DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राज्यसभा ने शुरू की 22.50 लाख रुपये की शोधवृति, इंटर्नशिप में हर माह 10000 रुपये

parliament photo ht

राज्यसभा ने संसदीय प्रक्रिया और कामकाज पर शोध के लिए डॉ. एस. राधाकृष्णन पीठ के तहत 22.50 लाख रुपये की शोधवृत्ति शुरू की है। साथ ही साढ़े आठ लाख रुपये की चार फैलोशिप भी दी जाएंगी। इसके अलावा स्नातक और स्नातकोत्तर के छात्रों को दो माह की इंटर्नशिप कराई जाएगी। 

 राज्यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडू ने इस योजना को मंजूरी दे दी है। इसके तहत संसदीय समितियों के प्रभावों और सामाजिक-आर्थिक बदलाव में कानूनों की भूमिका को लेकर भी अध्ययन व शोध कार्य किए जाएंगे। इस योजना में कुल 58.50 लाख रुपये का अनुदान दिया जाएगा। 

योजना के तहत स्नातक और स्नातकोत्तर के दस छात्रों को गर्मी की छुट्टियों में दो माह की इंटर्नशिप कराई जाएगी। इस दौरान उन्हें राज्यसभा के कामकाज के सभी पहलुओं से अवगत कराया जाएगा और हर माह 10-10 हजार रुपये की छात्रवृति दी जाएगी। डॉ. एस. राधाकृष्णन पीठ की अवधि दो वर्ष होगी, जबकि शोधवृति की अवधि 18 महीने की होगी। राज्यसभा ने राधाकृष्णन पीठ और चार अन्य शोधवृतियों के लिए इस माह के अंत तक आवेदन आमंत्रित किए हैं।

यूपी बोर्ड : इन छात्रों को मिलेंगे हर साल 41000 रुपये, धीरूभाई अंबानी स्कॉलरशिप पाने का मौका

यह योजना राज्यसभा सदस्यों, दोनों सदनों के मौजूदा व पूर्व महासचिवों, अग्रणी शिक्षाविदों और शोधकतार्ओं के साथ व्यापक विचार-विमर्श के बाद तैयार की गई है। शोध और अध्ययन रिपोर्ट समय पर पूरी हो, इसके लिए अनुदान राशि उसकी प्रगति के आधार पर विभिन्न चरणों में जारी की जाएगी। इस पर हर छह महीने में रिपोर्ट देनी होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:fellowship on Indian Parliamentary Procedures Research Studies : 10000 rupees every month