DA Image
20 अक्तूबर, 2020|1:04|IST

अगली स्टोरी

गुजरात सरकार ने निजी स्कूलों को शुल्क में 25 प्रतिशत की कटौती करने को कहा

cat exam  symbolic pic

गुजरात सरकार ने कोरोना वायरस महामारी के कारण आर्थिक तंगी से प्रभावित स्कूल जाने वाले बच्चों के अभिभावकों को राहत देते हुए सभी निजी स्कूलों को वार्षिक स्कूल शुल्क में 25 प्रतिशत की कटौती करने को कहा है।

शिक्षा मंत्री भूपेंद्र सिंह चूड़ास्मा ने गांधीनगर में पत्रकारों को बताया कि स्कूलों के मालिकों ने वर्तमान शैक्षणिक वर्ष के दौरान छात्रों से 25 प्रतिशत कम शुल्क लेने पर सहमति व्यक्त की है।
उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक के दौरान अभिभावकों को राहत देने का निर्णय लिया गया। उन्होंने बताया कि यह निर्णय सीबीएसई और अंतरराष्ट्रीय बोर्डों सहित विभिन्न बोर्डों से संबद्ध सभी स्कूलों पर लागू है।

मंत्री ने बताया कि जिन माता-पिता ने पहले से ही पूरे साल के शुल्क का भुगतान कर दिया है, वे 25 प्रतिशत कटौती को समायोजित करने के बाद पैसों की वापसी के हकदार हैं।
एक अन्य राहत देते हुए चूड़ास्मा ने कहा कि महामारी के कारण क्योंकि स्कूलों में भौतिक रूप से काम नहीं हो रहा है तो वे परिवहन, पुस्तकालय, कंप्यूटर और खेल गतिविधियों से संबंधित शुल्क नहीं ले सकते हैं।

उन्होंने बताया कि पहले स्कूलों के मालिक केवल 10 प्रतिशत शुल्क की कटौती को स्वीकार करने को तैयार थे जबकि सरकार 25 प्रतिशत की कटौती पर जोर दे रही थी। चूड़ास्मा ने कहा कि अब, हमने 25 प्रतिशत शुल्क कटौती को लागू करने का फैसला किया है और हमें खुशी है कि स्कूल अब इसके लिए सहमत हो गए हैं। दो सप्ताह पहले गुजरात उच्च न्यायालय ने मामले में हस्तक्षेप करने से इनकार कर दिया था और स्कूल शुल्क कटौती पर फैसला करने के लिए सरकार को कहा था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Gujarat government asks private schools to cut fees by 25 percent