DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

डीयू में कल वोटिंग, अंतिम दिन सभी छात्र संगठनों ने ताकत झोंकी

dusu election

दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ (डूसू) चुनाव के लिए प्रचार मंगलवार रात आठ बजे के करीब थम गया। इसके साथ ही मतदान के लिए उल्टी गिनती शुरू हो गई है। विश्वविद्यालय प्रशासन ने मतदान की तैयारियां भी शुरू कर दी हैं। डीयू में केंद्रीय पैनल समेत अन्य सभी सीटों के लिए 12 सितंबर को मतदान होना है।

छात्रसंघ चुनाव के नतीजे मतदान के बाद शुक्रवार को जारी हो जाएंगे। दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से मिली जानकारी के अनुसार, शुक्रवार सुबह 8:30 बजे से मतगणना की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। उम्मीद है कि दोपहर बाद से नतीजे आने शुरू हो जाएंगे। इसमें केंद्रीय पैनल के सभी सदस्यों समेत कॉलेज के सभी निर्वाचित पदाधिकारियों के परिणाम जारी हो जाएंगे। विश्वविद्यालय प्रशासन का कहना है कि इसके लिए सारी तैयारियां पूरी कर ली गई। किसी भी तरह की दिक्कत न हो इसके लिए हम तैयार हैं।

DUSU polls 2019: डीयू छात्रसंघसंगठनों के घोषणा पत्र में पुराने मुद्दे ही हावी

डीयू में प्रचार के अंतिम दिन मंगलवार को अवकाश होने की वजह से छात्र संगठनों के लिए प्रचार विशेष चुनौती भरा रहा। उम्मीदवारों ने नॉर्थ कैंपस के छात्रावास और आसपास के पीजी में पहुंचकर अपने पक्ष में छात्रों से मतदान करने की अपील की। आमतौर पर जहां रात आठ बजे के बाद प्रचार खत्म हो जाता हैवहीं उसके बाद भी छात्र अपने स्तर पर छात्रों से मिलकर उन्हें लुभाने का प्रयास करते रहे।

एबीवीपी की अपील यात्रा : प्रचार के अंतिम दिन एबीवीपी ने छात्रावास व पीजी में जाकर छात्रों से संपर्क किया। इसके साथ ही देर शाम को एबीवीपी ने नॉर्थ कैंपस में छह किलोमीटर की वोट अपील यात्रा निकाली। एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने देशभक्ति के तरानों के बीच एबीवीपी को दोबारा डूसू सौंपने की मांग छात्रों से की। एबीवीपी के दिल्ली प्रदेश संगठन मंत्री सिद्धार्थ यादव ने बताया कि सुबह सभी प्रत्याथियों समेत संगठन की ओर से गठित टीमों ने दोनों कैंपसों के छात्रावास और पीजी में छात्रों से संपर्क किया। शाम को एबीवीपी ने 100 फीसदी मतदान की मांग और पक्ष में मतदान का समर्थन मांगते हुए कमला नगर व विजय नगर में यात्रा का आयोजन किया, जिसे आम छात्रों का भरपूर समर्थन मिला है।

डीयू छात्रसंघ चुनाव: एनएसयूआई अध्यक्ष पद के उम्मीदवार का सिर फोड़ा

एनएसयूआई ने पक्ष में वोट मांगे : डीयू छात्रसंघ चुनाव के लिए एनएसयूआई ने भी अंतिम दिन छात्रावास और पीजी में पहुंचकर पक्ष में मतदान करने की अपील की। एनएसयूआई ने डीयू में सबको समान अवसर उपलब्ध कराने के मुद्दे पर छात्रों ने वोट मांगा। एनएसयूआई के मीडिया प्रभारी मोहम्मद अली के अनुसार मंगलवार को एनएसयूआई की अलग-अलग टीमों ने अलग-अलग प्रचार की कमान संभाली। नॉर्थ-साउथ कैंपस में स्थिति छात्रावास के साथ ही दोनों कैंपसों के पास पड़ने वाले पीजी में जाकर एनएसयूआई के उम्मीदवारों ने समर्थन मांगा। हमने छात्रों को एबीवीपी की गुंडागर्दी की राजनीति से लेकर, उनकी तरफ से 22 लाख रुपये चाय पर खर्च करने के बारे में बताया। देश के विभिन्न हिस्सों व जाति समूह से आए छात्रों को डीयू में समान अवसर दिलाने का वादा किया है।

आइसा ने दिखाया दम : प्रचार के आखिरी दिन मंगलवार को आइसा ने भी अपना दम दिखाया। आइसा के उम्मीदवारों ने कैंपस खुला ना होने की वजह से छात्रावास में पहुंच कर अपने सीट बढ़ाने, जेंडर सेल गठित करने, रियायती मूल्यों में मेट्रो पास उपलब्ध कराने जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर पर छात्रों का साथ मांगा। इस मौके पर आइसा की दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष कंवलप्रीत ने बताया कि प्रचार के आखिरी दिन छात्रों की तरफ से खूब समर्थन मिला है। प्रचार के लिए निर्धारित दो दिनों को नाकाफी बताते हुए इसे बढ़ाने की भी मांग की।

 दिल्ली विश्वविद्यालय छात्रसंघ के लिए 12 सितंबर को मतदान प्रस्तावित है। इसके तहत छात्रसंघ अध्यक्ष समेत केंद्रीय पैनल के सभी सदस्यों और कॉलेज के अध्यक्ष समेत अन्य पदाधिकारियों के निर्वाचन के लिए गुरुवार को मतदान की प्रक्रिया आयोजित की जाएगी। इसमें ईवीएम के माध्यम से छात्र अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। वैसे छात्र शुरुआत से ही वैलेट पेपर से मतदान करने की मांग कर रहे हैं। अगर ऐसा नही होता है तो कम से कम वीवीपैट मशीन का प्रयोग करने की मांग है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:DUSU Election 2019 Voting in DU tomorrow last day all student organizations showered strength