ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News करियरपहले पास किया HPSC, फिर 2 बार UPSC, अब हैं IPS अधिकारी, जानें- आयुष यादव की कहानी

पहले पास किया HPSC, फिर 2 बार UPSC, अब हैं IPS अधिकारी, जानें- आयुष यादव की कहानी

जानें- हरियाणा के आईपीएस अधिकारी आयुष यादव के बारे में, जिन्होंने पहले ही प्रयास में पास की थी HPSC परीक्षा। जिसके बाद IPS अधिकारी बनने के लिए दो बार पास की यूपीएससी की परीक्षा। आइए जानते हैं कैसे हा

पहले पास किया HPSC, फिर 2 बार UPSC, अब हैं IPS अधिकारी, जानें- आयुष यादव की कहानी
Priyanka Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 21 Nov 2023 02:56 PM
ऐप पर पढ़ें

UPSC Success story: संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) परीक्षा हर साल सफलता की नई कहानियां गढ़ती है। इस परीक्षा में पास होना आसान नहीं होता है, लेकिन कुछ होनहार उम्मीदवार जो इस परीक्षा में लगातार प्रयास करते रहे हैं और इस परीक्षा में सफलता हासिल कर लेते हैं।

सफलता की कई कहानियों में से एक कहानी है हरियाणा कैडर के आईपीएस अधिकारी आयुष यादव की। जिन्होंने दो बार यूपीएससी की परीक्षा पास की है। आइए जानते हैं उनके बारे में।

आईपीएस अधिकारी आयुष यादव  हरियाणा के नारनौल  के निवासी हैं और एक मध्यम वर्गीय परिवार से ताल्लुक रखते हैं।
जब आयुष सिर्फ 8 साल के थे तब उनके पिता की मृत्यु हो गई थी। उनके पिता बीएसएनएल में काम किया करते थे। पिता के निधन के बाद उनकी मां उनके पद पर काम करती रहीं।

आयुष यादव पढ़ाई में हमेशा अच्छे थे। स्कूल समाप्त होने के बाद उन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री लेने का निर्णय लिया। जिसके बाद उन्होंने नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, कुरुक्षेत्र, हरियाणा में दाखिला लिया और यहां से  इलेक्ट्रॉनिक्स कम्युनिकेशन में इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की। शुरुआत से ही आयुष यादव अपने लक्ष्य के प्रति स्पष्ट थे। वह एक सिविल सर्वेंट बनना चाहते थे। इसलिए, उन्होंने कॉलेज से ग्रेजुएशन पूरी करने के बाद सिविल सर्विस परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी थी।

साल 2019 में, उन्होंने अपने पहले ही प्रयास में हरियाणा लोक सेवा आयोग (HPSC) की राज्य सेवा परीक्षा (SSC) पास कर ली। उनकी पोस्टिंग हरियाणा के एक्साइज एंड टैक्सेशन डिपार्टमेंट में हो गई थी। हालांकि,  वह शुरू से ही एक IPS अधिकारी बनना चाहते थे। वह अपनी नौकरी से खुश थे, लेकिन पूरी तरह से संतुष्ट नहीं थे। कुछ समय तक नौकरी करने के बाद उन्होंने यूपीएससी सीएसई की तैयारी शुरू कर दी थी।

नौकरी के साथ यूपीएससी की तैयारी करना कठिन था, लेकिन वह जानते थे, कि मंजिल को हासिल करने के लिए कई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। अपनी कड़ी मेहनत और  सही प्लानिंग के साथ पहले ही प्रयास में आयुष ने साल 2020 में यूपीएससी सीएसई परीक्षा पास कर ली थी। उन्होंने ऑल इंडिया 550वीं रैंक हासिल की। जिसके बाद उन्हें DANICS अधिकारी का पद मिला था। यह पद भारत के केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासन से संबंधित है।

आयुष यादव के मन में यूपीएससी की परीक्षा में सफल होने की खुशी थी, लेकिन उनका सपना एक आईपीएस अधिकारी बनना था। अपने सपने को पूरा करने के लिए उन्होंने दोबारा यूपीएससी परीक्षा देने का फैसला किया। उनकी मेहनत रंग लाई और UPSC सीएसई 2022 में 430 रैंक के साथ IPS अधिकारी का पद हासिल कर लिया था। बता दें, वह वह वर्तमान में हरियाणा कैडर में कार्यरत हैं।

 

 

Virtual Counsellor