DA Image
31 अक्तूबर, 2020|9:38|IST

अगली स्टोरी

हिन्दुस्तान हेल्पलाइन: DU SOL से नहीं कर सकते मॉस कम्युनिकेशन

hindustan helpline on du admission

हिन्दुस्तान की हेल्पलाइन पर मेल व व्हाट्सएप पर आए सवालों का जवाब दिया है डीयू के लक्ष्मीबाई कॉलेज की प्रिंसिपल डा.प्रत्यूष वत्सला ने-

सवाल- दिल्ली विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग या नॉन कॉलेजिएट वुमन एजुकेशन बोर्ड से मास कम्युनिकेशन किया जा सकता है? -हिमांशी मावी

जवाब- स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग व नॉन कॉलेजिएट वुमन एजुकेशन बोर्ड से मॉस कम्युनिकेशन नहीं कर सकते हैं। 

सवाल- मेरा 12वीं में 77 फीसदी अंक है। क्या मेरा दाखिला डीयू की दूसरी कटऑफ के तहत हो पाएगा?- अब्दुल मलिक

जवाब- यह अभी कहना मुश्किल है कि आपका दाखिला होगा कि नहीं। इसलिए आप दूसरी कटऑफ देखें।

सवाल- मैंने स्नातक के मेरिट आधारित कोर्स में दाखिला के लिए आवेदन किया है और डिजीलॉकर के माध्यम से अपनी मार्कशीट अपलोड की है लेकिन अब मेरी मूल मार्कशीट मिल गई है जिसे में अपलोड करना चाहता हूं तो नहीं हो रहा है मुझे क्या करना चाहिए? -मनोज 

जवाब- आप मार्कशीट को लेकर परेशान न हों। डिजीलॉकर मान्य है। अगर कॉलेज आपसे अलग से मार्कशीट मांगे तो आप कॉलेज को मेल कर सकते हैं। 

सवाल- स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग के दाखिले कब से शुरू हो रहे हैं?-कनीत भारद्वाज

जवाब- स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग के दाखिला जल्द ही शुरू होगा।

सवाल- मुझे बीकाम प्रोग्राम में दाखिला लेना है क्या इंफार्मेशन प्रैक्टिस को अपने बेस्ट ऑफ फोर में जोड़ सकती हूं?- स्नेहा

जवाब-यह लिस्ट बी में है इसलिए एक फीसदी बेस्ट ऑफ फोर से कटेगा।

सवाल-एसओएल में मैंने 66 फीसदी अंक पाया है क्या मेरा माइग्रेशन रेगुलर कॉलेज में हो सकता है?-राशि

जवाब- च्वाइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम के तहत माइग्रेशन कर सकते हैं। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Hindustan Helpline: Mass communication cannot be done with DU SOL