ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरसहूलियत : पीआरएसयू कैम्प्स में अब विज्ञान से भी स्नातक करने की सुविधा

सहूलियत : पीआरएसयू कैम्प्स में अब विज्ञान से भी स्नातक करने की सुविधा

पीआरएसयू प्रयागराज से स्नातक करने वाले छात्रों को बड़ी सहूलियत मिलने जा रही है। रज्जू भैया विश्वविद्यालय कैम्पस में अब साइंस स्ट्रीम से स्नातक किया जा सकेगा। इसके लिए विश्वविद्यालय ने कई कोर्स कोर्स श

सहूलियत : पीआरएसयू कैम्प्स में अब विज्ञान से भी स्नातक करने की सुविधा
Alakha Singhसंवाददाता,प्रयागराजMon, 29 Jan 2024 10:52 AM
ऐप पर पढ़ें

PRSU New Course 2024 : प्रो. राजेंद्र सिंह (रज्जू भय्या) राज्य विश्वविद्यालय के नए शैक्षिक सत्र से स्नातक में विज्ञान की भी पढ़ाई शुरू होगी। विश्वविद्यालय प्रशासन ने विज्ञान विषय में इंटीग्रेटेड पाठ्यक्रम की तैयारी पूरी कर ली है। बीएससी-एमएससी (गणित व बायो) इंटीग्रेटेड कोर्स शुरू होगा। छात्र-छात्राओं को पांच विषयों में दो कॉम्बिनेशन मिलेगा। इस पांच वर्षीय पाठ्यक्रम में विद्यार्थियों को मल्टीपल इंट्री और मल्टीपल एग्जिट का विकल्प मिलेगा। अब तक कैंपस में स्नातक में आईपीए (इंटीग्रेटेड प्रोग्राम इन आर्ट)-बीए-एमए, आईपीसी (इंटीग्रेटेड प्रोग्राम इन कॉमर्स)-बीकाम-एमकॉम और आईपीएम (इंटीग्रेटेड प्रोग्राम इन मैनेजमेंट) बीबीए-एमबीए का संचालन हो रहा है। 

बीएससी-एमएससी गणित व बायो में नए सत्र से प्रवेश करने की तैयारी है। इन दोनों पाठ्यक्रमों में 60-60 सीटों के सापेक्ष प्रवेश होंगे। प्रथम वर्ष में प्रमाण पत्र, दूसरे वर्ष में डिप्लोमा, तीसरे वर्ष में स्नातक की डिग्री, चौथे साल में आनर्स और पांचवें साल की पढ़ाई पूरी करने वाले छात्र-छात्राओं को पीजी की डिग्री प्रदान की जाएगी। विज्ञान संकाय के लिए एकेडमिक काउंसिल और कार्य परिषद से मंजूरी मिल गई है। इसी के अंतर्गत स्नातक स्तर के बीएससी-एमससी (गणित), बीएससी-एमएससी (बायो) की पढ़ाई होगी। कुलपति प्रो. अखिलेश कुमार सिंह ने बताया कि छात्रों को बीएससी-एमएससी प्रोग्राम पांच विषयों का विकल्प मिलेगा। गणित, भौतिक, रसायन, जन्तु विज्ञान और वनस्पति विज्ञान कॉम्बिनेशन में शामिल हैं।

वार्षिक बैक परीक्षा फरवरी में :
पीआरएसयू की सत्र 2022-23 की परीक्षा के दौरान जो परीक्षार्थी सामूहिक नकल या अलग से नकल करते हुए पकड़े गए थे, उन्हें पास होने का एक मौका दिया गया है। ऐसे छात्र फरवरी-2024 में प्रस्तावित बैक पेपर (द्वितीय) परीक्षा में शामिल हो सकेंगे।  साथ ही जिन विद्या​र्थियों की परीक्षा छूट गई थी या फेल हो गए थे, उन्हें भी बैक पेपर परीक्षा में शामिल होने का मौका मिलेगा। इन सभी परीक्षा​र्थियों के साथ ही सत्र 2023-24 की वा​र्षिक परीक्षा के तहत स्नातक द्वितीय एवं तृतीय वर्ष की मुख्य परीक्षा के लिए भी छात्र-छात्राओं से परीक्षा फॉर्म भरवाए जाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। स्नातक (बीए, बीएससी एवं बीकॉम) द्वितीय एवं तृतीय वर्ष की बैक, भूतपूर्व एवं मुख्य परीक्षा के लिए आवेदन की अंतिम ति​थि 25 जनवरी निर्धारित की गई थी, जबकि परीक्षा शुल्क आदि जमा करने की अंतिम ति​थि 30 जनवरी 2024 है। 

Virtual Counsellor