ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News करियरCBSE 12th Result : गाजियाबाद की रिद्धिमा और नितिमा को सीबीएसई 12वीं मे 99.6 फीसदी अंक

CBSE 12th Result : गाजियाबाद की रिद्धिमा और नितिमा को सीबीएसई 12वीं मे 99.6 फीसदी अंक

केडीबी स्कूल में 12वीं कक्षा में पढ़ने वाली रिद्धिमा टकियार ने 99.6 फीसदी अंक प्राप्त किए हैं। रिद्धिमा साइकोलॉजिस्ट बनना चाहती हैं। वहीं मेधावी नितिमा मागो चार्टर्ड अकाउटेंट बनना चाहती हैं।

CBSE 12th Result : गाजियाबाद की रिद्धिमा और नितिमा को सीबीएसई 12वीं मे 99.6 फीसदी अंक
Pankaj Vijayकार्यालय संवाददाता,गाजियाबादTue, 14 May 2024 11:49 AM
ऐप पर पढ़ें

पिछले साल के मुकाबले इस बार गाजियाबाद के सीबीएसई12वीं के परिणाम में 1.31 फीसदी का सुधार हुआ है, जबकि 10 वीं में 0.54 फीसदी की गिरावट हुई है। वहीं, साल 2022 से तुलना करें तो इस साल 12वीं में 6.29 फीसदी और 10वीं में 3.36 फीसदी की गिरावट हुई है। गाजियाबाद जिले में साल 2022 में जहां 12वीं का कुल पास प्रतिशत 92.02 था, वहीं साल 2023 में लगभग 12 प्रतिशत की गिरावट के साथ 84.42 फीसदी पर आ गया। 10वीं में भी डेढ़ प्रतिशत की गिरावट हुई। साल 2022 में 10वीं का कुल पास प्रतिशत 95.94 और साल 2023 में 93.12 फीसदी रहा। बीते साल के मुकाबले इस बार 12वीं के पास प्रतिशत में सुधार तो हुआ, मगर साल 2022 का रिकॉर्ड नहीं टूट पाया। इस बार 10वीं में जिले का ओवर ऑल परिणाम 92.58 प्रतिशत और 12वीं का 85.73 प्रतिशत रहा है।

वहीं, बात अगर लड़के और लड़कियों की करें तो साल 2023 के मुकाबले इस बार पास होने वाली लड़कियों की संख्या भी बढ़ी है। पिछले साल जहां 12वीं में 89.90 प्रतिशत लड़कियां पास हुई थीं, वहीं इस बार 91.39 प्रतिशत लड़कियां पास हुई हैं। जबकि साल 2022 में लड़कियों का पास प्रतिशत 94.46 प्रतिशत था। साल 2022 में 12वीं में लड़कियों का पास प्रतिशत 94.46 और 10वीं में 96.96 प्रतिशत था। बीते साल के मुकाबले इस बार लड़कों के पास प्रतिशत 12वीं में बढ़ा है और 10वीं में गिरा है। 2023 में 12वीं में 84.42 और 10वीं में 93.12 प्रतिशत लड़के पास हुए।

रिद्धिमा बनेंगी साइकोलॉजिस्ट
केडीबी स्कूल में 12वीं कक्षा में पढ़ने वाली रिद्धिमा टकियार ने 99.6 फीसदी अंक प्राप्त किए हैं। रिद्धिमा साइकोलॉजिस्ट बनना चाहती हैं। नेहरू नगर के गुलमोहर एन्क्लेव में रहने वाली रिद्धिमा ने 2019 में हार्ट अटैक से अपने पिता विश्वजीत टकियार को खो दिया। उसके बाद रिद्धिमा ने बिना ट्यूशन ही जिले में शीर्ष मुकाम पाकर पिता का नाम रोशन किया है।

चार्टर्ड अकाउटेंट बनना चाहती हैं नितिमा मागो
सीबीएसई 12वीं की मेधावी नितिमा मागो चार्टर्ड अकाउटेंट बनना चाहती हैं। नोएडा एक्सटेंशन की रहने वाली नितिमा मागो ने 99.6 फीसदी नंबर लाकर जिले में अपना नाम रोशन किया है। इंदिरापुरम के सेंट टेरेसा स्कूल की छात्रा नितिमा के पिता मनीष बिजनेसमैन हैं और मां डॉली बहुराष्ट्रीय कंपनी में वरिष्ठ प्रबंधक हैं।

इंजीनियरिंग के क्षेत्र में जाएंगी आइशी
शालीमार गार्डन में रहने वाली आइशी ने सीबीएसई 10वीं में 99.6 अंक हासिल किए हैं। साहिबाबाद स्थित डीएलएफ स्कूल की छात्रा आइशी ने बताया कि वह पिता की तरह इंजीनियरिंग क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहती हैं। आइशी के पिता चंद्रेश कुमार पीडब्ल्यूडी इंजीनियर हैं और मां मोना सिंह गृहणी हैं। आइशी ने 11वीं क्लास में साइंस साइड ली है।

आईएएस बनना चाहती हैं निष्ठी शर्मा
सीबीएसई 10वीं कक्षा में 498 अंक हासिल करने वाली निष्ठी शर्मा आईएएस अधिकारी बनकर देश सेवा करना चाहती हैं। वैशाली सेक्टर एक के सन वैली इंटरनेशनल स्कूल की निष्ठी के 99.6 फीसदी अंक आए हैं। ज्ञान खंड प्रथम में रहने वाली निष्ठी के पापा निरंजन लाल शर्मा दिल्ली के सरकारी स्कूल में अध्यापक और मां ज्योति शर्मा गृहणी हैं।
 

Virtual Counsellor