CTET 2018: centers trouble CTET exam candidate - CTET 2018: सीटीईटी में पेपर से ज्यादा सेंटरों ने किया परेशान, परीक्षा के बाद लगा जाम DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

CTET 2018: सीटीईटी में पेपर से ज्यादा सेंटरों ने किया परेशान, परीक्षा के बाद लगा जाम

ctet 2018

वाराणसी में रविवार को केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (सीटीईटी) के परीक्षार्थियों की भीड़ उमड़ी। दो पालियों में हुई इस परीक्षा में करीब एक लाख परीक्षार्थी शामिल हुए। कुल 1.12 लाख परीक्षार्थी पंजीकृत थे। पेपर से ज्यादा परीक्षार्थी अपने सेंटरों और यातायात व्यवस्था को लेकर परेशान हुए। अनेक परीक्षार्थी केन्द्रों पर समय से नहीं पहुंच सके। उनकी परीक्षा छूट गई। परीक्षा समाप्त होने के बाद अनेक परीक्षार्थी पैदल ही कैंट स्टेशन की ओर जाते दिखे। 

CTET 2018: इस तारीख को आ सकती है सीटीईटी परीक्षा की answer key, देखते रहें ctetnic.in

परीक्षा के लिए बीएचयू, सीबीएसई और यूपी बोर्ड के 135 स्कूलों को केंद्र बनाया गया था। कई परीक्षा केंद्र शहर से बाहर थे। वहां तक पहुंचने में बाहर से आने वाले परीक्षार्थियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। ऑटो चालकों ने मौके का फायदा उठाते हुए मनमाना किराया वसूला। गाजीपुर से परीक्षा देने आई अल्पना का कहना था कि परीक्षा केंद्रों की दूरी ने काफी परेशान किया। कुछ परीक्षार्थियों का कहना था कि प्रवेशपत्र पर केन्द्र बने विद्यालयों के पते सही नहीं थे। 

CTET 2018: 16 लाख से ज्यादा अभ्यर्थियों ने दी सीटेट परीक्षा, डिजि लॉकर से मिलेगी मार्कशीट

जगरदेवपुर केन्द्र पर हंगामा
जगरदेवपुर स्थित एक विद्यालय के पते में पिनकोड सही नहीं था। यहां के कई परीक्षार्थी दूसरे विद्यालय पहुंच गए। वहां से उन्हें सही पते की जानकारी मिली। सही जगह पहुंचने तक उनकी परीक्षा छूट गई। कई बार अनुरोध करने के बाद भी जब उन्हें परीक्षा केंद्र में प्रवेश की अनुमति नहीं मिली तो उन्होंने काफी हंगामा किया। किसी तरह उन्हें शांत कराया गया। उनमें कुछ ने दूसरी पाली में परीक्षा दी।

TET 2018: गणित और अंग्रेजी के सवालों ने परीक्षार्थियों के छुड़ाए पसीने

परीक्षा के बाद लगा जाम
दूसरी पाली की परीक्षा समाप्त होने के जब परीक्षार्थी केंद्रों से बाहर निकले तो पूरा शहर जाम की चपेट में आ गया। बीएचयू में सर्वाधिक 12 हजार परीक्षार्थी थे। वहां से परीक्षार्थी स्टेशन जाने के लिए सड़क पर आए तो लंका क्षेत्र में जाम की स्थिति बन गई। टेम्पो में जगह पाने के लिए मारामारी हुई। बड़ी संख्या में परीक्षार्थी पैदल ही स्टेशन की ओर बढ़ गए। इसमें बड़ी संख्या में महिलाएं थीं, जिनकी गोदी में बच्चे थे। 

90 फीसदी परीक्षार्थी हुए शामिल 
सीबीएसई के सिटी कोआर्डिनेटर वीके मिश्र ने दावा किया है कि पंजीकृत परीक्षार्थियों में 90 फीसदी ने परीक्षा दी। सभी केंद्रों पर परीक्षा शांतिपूर्वक होने की सूचना है। पहली पाली की परीक्षा सुबह 9.30 से 12 बजे तक और दूसरी पाली की परीक्षा 2 से 4.30 बजे तक हुई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:CTET 2018: centers trouble CTET exam candidate