ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ करियरस्कूल में PTI टीचर कैसे बनें? जानें कोर्स और योग्यता समेत जरूरी बातें

स्कूल में PTI टीचर कैसे बनें? जानें कोर्स और योग्यता समेत जरूरी बातें

Physical Education Teacher : किसी भी विषय से ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद आप 2 वर्षीय बैचलर इन फिजिकल एजुकेशन यानी बीपीएड कोर्स पूरा करें। इसके बाद आपको स्कूल में पीटीआई बनने के द्वारा खुल जाएंगे।

स्कूल में PTI टीचर कैसे बनें? जानें कोर्स और योग्यता समेत जरूरी बातें
Pankaj Vijayआशीष आदर्श, करियर काउंसलर,नई दिल्लीThu, 01 Dec 2022 01:54 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

स्कूल में फिजिकल एजुकेशन टीचर (पीटीआई) कैसे बना जा सकता है? यह बनने की क्या योग्यता है? इन प्रश्नों के जवाब में करियर एक्सपर्ट ने कहा है कि किसी भी विषय से ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद आप 2 वर्षीय बैचलर इन फिजिकल एजुकेशन यानी बीपीएड कोर्स पूरा कर किसी भी स्कूल में फिजिकल एजुकेशन टीचर के तौर पर करियर शुरू कर सकते हैं। देश भर के अनगिनत सरकारी व निजी संस्थानों में बीपीएड कोर्स संचालित किया जाता है। बीएड की भांति देश में केवल उन संस्थानों को ही बीपीएड कोर्स संचालित करने का अधिकार है, जिनकी मान्यता एनसीटीई यानी नेशनल काउन्सिल फॉर टीचर्स एजुकेशन से है। ऐसे में दाखिले से पहले एनसीटीई की वेबसाइट पर उक्त संस्थान का मान्यता सम्बन्धी विवरण अच्छी तरह देख-परख लें, ताकि आगे चलकर आपको कोई असुविधा ना हो। 

एक अन्य विकल्प के तौर पर, यदि आप बीपीएड के बाद मास्टर्स डिग्री यानी 2 वर्षीय एमपीएड कर लेते हैं, तो आपकी नियुक्ति बीएड कॉलेजों में असिस्टेंट प्रोफेसर के तौर पर भी हो सकती है, क्योंकि बीएड कॉलेजों में भी फिजिकल एजुकेशन से सम्बंधित एक असिस्टेंट प्रोफेसर की नियुक्ति अनिवार्य है। यहां आपको मान्यता प्राप्त संस्थान की जानकारी के लिए वेबसाइट ncte.gov.in का सहारा लेना होगा।

प्रश्न - - मेरा रुझान इंटीरियर डिजाइन का है। मैं अगले वर्ष बारहवीं पूरा कर लूंगी। कृपया देश में इंटीरियर डिजाइनिंग के टॉप संस्थानों और नामांकन प्रक्रिया की जानकारी दें। - पूजा सेठ
उत्तर - डिजाइनिंग के क्षेत्र में प्रवेश करने के लिए आपको बैचलर इन डिजाइन का कोर्स पूरा करना होगा। बी.डेस की अवधि 4 वर्ष की है और इस पाठ्यक्रम में किसी भी स्ट्रीम से 10+2 उत्तीर्ण छात्र प्रवेश पा सकते हैं। आपको यह जानकार खुशी होगी कि कई अन्य संस्थानों की भांति अब देश के पांच आईआईटी संस्थान भी बी.डेस और इंटीग्रेटेड एम.डेस कोर्स संचालित करते हैं। जिन संस्थानों में बी.डेस कोर्स होता है, उनमें आईआईटी मुंबई, आईआईटी दिल्ली, आईआईटी गुवाहाटी, आईआईटी हैदराबाद और आईआईटी जबलपुर शामिल हैं। इनमें आईआईटी मुंबई, आईआईटी दिल्ली और आईआईटी हैदराबाद में पीसीएम के साथ आर्ट्स और कॉमर्स के छात्रों को भी बी.डेस में प्रवेश मिलता है, परन्तु आईआईटी गुवाहाटी और आईआईटी जबलपुर केवल उन छात्रों को प्रवेश देते हैं, जिन्होंने 10+2 पीसीएम से उत्तीर्ण किया है। इनमें कुछ संस्थान 5 वर्षीय इंटीग्रेटेड एम.डेस कोर्स भी कराते हैं, जो करियर के लिहाज से बेहद लाभदायक है। 

उक्त पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए प्रति वर्ष अंडरग्रेजुएट कॉमन इन्ट्रेंस एग्जाम फॉर डिजाइन (यूसीईईडी) नामक प्रवेश जांच परीक्षा का आयोजन किया जाता है, जिसकी प्रक्रिया सितम्बर माह में शुरू होकर अक्टूबर में पूरी की जाती है, जिसके बाद जनवरी माह में परीक्षा संचालित की जाती है। आप अधिकतम दो बार इस परीक्षा में बैठ सकते हैं, बारहवीं की परीक्षा के वर्ष और फिर उसके ठीक अगले वर्ष। विस्तृत जानकारी के लिए वेबसाइट www.uceed.iitb.ac.in को खंगालें।