ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ करियरcollege admissions 2020 : राज्य के सभी विश्वविद्यालयों में होंगे ऑनलाइन नामांकन

college admissions 2020 : राज्य के सभी विश्वविद्यालयों में होंगे ऑनलाइन नामांकन

बिहार के सभी विश्वविद्यालयों में नामांकन की प्रक्रिया ऑनलाइन होगी। इसके साथ ही निबंधन कार्य भी समय पर पूरे किये जाएंगे। ऑनलाइन डिग्री-वितरण एवं नेशनल एकेडमिक डिपोजिटरी की प्रभावी व्यवस्था भी...

college admissions 2020 : राज्य के सभी विश्वविद्यालयों में होंगे ऑनलाइन नामांकन
Alakha Singhहिन्दुस्तान ब्यूरो ,पटनाFri, 12 Jun 2020 06:40 AM
ऐप पर पढ़ें

बिहार के सभी विश्वविद्यालयों में नामांकन की प्रक्रिया ऑनलाइन होगी। इसके साथ ही निबंधन कार्य भी समय पर पूरे किये जाएंगे। ऑनलाइन डिग्री-वितरण एवं नेशनल एकेडमिक डिपोजिटरी की प्रभावी व्यवस्था भी विश्वविद्यालयों को करनी होगी। सभी विश्वविद्यालय में वीडियो कांफ्रेंसिंग कक्ष तैयार होंगे और उन्हें अपने शिक्षण सामग्री को आनलाइन वेबसाइट पर अपलोड करने होंगे। राज्यपाल सह कुलाधिपति फागू चौहान ने ये आदेश दिए। वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए उन्होंने गुरुवार को संबंधित कुलपतियों की मौजूदगी में बीआरए बिहार विवि मुजफ्फरपुर, जेपी छपरा, मगध विश्वविद्यालय बोधगया और पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय पटना की शैक्षणिक गतिविधियों की समीक्षा की। 

 

राज्यपाल ने कहा कि किसी भी विश्वविद्यालय में स्नातक प्रथम वर्ष में निर्धारित सीटों से अधिक नामांकन नहीं हो। ज्यादा नामांकन होने पर संबंधित प्राचार्यों पर कार्रवाई करें। कहा कि आनलाइन कक्षाएं लेकर कोर्स पूरा कीजिए। मौजूदा शिक्षण अवधि (पांच घंटे) को एक घंटा बढ़ाने पर भी विचार हो रहा है। यूजीसी के मार्गनिर्देशों के अनुरूप सभी परीक्षाएं लेकर सितम्बर-अक्टूबर तक 2020 के सभी रिजल्ट घोषित हो जाएं ताकि अगले साल का सत्र समय पर शुरू हो सके। विश्वविद्यालयों को कहा कि यदि जरूरी हो कि आनलाइन टूचिंग को लेकर किसी उत्कृष्ट विश्वविद्यालय में अध्ययन दल भेजें। आनलाइन कक्षाओं में अध्यापन दोनों समानांतर व्यवस्था करना अभी समय की जरूरत बन गई है। 

 

राज्यपाल ने कहा कि राज्य के विश्वविद्यालयों में परीक्षाओं के आयोजन, प्रश्न पत्रों के चयन और उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन की समरूप व्यवस्था होनी चाहिए। उन्होंने प्रधान सचिव चैतन्य प्रसाद को इसके लिए तीन कुलपतियों की एक कमेटी गठित करने का निर्देश दिया, जिसकी सुझाव पर इसे प्रदेश में लागू किया जाएगा। उन्होंने कालेजों, विश्वविद्यालयों को नैक मूल्यांकन की तैयारियों में तेजी लाने का निर्देश दिया। राज्यपाल ने कुलपतियों को छात्र-शिक्षक अनुपात को लेकर समानुपातीकरण करने का भी निर्देश दिया। साथ ही जिन कालेजों में क्वारंटाइन केन्द्र बने थे वहां अपने खर्चे से साफ-सफाई कराने को कहा ताकि आगे शिक्षण की व्यवस्था हो सके। 

 

तीन विवि को दिया शिक्षकों के रिक्त पद भेजने का निर्देश 
समीक्षा के दौरान सामने आया कि सहायक प्राध्यापकों की रिक्तियों की सूची आयुक्त कार्यालय से 'रोस्टर क्लीयरेंस' कराते हुए शिक्षा विभाग को भेजने में मगध विश्वविद्यालय ने तत्परता बरती है, परन्तु बीआरए बिहार विश्वविद्यालय, मुजफ्फरपुर, जय प्रकाश विश्वविद्यालय, छपरा एवं पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय ने अबतक रोस्टर क्लीयरेंस कराते हुए शिक्षा विभाग को सूची नहीं भेजी है। राज्यपाल ने रिक्ति-सूची शीघ्र शिक्षा विभाग को भेजने को कहा।