DA Image
23 मई, 2020|6:23|IST

अगली स्टोरी

फाइनल ईयर की परीक्षा न कराना UGC गाइडलाइंस का उल्लंघन होगा: महाराष्ट्र राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी कोश्यारी

clat 2020 exam date

महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से कहा कि वह छात्रों के हित में बिना देरी किए विश्वविद्यालयों में फाइनल ईयर एग्जाम कराने के मुद्दे का समाधान करें। मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में कोश्यारी ने कहा, ''विश्वविद्यालयों द्वारा वार्षिक परीक्षा का आयोजन नहीं करना विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के दिशानिर्देशों का उल्लंघन करने के बराबर है।' 
     
राज्य के उच्च एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत द्वारा अंतिम वर्ष की वार्षिक परीक्षा रद्द करने के लिए यूजीसी को पत्र लिखने पर राज्यपाल ने कड़ी आपत्ति जताई। उन्होंने मुख्यमंत्री से कहा कि वह अपने मंत्री को गैरजरूरी हस्तक्षेप से बचने के लिए उचित निर्देश दें। 
     
कोश्यारी ने पत्र में कहा, 'यह यूजीसी के दिशानिर्देशों के साथ-साथ महाराष्ट्र राजकीय विश्वविद्यालय अधिनियम-2016 के प्रावधानों का भी उल्लंघन है।'
    
राजभवन की ओर से जारी विज्ञाप्ति के मुताबिक राज्यपाल ने कहा कि मंत्री ने अंतिम वर्ष की वार्षिक परीक्षा रद्द करने की अनुशंसा यूजीसी से करने से पहले उन्हें अवगत नहीं कराया। राज्यपाल ने रेखांकित किया कि विश्वविद्यालय अधिनियम के प्रवाधानों के तहत विश्वविद्यालयों को सफल छात्रों को उपाधि देने के लिए परीक्षा कराने का अधिकार है और यह उनका कर्तव्य है। 

कोश्यारी ने यह भी ध्यान दिलाया कि वार्षिक परीक्षा कराए बिना अंतिम वर्ष के छात्रों को उपाधि देना न तो नैतिक है और न ही उचित है। साथ ही यह विश्वविद्यालय अधिनियम के प्रावधानों का भी उल्लघंन है। उन्होंने टिप्पणी की कि परीक्षा लिए बिना छात्रों को उपाधि देने से उसकी उच्च शिक्षा, उन्नयन और रोजगार पर विपरीत प्रभाव पड़ेगा। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Governor Bhagat Singh Koshyari asks CM Uddhav Thackeray to resolve issue of final year exam without delay