ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरDU Admission 2023: दिल्ली विश्वविद्यालय में रिक्त सीटों पर मॉपअप राउंड नहीं होगा

DU Admission 2023: दिल्ली विश्वविद्यालय में रिक्त सीटों पर मॉपअप राउंड नहीं होगा

दिल्ली विश्वविद्यालयों के केवल उन कॉलेजों में ही दूसरे चरण की मॉपअप राउंड की प्रक्रिया होगी जहां 15 फीसदी से ज्यादा सीटें रिक्त हैं। यानी बाकी कॉलेजों में रिक्ति सीटों पर मॉपअप राउंड नहीं होगा। डीयू म

DU Admission 2023: दिल्ली विश्वविद्यालय में रिक्त सीटों पर मॉपअप राउंड नहीं होगा
Alakha Singhअभिनव उपाध्याय,नई दिल्लीSun, 22 Oct 2023 08:48 AM
ऐप पर पढ़ें

DU Admission 2023: दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) अब बची हुई सीटों के लिए मॉपअप राउंड शुरू नहीं करेगा। यह जानकारी डीयू के रजिस्ट्रार डॉ. विकास गुप्ता ने दी। डीयू में स्नातक दाखिला समाप्ति की घोषणा के बाद विभिन्न पाठ्यक्रमों में लगभग पांच हजार सीटें बची थी। इसके बाद यूजीसी के दिशा-निर्देशों पर डीयू ने उन कॉलेजों में दाखिला प्रक्रिया मॉप अप राउंड के साथ करने का निर्देश दिया, जहां पर 15 फीसदी से अधिक सीटें रिक्त थी। ऐसे 13 कॉलेज थे। हालांकि, मॉप अप राउंड के बाद भी इन कॉलेजों में सीटें रिक्त हैं। ऐसी संभावना जताई जा रही थी कि डीयू बची हुई सीटों के लिए मॉप अप राउंड का दूसरा चरण शुरू करेगा।

डीयू दो नए परिसर का विस्तार करेगा
दिल्ली विश्वविद्यालय दो नए कैंपस में विस्तार की योजना बना रहा है। इनमें छात्र-छात्राओं को लाइब्रेरी समेत अन्य आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। डीयू के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कैंपस लॉ सेंटर 2 द्वारका और कैंपस लॉ सेंटर 1 सूरजमल विहार में स्थानांतरित होगा। डीयू के पास द्वारका सेक्टर-22 में लगभग 2 एकड़ जमीन है। इसके अलावा डीयू को डीडीए ने नजफगढ़ स्थित रोशनपुरा गांव में 34 एकड़ जमीन 1989 में आवंटित की थी। पूर्व की योजनाओं के अनुसार यहां भी डीयू की 16.79 एकड़ भूमि पर कॉलेज बनाने की योजना है। डीयू के द्वारका कैंपस में छात्रों की सुविधाओं के लिए आधुनिक परिसर तैयार किया जाएगा। इसमें कक्षाओं के अलावा हॉस्टल, लाइब्रेरी व अन्य सुविधाएं होंगी।

पूर्वी कैंपस 2026 तक बनने की उम्मीद डीयू कुलपति प्रो. योगेश सिंह ने उम्मीद जताई है कि पूर्वी कैंपस 2026 तक बन सकता है। पूर्वी दिल्ली स्थित सूरजमल विहार में करीब 15.24 एकड़ जमीन पर नया कैंपस बनाने की तैयारी है। इसका काम दिसंबर या अगले वर्ष शुरू हो जाएगा। डीयू के एक अधिकारी का कहना है कि पूर्वी दिल्ली का यह कैंपस आधुनिक सुविधाओं से लैस होगा। यहां पढ़ाई के अलावा आवासीय सुविधाएं, हॉस्टल आदि भी बनाए जाएंगे। भविष्य की शैक्षणिक जरूरतों को ध्यान में रखकर यह कैंपस तैयार किया जाएगा।

तीन इमारत अगले साल तक बनेंगी
डीयू में तीन इमारतों का वर्चुअल शिलान्यास प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर चुके हैं। इंस्टीट्यूट आफ एमिनेंस, फैकल्टी आफ टेक्नोलाजी और कंप्यूटर सेंटर, यह तीनों इमारतें अगले साल तक बनने की उम्मीद है। उत्तरी परिसर में 200 करोड़ की लागत से बन रही इंस्टीट्यूट आफ एमिनेंस की इमारत अगले वर्ष तक तैयार हो जाएगी। फैकल्टी ऑफ टेक्नालाजी 195.65 करोड़ की लागत से और कंप्यूटर सेंटर 87.29 करोड़ की लागत से तैयार होगा। इनमें से कुछ इमारतों का निर्माण नार्थ कैंपस में शुरू हो गया है। इसके अलावा डीयू के उत्तरी परिसर के ढाका काम्प्लेक्स में छात्राओं के लिए 1016 बेड का छात्रावास 161 करोड़ से तैयार किया जाएगा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें