Central Board of Secondary Education doubles registration fees for students of Class IX and 11th - CBSE ने 9वीं-11वीं के छात्रों की रजिस्ट्रेशन फीस को किया दोगुना DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

CBSE ने 9वीं-11वीं के छात्रों की रजिस्ट्रेशन फीस को किया दोगुना

cbse board 10th result 2019 declared at cbseresults nic

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने नौवीं और 11वीं के छात्रों का पंजीकरण शुल्क दोगुना कर दिया है। अब पंजीकरण के लिए दोनों कक्षाओं के छात्रों को पांच विषय के लिए कुल 1500 रुपये चुकाने पड़ेंगे। पिछले वर्ष तक दोनों कक्षाओं के विद्यार्थियों को पंजीकरण के लिए कुल 750 रुपये का भुगतान करना पड़ता था। साथ ही इस बार विलंब शुल्क के साथ ही पंजीकरण कराने की प्रक्रिया को भी दोगुने तक महंगा कर दिया है।

दिल्ली सरकार का अपना कोई शैक्षणिक बोर्ड नहीं है। निजी समेत सभी सरकारी स्कूल सीबीएसई से संबद्ध हैं। सीबीएसई ने वार्षिक पंजीकरण की प्रक्रिया शुरू कर दी है। दोनों कक्षाओं के छात्रों के लिए पंजीकरण की प्रक्रिया आठ अगस्त से चालू कर दी गई है, जिसके तहत दोनों कक्षाओं के छात्र*15 अक्तूबर तक ऑनलाइन पंजीकरण करा सकेंगे। सीबीएसई ने जारी निर्देश में निर्देश में कहा है कि 31 अक्तूबर तक क्षेत्रीय कार्यालयों में भी पंजीकरण कराने की सुविधा दी जा रही है।

सर्कुलर जारी : इस संबंध में सीबीएसई ने सभी संबंधित स्कूलों के नाम सर्कुलर (परिपत्र) जारी किया है। इसमें कहा गया है कि दोनों कक्षाओं के छात्रों को प्रत्येक विषय में 300 रुपये का भुगतान करना होगा, इस तरह पांच विषय का भुगतान करने के लिए उन्हें कुल 1500 रुपये चुकाने होंगे, जबकि पिछले वर्ष तक सीबीएसई प्रति विषय 150 रुपये पंजीकरण शुल्क लेता था। 

विदेशी छात्रों के लिए भी बढ़ा शुल्क : विदेश में सीबीएसईसे संबद्ध स्कूलों में नौंवी में पढ़ रहे छात्रों को पंजीकरण शुल्क के लिए प्रति विषय 500 रुपये और 12वीं के छात्रों को प्रति विषय 600 रुपये का भुगतान करना होगा, जो पिछले वर्ष से दोगुना है।   

यह भी पढ़ें : बिहार के दो स्टूडेंट्स को मिला 44 लाख का सैलरी पैकेज

दिव्यांग छात्रों को राहत : बोर्ड द्वारा जारी सकुर्लर में सीबीएसई ने स्पष्ट किया है कि वह दिव्यांग छात्रों से किसी भी तरह का कोई शुल्क नहीं लेगा। वहीं, सर्कुलर में पंजीकरण की सारी औपचारिकताएं स्कूल को करने का निर्देश दिया गया है, इस संबंध में स्कूलों के लिए दिशा-निर्देश भी सीबीएसई ने जारी किए हैं।

स्कूलों को नियमों का पालन करने के निर्देश : केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने संबद्ध स्कूलों को पंजीकरण *के दौरान सभी नियमों का सख्ती से पालन करने को कहा है। बोर्डने जारी सर्कुलर में कहा हैकि स्कूल एक कक्षा के एक वर्ग से सिर्फ 40 छात्रों का ही पंजीकरण कर पाएंगे। सीबीएसई ने स्कूलों को सिर्फ नियमित कक्षा लेने वाले छात्रों को ही पंजीकरण करने का निर्देश दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Central Board of Secondary Education doubles registration fees for students of Class IX and 11th