DA Image
3 मार्च, 2021|3:00|IST

अगली स्टोरी

CCSU: अब विश्वविद्यालय में डिग्री पूरी करने के लिए सेमेस्टर व वार्षिक परीक्षा प्रणाली में नियम एक

in 2019-20 around 2 lakh indian students chose america for higher education

चौ.चरण सिंह विश्वविद्यालय ने वार्षिक प्रणाली में कालबाधित छात्र-छात्राओं के साथ डिग्री पूरी करने में हो रहे भेदभाव को खत्म करते हुए नियमों को एक समान कर दिया है। निर्धारित अवधि के बाद अधिकतम दो वर्ष तक कालबाधित स्थिति में छात्र दस हजार रुपए अतिरिक्त फीस देकर अपनी डिग्री पूरी कर सकेंगे। एक वर्ष कालबाधित होने पर पांच हजार रुपए देने होंगे।

सेमेस्टर सिस्टम में विश्वविद्यालय दो वर्ष कालबाधित छात्रों को दस हजार रुपए की फीस पर डिग्री पूरी करने की सुविधा दे रहा था जबकि वार्षिक प्रणाली में यह केवल एक वर्ष तक ही सीमित थी। दो वर्ष कालबाधित हजारों छात्र इस नियम में फंसे हुए थे। कुलपति प्रो. एनके तनेजा की अध्यक्षता में हुई परीक्षा समिति की बैठक में विवि ने सेमेस्टर और वार्षिक प्रणाली में कालबाधित श्रेणी में डिग्री पूरी करने के नियमों को समान कर दिया।

हिन्दुस्तान की खबर पर मुहर, छात्रों को राहत
हिन्दुस्तान ने 20 जनवरी 2021 को ’विश्वविद्यालय एक, डिग्री पूरी करने के नियम दो’ शीर्षक से खबर को प्रमुखता से प्रकाशित करते हुए नियमों की खामियों को उजागर किया था। यह मामला शासन और राजभवन तक पहुंचा। राजभवन ने विवि से इस प्रकरण पर रिपोर्ट मांगी। जिला प्रशासन के जरिए शासन ने भी विवि से इस पर रिपोर्ट मांगी है। इसी क्रम में विवि ने छात्र हित को देखते हुए नियमों की खामी को खत्म करते हुए सेमेस्टर और वार्षिक प्रणाली में नियम समान कर दिए। मेरठ-सहारनपुर मंडल में ऐसे हजारों छात्र हैं जो विवि के नए नियम से लाभान्वित होकर अपनी डिग्री पा सकेंगे। ए छात्र परीक्षा भी दे चुके हैं, लेकिन इनके रिजल्ट रुके हुए हैं।

ये रहे मौजूद
परीक्षा समिति में प्रोवीसी प्रो.वाई विमला, परीक्षा नियंत्रक एवं कुलसचिव धीरेंद्र कुमार, प्रो.मृदुल गुप्ता, प्रो.एनसी लोहानी, प्रो.एसएस गौरव, प्रो.हरे कृष्णा, प्रो.जगबीर भारद्वाज, डॉ.अंजलि मित्तल, डॉ.सुधीर कुमार, डॉ.दिव्य नाथ एवं डॉ.मोनिका सिंह मौजूद रहीं। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:CCSU: Now one rule in the semester and annual examination system to complete the degree in university