ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरअर्द्धवार्षिक परीक्षा : पहली की मौखिक तो दूसरी से आठवीं की लिखित

अर्द्धवार्षिक परीक्षा : पहली की मौखिक तो दूसरी से आठवीं की लिखित

अर्द्धवार्षिक परीक्षा के कार्यक्रम में सुधार किया गया है। पहली के छात्र-छात्राओं को मौखिक तो दूसरी से आठवीं के विद्यार्थियों को लिखित परीक्षा देनी होगी। यह परीक्षा 12 से 18 अक्टूबर के बीच होगी।

अर्द्धवार्षिक परीक्षा : पहली की मौखिक तो दूसरी से आठवीं की लिखित
Yogesh Joshiकार्यालय संवाददाता,बिहारशरीफThu, 25 Aug 2022 10:56 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

अर्द्धवार्षिक परीक्षा के कार्यक्रम में सुधार किया गया है। पहली के छात्र-छात्राओं को मौखिक तो दूसरी से आठवीं के विद्यार्थियों को लिखित परीक्षा देनी होगी। यह परीक्षा 12 से 18 अक्टूबर के बीच होगी। जबकि, पहले की सूचना के अनुसार यह परीक्षा 19 से 25 सितंबर के बीच होनी थी। 19 से 22 अक्टूबर तक कॉपी जांच तो सात नवंबर को अभिभावकों के समक्ष रिजल्ट का प्रकाशन किया जाएगा। जिले में पहले से आठवीं कक्षाओं के कुल सवा चार लाख विद्यार्थी भाग लेंगे। खास बात यह कि दूसरी से आठवीं के छात्रों को लिखित के अलावा 100 अंक की सह शैक्षणिक गतिविधियों की परीक्षा देनी होगी।

पहली के बच्चों की परीक्षा पूरी तरह मौखिक होगी। मूल्यांकन हस्तक पुस्तिका में दिये गये मॉडल प्रश्न पत्र के पांच सेटों में से किसी एक सेट का वर्ग शिक्षक चुनाव करेंगे। उसी के आधार पर बच्चों की शैक्षणिक क्षमता का आकलन किया जाएगा। जबकि, दूसरी से आठवीं के विद्यार्थियों के लिए प्रश्नपत्र सह उत्तर पुस्तिका दी जाएगी। सभी स्कूलों को एक-एक सतत मूल्यांकन पंजी दी जाएगी।

क्वेश्चन पेपर रखना होगा गोपनीय:

सभी स्कूलों को परीक्षा से कम से कम दो दिन पहले क्वेश्चन पेपर दे दिये जाएंगे। उसकी गोपनीयता भंग न करने की जिम्मेवावरी एचएम की होगी। इस संबंध में उन्हें शपथपत्र देना होगा। परीक्षा शुरू होने से छह दिन पहले से लेकर परीक्षा खत्म होने के दो दिन बाद तक नियंत्रण कक्ष काम करेगा। इस कक्ष के संचालन की पूरी जिम्मेवारी डीईओ की होगी। वे अपने स्तर से शिक्षकों अथवा कर्मियों की ड्यूटी नियंत्रण कक्ष में लगाएंगे।

सह शैक्षणिक गतिविधियां:

100 अंक की सह शैक्षणिक गतिविधियों का मूल्यांकन किया जाना है। जो बच्चे नियमित और समय से स्कूल आते हैं, उन्हें पांच अंक दिया जाएगा। सहपाठियों, शिक्षकों व अन्य के साथ सहयोग की भावना रखने वाले बच्चों को चार अंक देने का प्रावधान है। जबकि, गणितीय खेल व कविता पाठ, प्रश्न पूछना, अभिव्यक्ति, खेल-कूद, गीत-गान, नेतृत्व क्षमता व सृजनात्मकता में अलग-अलग 10-10 अंक दिये जा सकेंगे। चित्र कला में माहिर छात्रों को आठ अंक का लाभ मिल सकेगा।

परीक्षा का कार्यक्रम:

तिथि : पहली पाली दूसरी पाली

12 अक्टूबर सामाजिक विज्ञान (3 से 8) विज्ञान (6 से 8)

13 अक्टूबर राष्ट्रभाषा हिन्दी (3 से 8) संस्कृत (6 से 8)

14 अक्टूबर सह शैक्षणिक गतिविधियां

15 अक्टूबर भाषा (हिन्दी/उर्दू) (1 से 5) भाषा (हिन्दी/उर्दू) (6 से 8)

16 अक्टूबर सह शैक्षणिक गतिविधियां

17 अक्टूबर अंग्रेजी (1 से 5) अंग्रेजी (6 से 8)

18 अक्टूबर गणित (1 से 5) गणित (6 से 8)

किस वर्ग में कितने छात्र:

पहली : 41,669

दूसरी : 57,725

तीसरी : 61,588

चौथी : 59,409

पांचवीं : 58,229

छठी : 46,981

सातवीं : 50,460

आठवीं : 49,522

अधिकारी बोले:

अर्द्धवार्षिक परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी गयी है। छात्रों के हिसाब से प्रश्नपत्र सह उत्तर पुस्तिका की छपवायी करायी जाएगी।- केशव प्रसाद, जिला शिक्षा पदाधिकारी

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें