DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हिन्दुस्तान एक्सक्लुसिव: झारखंड में 10वीं और 12वीं में अब हर महीने टेस्ट

CBSE 12th exam 2019 (Photo: Hindustan)

राज्य में दसवीं (मैट्रिक)और 12वीं (इंटरमीडिएट) के छात्र-छात्राओं का हर महीने टेस्ट होगा। इसके लिए सिलेबस को महीने के लिहाज से बांटा जायेगा और इसी आधार पर 10वीं और 12वीं के छात्र-छात्राओं का मूल्यांकन होगा। 

स्कूली शिक्षा व साक्षरता विभाग ने इसके लिए झारखंड एकेडमिक कौंसिल (जैक) को निर्देश दे दिया है। झारखंड एकेडमिक कौंसिल ही 10वीं और 12वीं कक्षा के पाठ्यक्रमों को आठ महीने में बांटेगा। इसी आधार पर स्कूलों को प्रश्न दिये जायेंगे। इसका मूल्यांकन व अंक भी स्कूल स्तर पर दिये जायेंगे। हर महीने होने वाले टेस्ट के अंक मैट्रिक और इंटरमीडिएट के आंतरिक मूल्यांकन (इंटरनल असेस्टमेंट) से जुड़ेंगे। उन्हें मैट्रिक में हर विषय के 20 अंक व इंटरमीडिएट में 30 अंक आंतरिक मूल्यांकन के लिए इस साल से मिलने शुरू हुए हैं।

राज्य के प्लस टू स्कूलों में करीब 13 सौ शिक्षक मिल गये हैं। सभी को स्कूल भी आवंटित किये जा चुके हैं। वहीं, हाई स्कूलों में शिक्षकों का आवंटन जून महीने से हो सकेगा। लोकसभा चुनाव आचार संहिता की वजह से हाई स्कूल के चयनित शिक्षकों की अंतिम काउंसिलिंग पूरी नहीं हो सकी है। जिलों में अगले महीने से इसकी शुरुआत होगी और शिक्षकों की पदस्थापना की जायेगी। 

दसवीं और 12वीं में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं के लिए इस साल से हर महीने मूल्यांकन होगा। इसके लिए जैक को व्यवस्था करने को कहा गया है। स्कूलों को शिक्षक मिल रहे हैं, जिससे अगले साल से परिणाम और बेहतर होगा। 

अमरेंद्र प्रताप सिंह, प्रधान सचिव स्कूली शिक्षा व साक्षरता विभाग

मैट्रिक-इंटर में छात्र-छात्राओं का आंतरिक मूल्यांकन मंथली टेस्ट के आधार पर किया जायेगा। इसमें शामिल होने, अच्छा प्राप्तांक लाने वाले को अच्छे अंक दिये जायेंगे। इंटर आर्ट्स के रिजल्ट के बाद जैक इस पर काम शुरू करेगा। 

अरविंद प्रसाद सिंह, अध्यक्ष, जैक

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Hindustan Exclusive: Jharkhand Academic Council Ranchi in class 10th and 12th has every month test