ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News करियरDU PhD Admission 2024 : दिल्ली विश्वविद्यालय में पीएचडी दाखिले की प्रक्रिया बदली, गर्मी की छुट्टियां घटीं

DU PhD Admission 2024 : दिल्ली विश्वविद्यालय में पीएचडी दाखिले की प्रक्रिया बदली, गर्मी की छुट्टियां घटीं

यूजीसी के निर्देशों के चलते दिल्ली विश्वविद्यालय ने दाखिला प्रक्रिया में बड़ा बदलाव किया है। अब राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा (NET) के अंकों के से ही पीएचडी दाखिले के लिए आवेदन कर सकेंगे। इस संबंध में डीय

DU PhD Admission 2024 : दिल्ली विश्वविद्यालय में पीएचडी दाखिले की प्रक्रिया बदली, गर्मी की छुट्टियां घटीं
Alakha Singhप्रमुख संवाददाता,नई दिल्लीSat, 18 May 2024 08:03 AM
ऐप पर पढ़ें

DU PhD Admission 2024 : विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की ओर से जारी अधिसूचना के बाद दिल्ली विश्वविद्यालय ने अपने यहां पीएचडी दाखिला प्रक्रिया में बदलाव करने की घोषणा की है। डीयू ने इस बाबत एक नोटिफिकेशन भी निकाला है। डीयू ने कहा कि पीएचडी में दाखिले नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट (नेट) के अंकों के आधार पर होंगे। डीयू की प्रवेश शाखा की ओर से जारी अधिसूचना में कहा गया है कि विश्वविद्यालय उन विषयों के लिए अलग से परीक्षा आयोजित कर सकता है, जिनकी परीक्षा यूजीसी नेट आयोजित नहीं करता है और वह कोर्स विश्वविद्यालय में संचालित होते हैं। पीएचडी के लिए सूचना बुलेटिन विश्वविद्यालय की वेबसाइट (www.admission.uod.ac.in) पर अपलोड किया जाएगा। 

डीयू ने इस सत्र से यूजीसी के प्रवेश नियमों को मंजूरी दे दी है। निर्देश के मुताबिक, जेआरएफ करने वाले छात्र पीएचडी प्रवेश के लिए सीधे आवेदन कर सकेंगे और वे सहायक प्राध्यापक के लिए भी आवेदन करने के पात्र होंगे। जेआरएफ कर चुके छात्रों का पीएचडी में प्रवेश 100 प्रतिशत साक्षात्कार पर आधारित होगा। नेट कर चुके उम्मीदवारों को पीएचडी प्रवेश और सहायक प्राध्यापक में नियुक्ति के लिए नेट स्कोर को 70 और साक्षात्कार को 30अधिभार दिया जाएगा। अधिक जानकारी https//admission.uod. a c.in/userfiles/downloads/15052024_PhD-No tice.pdf से प्राप्त कर सकते हैं।

परीक्षा-मूल्यांकन के कारण छुट्टियां घटाईं
दिल्ली विश्वविद्यालय ने अपने एकेडमिक कैंलेंडर में बदलाव किया है। डीयू ने ग्रीष्मकालीन अवकाश की अवधि घटा दी है। पहले यह तिथि 7 जून से 21 जुलाई थी, जिसे घटाकर 14 जून से 21 जुलाई कर दिया गया है। विश्वविद्यालय के इस फैसले की कई शिक्षक आलोचना कर रहे हैं। हालांकि, डीयू के रजिस्ट्रार विकास गुप्ता का कहना है कि यह बदलाव छात्रहित में किया गया है। इस दौरान परीक्षाएं हैं और कॉपियों का मूल्यांकन भी कराना है, इसलिए यह बदलाव किया गया है।

Virtual Counsellor