DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   करियर  ›  CBSE exam 2021: शिक्षकों ने प्रश्नपत्र पढ़ा या फोटो ली तो होगी कार्रवाई

करियरCBSE exam 2021: शिक्षकों ने प्रश्नपत्र पढ़ा या फोटो ली तो होगी कार्रवाई

संवाददाता,पटनाPublished By: Anuradha Pandey
Tue, 24 Nov 2020 12:49 PM
CBSE exam 2021: शिक्षकों ने प्रश्नपत्र पढ़ा या फोटो ली तो होगी कार्रवाई

सीबीएसई ने दसवीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा 2021 के दौरान शिक्षकों को प्रश्नपत्र पढ़ने या उसकी फोटो लेने से मना किया है। अगर कोई शिक्षक बोर्ड परीक्षा के दौरान प्रश्नपत्र पढ़ते हैं या फोटो लेकर वाट्सअप आदि पर भेजते हैं तो ऐसे शिक्षक और स्कूल पर कार्रवाई की जाएगी। बोर्ड ने सभी स्कूलों को इस संबंध में जानकारी दी है। प्रश्नपत्र के साथ किसी भी तरह की विसंगति करने पर कार्रवाई की जाएगी। बोर्ड के एफिलिशन बाइलॉज के चैप्टर 12 के अंतर्गत कार्रवाई होगी। 

बोर्ड की मानें तो पिछले कई सालों में शिक्षकों द्वारा प्रश्नपत्र पढ़ने, परीक्षा हॉल में छात्रों को सलाह देने, प्रश्नपत्र की फोटो खींच कर वाट्सअप आदि करने की शिकायत आयी है। इसको लेकर बोर्ड द्वारा कड़ाई की जा रही है। ज्ञात हो कि बोर्ड परीक्षा तीन घंटे चलती है। इस दौरान प्रश्नपत्र को परीक्षा हॉल में ही खोला जायेगा।
 निर्धारित समय पर प्रश्नपत्र को परीक्षार्थियों के बीच बांटा जायेगा। बांटने के बाद जो प्रश्नपत्र बच जाएंगे, उसे परीक्षा शुरू होने के 15 मिनट के अंदर सील कर दिया जाएगा। क्लास रूम सील होने के बाद ही प्रश्नपत्र प्राचार्य के पास भेजा जाएगा। 

24 घंटे के अंदर प्रश्नपत्र का देना होगा फीडबैक : किसी प्रश्न में र्या ंप्रट में गलती है या नहीं, इसके लिए परीक्षा समाप्त होने के 24 घंटे के अंदर सभी परीक्षा केंद्र को अपना फीडबैक बोर्ड को भेजना है। जिस विषय की परीक्षा होगी, उस विषय के शिक्षकों को प्रश्नपत्र देकर उनसे प्रश्नपत्र पर फीडबैक लिया जायेगा। अगर किसी प्रश्न में कंफ्यूजन या किसी तरह की गलती पकड़ में आती है तो उसे बोर्ड को भेजा जाएगा। बोर्ड द्वारा गलत प्रश्न को हटा कर ही मार्किंग स्कीम तैयार की जाएगी। 

ओईसीएमएस पर करना है फीडबैक अपलोड 
बोर्ड ने ऑनलाइन एग्जाम सेंटर मैनेजमेंट सिस्टम (ओईसीएमएस) बनाया है। शिक्षकों द्वारा हर दिन परीक्षा के बाद फीडबैक एक परफार्मा में लिया जाएगा। इस परफार्मा को ओईसीएमएस पर अपलोड करना है। किसी भी स्थिति में ई-मेल या वाट्सअप पर फीडबैक नहीं भेजा जाएगा।

संबंधित खबरें