ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ करियरDU:फैकल्टी ऑफ लॉ के छात्र कर रहे हैं परीक्षा स्थगित करने की मांग, हो रहा है प्रोटेस्ट

DU:फैकल्टी ऑफ लॉ के छात्र कर रहे हैं परीक्षा स्थगित करने की मांग, हो रहा है प्रोटेस्ट

दिल्ली विश्वविद्यालय के फैकल्टी ऑफ लॉ के छात्रों ने सोमवार को अपनी परीक्षा स्थगित करने और दो पेपरों के बीच पर्याप्त अंतर सुनिश्चित करने के लिए डेट शीट में बदलाव की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन किया। छा

DU:फैकल्टी ऑफ लॉ के छात्र कर रहे हैं परीक्षा स्थगित करने की मांग, हो रहा है प्रोटेस्ट
Priyanka Sharmaलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीMon, 08 Aug 2022 08:27 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

दिल्ली विश्वविद्यालय के फैकल्टी ऑफ लॉ के छात्रों ने अपनी परीक्षा स्थगित करने और दो पेपरों के बीच पर्याप्त अंतर सुनिश्चित करने के लिए डेट शीट में बदलाव की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन किया। छात्र कैंपस लॉ सेंटर (CLC) के प्रशासन कार्यालय के बाहर जमा हो गए और नारेबाजी की। उन्होंने दावा किया कि ऑनलाइन कक्षाएं अभी भी चल रही हैं क्योंकि उनका सिलेबस अभी पूरा नहीं हुआ है, लेकिन परीक्षाएं 10 अगस्त से निर्धारित की गई हैं।

सेकंड ईयर छात्र शक्ति सिंह ने कहा, "करीब 200 छात्रों ने विरोध प्रदर्शन किया और मांगें उठाईं। यह लगातार तीसरा दिन है जब हम भूख हड़ताल कर रहे हैं। छात्रों में से एक कल भी विरोध प्रदर्शन के दौरान गिर गया।"

यहां पढ़ें- CUET DU Admission: दिल्ली विश्वविद्यालय में एडमिशन प्रक्रिया अगले सप्ताह से, सीट खाली होने पर स्पॉट काउंसलिंग से से मिलेगा दाखिला

उन्होंने कहा, "हम चाहते हैं कि परीक्षा एक सप्ताह के लिए स्थगित कर दी जाए ताकि तैयारी के लिए पर्याप्त समय मिल सके। विश्वविद्यालय हमारी मांगों पर कोई ध्यान नहीं दे रहा है।"

सेकंड ईयर के एक अन्य छात्र स्वप्निल गुप्ता ने दावा किया कि वे पहले फोन कॉल और ईमेल के माध्यम से प्रशासन तक पहुंचे, लेकिन कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली। उन्होंने कहा, "हमें उम्मीद थी कि प्रशासन कार्यालय सोमवार को हमारी मांगों के बारे में हमसे बात करेगा, लेकिन कोई भी कार्यालय में मौजूद नहीं था।"

इससे पहले परीक्षा के डीन डीएस रावत ने कहा था कि सेमेस्टर शुरू होने से पहले छात्रों को जारी किए गए शैक्षणिक कैलेंडर में परीक्षा की तारीख का जिक्र था। उन्होंने कहा कि विभाग की भूमिका यह जांचना है कि क्या उन्होंने रजिस्ट्रार द्वारा जारी शैक्षणिक कार्यक्रम का पालन किया है।

 

epaper