DA Image
27 फरवरी, 2020|4:23|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हिन्दुस्तान विशेष: यूपी बोर्ड परीक्षा- इन खास तरह की कॉपियों में परीक्षा देंगे विद्यार्थी, नकलविहीन परीक्षा के लिए पहली बार किया है प्रयोग

students in various schools of dehradun saw the program to discuss the exam

यूपी बोर्ड की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट के विद्यार्थी इस बार रंग-बिरंगी उत्तर पुस्तिकाओं में सवालों के जवाब लिखेंगे। माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने नकल रोकने और गुणवत्ता पूर्ण परीक्षा कराने के लिए पहली बार यह प्रयोग किया गया है।  दोनों कक्षाओं में विद्यार्थियों को अलग अलग रंग की उत्तर पुस्तिकाएं मिलेंगी।  
रंग-बिरंगी कॉपियां होने से नकल माफिया पेपर सॉल्व कराकर लिखी हुई कॉपियों को परीक्षार्थियों की कॉपियों के साथ मिला नहीं पाएंगे। विद्यार्थियों को मिलने वाली ए कॉपी और बी कॉपी दोनों का रंग अलग-अलग होगा। पूरे प्रदेश में वर्ष 2020 की परीक्षा में यह व्यवस्था लागू हो चुकी है। विभागीय अधिकारियों ने बताया कि सभी जिलों में यह रंगीन उत्तर पुस्तिकाएं पहुंच चुकी हैं। परीक्षा में इंटरमीडिएट की ए कॉपी लाल रंग की होगी तो बी कॉपी हरे रंग की होगी। वहीं हाईस्कूल ए कॉपी पीली और बी कॉपी नीले रंग की होगी है। हालांकि शिक्षा विभाग ने अभी सभी कॉपियों को सघन सुरक्षा में संकलन केंद्र में सुरक्षित रखा है। 

UP Board हाईस्कूल, इंटर के छात्रों को आज से मिलेंगे एडमिट कार्ड, इन छात्रों को नहीं मिलेंगे एडमिट कार्ड

हर दिन अलग रंग की कॉपी, सभी पन्नों में होंगे कोड 
विभागीय सूत्रों की माने तो इन चार रंगों के साथ और भी रंग की कॉपियां परीक्षा में शामिल की गई हैं। जिससे कि विद्यार्थियों को हर परीक्षा में अलग रंग की कॉपी लिखने के लिए दी जाएगी। इसके साथ ही प्रत्येक उत्तर पुस्तिका में हर पन्ने में कोड भी दर्ज होगा। इससे कॉपियों में हेर फेर जैसा कोई काम नहीं हो पाएगा। इसके साथ ही इस साल विभाग सिलार्इ वाली उत्तर पुस्तिकाओं का भी इस्तेमाल किया है। जिससे कि कॉपियों के पन्ने अलग न हो सकें। 

UP Board exam 2020: 18 फरवरी से शुरू होंगी यूपी बोर्ड परीक्षा, परीक्षा की तैयारी के लिए समय प्रबंधन जरूरी

नकल माफिया करते थे उत्तर पुस्तिका में खेल 
पूरे देश में नकल के लिए कुख्यात अतरौलिया बोर्ड में नकल माफिया उत्तर पुस्तिकाओं में खेल करते थे। लिखी हुई उत्तर पुस्तिकाओं को वह विद्यार्थियों की कॉपियों से बदलते थे। इसमें वह लिखे हुए पन्नों को मूल कॉपी में जोड़ देते थे। ऐसी शिकायतों के बाद ही विभाग ने सिलाई वाली कॉपियां इस्तेमाल में ली है। इसके बाद अब हर दिन अलग रंग की उत्तर पुस्तिका मिलेगी और सभी कॉपियों के हर पन्ने में अलग कोड होंगे। इससे अगर कॉपी बदलने जैसी हरकत हुई तो मामला तुरंत पकड़ में आ जाएगा। 
नकल रोकने और गुणवत्ता पूर्ण परीक्षा कराने के लिए शासन स्तर से रंगीन उत्तर पुस्तिकाओं को परीक्षा में शामिल किया गया है। जिससे कि शिक्षा के स्तर और बोर्ड के परिणाम को बेहतर किया जा सके।
-डॉ. धर्मेंद्र शर्मा, जिला विद्यालय निरीक्षक 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Hindustan Special: UP Board 2020- This year students will take the exam in these special copies UP Board has used for the first time for the non-duplicate examination