेवल-2 (टीजीटी) में 1,49,430 उम्मीदवारों में से 1,07,040 महिलाएं, 42,387 पुरुष और 03 ट्रांसजेंडर हैं। लेवल-3 (पीजीटी) में 95,493 उम्मीदवारों में से 68,105 महिलाएं, 27,387 पुरुष और 01 ट्रांसजेंडर शामिल हैं।

अभ्यर्थियों के प्रवेश पत्र (एडमिट कार्ड) बोर्ड की वेबसाइट http://bseh.org.in पर जारी कर दिए गए हैं।

धारा 144 लागू, कोचिंग सेंटर व फोटो कॉपी की दुकानें बंद
परीक्षाओं के मद्देनजर परीक्षा केन्द्रों पर धारा -144 लागू होगी। जिला सभी प्रशिक्षण संस्थान/कोचिंग सैन्टर बन्द रहेंगे। परीक्षा केंद्रों की 200 मीटर की परिधि में पांच या इससे अधिक व्यक्ति एकत्रित होने पर पाबंदी रहेगी। परीक्षा केन्द्रों के नजदीक 200 मीटर की परिधि में सभी फोटो स्टेट की दुकानें भी बंद रहेगी। 

 2 घंटे 10 मिनट पहले परीक्षा केंद्र पहुंचें, एक घंटा पहले गेट बंद हो जाएगा
बोर्ड की ओर से परीक्षार्थियों को परीक्षा शुरू होने से 2 घंटे 10 मिनट पहले परीक्षा केंद्र पर पहुंचने के निर्देश दिए गए हैं। जिससे कि प्रवेश द्वार पर ही मेटल डिटेक्टर से तलाशी, आइरिस  बायोमेट्रिक डाटा कैप्चरिंग आदि औपचारिकताएं समय से पूरी हो सकें। वहीं परीक्षा शुरू होने से एक घंटे पहले परीक्षा परीक्षा केंद्र पर प्रवेश बंद कर दिया जाएगा। परीक्षा में महिला परीक्षार्थियों को मंगलसूत्र पहनने, बिंदी व सिंदूर लगाने की ही छूट होगी और सिख परीक्षार्थी धार्मिक आस्था के चिन्ह ले जा सकेंगे।

परीक्षार्थी 12 बजकर 50 मिनट से दो बजे तक परीक्षा केन्द्रों में प्रवेश कर सकते है। इसी प्रकार सुबह के सत्र में परीक्षार्थी 09:00 बजे तक परीक्षा केन्द्रों में प्रवेश कर सकेंगे, वे अपने साथ मोबाईल फोन व अन्य किसी भी प्रकार का इलैक्ट्रोनिक डिवाईस लेकर नहीं जा सकते है। परीक्षा केन्द्रों में परीक्षार्थियों के प्रवेश के दौरान वीडियोग्राफी भी करवाई जाएगी।

दृष्टिहीन परीक्षार्थियों की सुविधा के लिए उन्हें परीक्षा के दौरान अतिरिक्त 50 मिनट का समय दिया जाएगा और उनके लिए केंद्र अधीक्षक द्वारा एक अलग लिफाफे में OMR शीट भी भेजी जाएगी। उन्होंने ऐसे परीक्षार्थियों को अलग से बैठने की व्यवस्था के निर्देश दिए।