ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरCSBC Constable Bharti: पेपर लीक केस में जनता से भी मिल रहीं सूचनाएं

CSBC Constable Bharti: पेपर लीक केस में जनता से भी मिल रहीं सूचनाएं

CSBC बिहार पुलिस सिपाही भर्ती परीक्षा का पेपर एक अक्टूबर को परीक्षा से पहले लीक हो गया था। पेपर लीक के चलते परीक्षा रद्द कर दी गई थी, अब जांच एजेंसी मामले की पड़ताल में लगीं तो नए-नए खुलासे हो रहे हैं

CSBC Constable Bharti: पेपर लीक केस में जनता से भी मिल रहीं सूचनाएं
Alakha Singhहिन्दुस्तान ब्यूरो,पटनाTue, 17 Oct 2023 08:53 AM
ऐप पर पढ़ें

CSBC Constable Bharti Paper Leak: सिपाही परीक्षा पेपर लीक मामले की जांच ईओयू की गठित 23 सदस्यीय टीम कर रही है। इस जांच में अधिक से अधिक जानकारी एकत्र करने के लिए ईओयू ने हाल ही में एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। इसपर एक दर्जन से अधिक फोन आ चुके हैं।

हेल्पलाइन नंबर पर लोग कई तरह की जानकारी दे रहे हैं। पेपर लीक को लेकर अलग-अलग तरह की सूचनाएं ईओयू को निरंतर प्राप्त हो रही है। हालांकि इसमें अधिकांश सूचनाएं इधर-उधर की रहती हैं या मुद्दे से ज्यादा सरोकार रखने वाली नहीं होती हैं। परंतु कुछ काम की भी सूचनाएं हैं, जिनपर आगे की तफ्तीश चल रही है। इस मामले में ईओयू की टीम जल्द ही गिरफ्तार लोगों में कुछ को रिमांड पर लेकर पूछताछ करने की तैयारी में है। कुछ लोगों से दूसरी बार पूछताछ हो सकती है। इस मामले से जुड़े अब तक जब्त सभी अहम साक्ष्यों का वैज्ञानिक अनुसंधान कराया जा रहा है। कई और लोगों की गिरफ्तारी हो सकती है।

इधर, बिहार राज्य सिपाही चयन पर्षद की तरफ से एक इंस्पेक्टर रैंक के पदाधिकारी को जांच में हर तरह का सहयोग प्रदान करने के लिए नोडल पदाधकिारी नियुक्त किया गया है। ईओयू के स्तर से पेपर लीक मामले में जितनी तरह के सवाल किए जा रहे हैं या दस्तावेज की मांग की जा रही है, उन्हें मुहैया कराने की जिम्मेदारी इसी नोडल पदाधिकारी की होगी। इससे ईओयू के स्तर से की जा रही जांच में काफी सहयोग मिलेगा। साथ ही इस मामले से जुड़े कई दस्तावेज भी मिल सकेंगे। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें