DA Image
28 जनवरी, 2021|11:00|IST

अगली स्टोरी

सीबीएसई पटना जोन में 10वीं, 12वीं की परीक्षा में घट गए परीक्षार्थी, प्रैक्टिकल को लेकर डर ज्यादा 

cbse 10th 12th exam 2021 date sheet to be released soon

सीबीएसई के 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा में इस बार परीक्षार्थी कम संख्या में शामिल होंगे। 2020 की तुलना में दस से 15 फीसदी परीक्षार्थी की संख्या कम हो गयी है। सीबीएसई की मानें तो पटना जोन से 10वीं बोर्ड में 2 लाख 5 हजार परीक्षार्थी शामिल होंगे। 

प्रैक्टिकल को लेकर डर ज्यादा 
बोर्ड के अनुसार प्रैक्टिकल परीक्षा ली जाएगी। ऐसे में 12वीं बोर्ड के छात्रों में प्रैक्टिकल परीक्षा के कारण भी टेंशन है। क्योंकि उन्होंने जब लैब किया नहीं तो प्रैक्टिकल परीक्षा में कैसे शामिल होंगे। राजधानी के कई स्कूलों ने दिसंबर में प्रैक्टिकल कक्षाएं शुरू की है। कई स्कूलों में यह कक्षाएं चालू नहीं हैं। 

12वीं बोर्ड में 90 हजार दो सौ परीक्षार्थियों ने फॉर्म भरा है। 2020 की बात करें तो 10वीं में 2 लाख 19 हजार 907 परीक्षार्थी थे, जबकि 12वीं में 1 लाख 5 हजार 458 परीक्षार्थी शामिल हुए थे। 2021 की 10वीं परीक्षा में 19 हजार के लगभग परीक्षार्थी शामिल नहीं होंगे। वहीं 12वीं में 15 हजार के लगभग परीक्षार्थियों ने फॉर्म नहीं भरा है। बिहार की बात करें तो 10वीं में इस बार एक लाख 40 हजार परीक्षार्थी शामिल होंगे, जबकि 2020 में 1 लाख 55 हजार 673 परीक्षार्थी शामिल हुए थे। 12वीं में इस बार 50 हजार छात्र शामिल होंगे, जबकि 2020 में 68031 परीक्षार्थी शामिल हुए थे। झारखंड में भी परीक्षार्थियों की संख्या कम हुई है। कोरोना का असर इस बार की बोर्ड परीक्षा पर भी हो रहा है। 

प्रदेश भर में कुछ स्कूलों को छोड़ दें तो ज्यादातर स्कूलों में ऑनलाइन पढ़ाई नहीं हो पायी। साल भर छात्र स्कूल और शिक्षक से दूर रहे। ऐसे में सेल्फ स्टडी भी नहीं कर पाए। छात्र रोहन ने बताया कि ऑनलाइन पढ़ाई नहीं हुई। सिलेबस भी पूरा नहीं हो पाया है। 

फ्लाइंग छात्रों की मुश्किलें बढ़ीं 
इस बार उन छात्रों के लिए मुश्किल हो गयी जो पूरी तरह से र्कोंचग पर निर्भर थे। जो स्कूल केवल फॉर्म भरवाते थे और छात्र र्कोंचग से पढ़ाई पूरी करते थे। उन छात्रों ने इस बार फॉर्म नहीं भरा है। ज्ञात हो कि हर साल 20 हजार छात्र फ्लाइंग होते थे। सीबीएसई सहोदया पाटलिपुत्र कॉम्प्लेक्स के अध्यक्ष राजीव रंजन ने बताया कि पढ़ाई बहुत बाधित रही। 

तीन बार दे सकते हैं परीक्षा 
सीबीएसई की मानें तो 9वीं और 11वीं में एक बार रजिस्ट्रेशन होने के बाद छात्र तीन बार परीक्षा दे सकते हैं। पढ़ाई पूरी नहीं होने की वजह से फेल होने का डर छात्रों में समा गया है। 

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:CBSE Patna zone 10th and 12th examinations reduced candidates fear of practical exam