DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   करियर  ›  बोर्ड एग्जाम के लिए इंग्लिश की ऐसे करें तैयारी

करियरबोर्ड एग्जाम के लिए इंग्लिश की ऐसे करें तैयारी

नई दिशाएं,नई दिल्लीPublished By: Pankaj
Wed, 17 Jan 2018 12:52 PM
बोर्ड एग्जाम के लिए इंग्लिश की ऐसे करें तैयारी

विषय: इंग्लिश
कक्षा: 12वीं 

वैसे तो सभी सब्जेक्ट्स बहुत महत्वपूर्ण होते हैं, लेकिन इंग्लिश पर छात्रों को कुछ ज्यादा ध्यान देने की जरूरत इसलिए पड़ती है, क्योंकि किसी भी क्षेत्र में करियर के लिहाज से यह विषय सबसे पहले काम आता है। हालांकि यह कोई कठिन विषय नहीं है, लेकिन इस पेपर में ग्रामर और सही स्पेलिंग का महत्व सबसे अधिक होता है, क्योंकि अगर पेपर में इन दोनों चीजों का ध्यान ना रखा जाए तो नम्बर नहीं मिलते। इसलिए ग्रामर का बेसिक ज्ञान और सही स्पेलिंग्स आना बेहद जरूरी है।


फॉर्मेट  

  • यह पेपर कुल 100 अंकों का होता है, जो तीन खंडों में विभाजित होता है। पहला भाग रीडिंग सेक्शन होता है, जो 30 अंकों का आता है, दूसरा भाग एडवांस्ड राइटिंग स्किल्स का होता है, जिसमें कुल मिलाकर 30 अंकों के प्रश्न पूछे जाते हैं। तीसरा भाग लिटरेचर सेक्शन का होता है , जो कुल 40 अंकों का आता है। इंग्लिश का पेपर पूरी तरह थ्योरी बेस्ड होता है। 
  • इसमें इंटरनल असेसमेंट के नम्बर नहीं जुड़ते।
  • शुरू से ही तैयारी लिख-लिख कर करनी चाहिए।
  • लिखने से  गलतियां होने की गुंजाइश कम हो जाती है।
  • इस पेपर में तीनांे खंडों का बराबर का महत्व होता है। इसलिए तीनों की तैयारी समान रूप से ध्यान लगा कर करनी चाहिए। 
  • मार्िंकग 
  • इस पेपर का फॉर्मेट कुछ इस तरह से तैयार किया जाता है कि छात्रों का बेसिक इंग्लिश ज्ञान जांचा जा सके। पाठ्य पुस्तक के अलावा अनसीन पैसेज बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। साथ ही आर्टिकल राइटिंग और लेटर राइटिंग जैसे टॉपिक्स की भी विशेष रूप से प्रैक्टिस करनी चाहिए।
  • पहले खंड में कुल 30 अंक के 3 प्रश्न आते हैं।
  • कुल मिलाकर दो पैसेज आते हैं, जो 12 अंक और 10 अंक के होते हैं।
  • एक प्रश्न नोट मेकिंग पर आधारित आता है , जो 8 अंक का होता है।
  • दूसरे खंड में कुल 30 अंक के चार सवाल आते हैं।
  • शॉर्ट राइटिंग स्किल का प्रश्न 4 अंकों का आता है।
  • लेटर राइटिंग का प्रश्न 6 अंकों का होता है।
  • आर्टिकल राइटिंग 10 अंकों की आती है। यह प्रश्न कुछ लम्बा होता है।
  • एक अन्य प्रश्न 10 अंकों का आता है। इसमें डिबेट, स्पीच और आर्टिकल राइटिंग पर आधारित प्रश्न पूछा जाता है। इसका उत्तर विस्तार से लिखना होता है।
  • तीसरे खंड में कुल 6 सवाल आते हैं।
  • 4 अंक का एक प्रश्न पाठ्य-पुस्तक में दी गयी पोएट्री पर आधारित होता है।
  • 4 प्रश्न 3-3 अंकों के आते हैं, जिनमें प्रोस और पोएट्री पर आधारित प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • वैल्यू बेस्ड प्रश्न 6 अंक का आता है, जिसमें इंटरनल चॉइस आती है। यह पाठ पुस्तक पर ही आधारित 
  • होता है।
  •  2 प्रश्न 6-6 अंकों के आते हैं, जो पाठ्य-पुस्तक के चरित्रों और घटनाओं पर आधारित होते हैं।

टिप्स 

  • प्रश्न-पत्र मिलते ही सीधे लिखने की बजाय सबसे पहले उसे आराम से पढ़ें।
  • पूरा पेपर कुल तीन खंडों में विभाजित होता है, इसलिए औसतन प्रत्येक भाग के लिए एक घंटे का समय निकालें।
  • जिन सवालोंं के उत्तर ज्यादा अच्छे तरीके से आते हैं, उनके उत्तर पहले लिख लें।
  • तीनों सेक्शन्स को एक साथ ना मिलाएं। एक बार में एक ही सेक्शन को हल करें।
  • यदि समय से पहले पेपर पूरा हो जाये तो बचा हुआ समय अपनी उत्तर-पुस्तिका को जांचने में इस्तेमाल करें।
  • इंग्लिश से डरें नहीं, क्योंकि हिन्दी की तरह यह भी एक लैंग्वेज ही है।
  • अगर ग्रामर के बेसिक्स पर पकड़ मजबूत होगी तो नम्बर अवश्य अच्छे आयेंगे।


सामान्य गलतियां

  • राइटिंग का विशेष ध्यान रखें, क्योंकि पेपर जल्दी करने के चक्कर में छात्र अकसर लिखावट की तरफ ध्यान 
  • नहीं देते।
  • पंकचुएशन मार्क्स का विशेष रूप से ध्यान रखें, वरना नम्बर कट सकते हैं।
  • कॉ्प्रिरहेंशन पैसेज के प्रश्नों में उत्तर सटीक ही लिखें और अपनी तरफ से ना बनाएं।
  • उत्तर की शुरुआत करने का आइडिया अकसर प्रश्न से ही मिल जाता है, इसलिए प्रश्न को ध्यान से पढ़ें।
  • यदि कोई उत्तर भूल जाए तो उसे बैठ कर सोचने में समय खराब ना करें, बल्कि दूसरे प्रश्न का उत्तर लिखना शुरू कर दें।
  • फुल स्टॉप और कैपिटल लैटर की गलती छात्र अकसर कर देते हैं और नम्बर कट जाते हैं, इसलिए इनका विशेष ध्यान रखें।
  • पेपर की तैयारी लिख कर ही करें, ताकि गलतियां पकड़ में आ सकें और उन्हें सुधारा जा सके।
  • कठिन स्पेलिंग्स को लिख-लिख कर याद करें।
  • पिछले सालों के प्रश्न-पत्र अवश्य हल करें।
  • सैम्पल पेपर परीक्षा की तैयारी में बहुत मदद करते हैं, इसलिए उनकी प्रैक्टिस करना ना भूलें। 
     

सुनीता गुप्ता
इंग्लिश लेक्चरर, शारदा सेन राजकीय कन्या सवार्ेदय विद्यालय, ब्लॉक-20, त्रिलोक पुरी दिल्ली 

संबंधित खबरें