DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

CBSE 10th 12th Exam 2019: प्रश्नों का पैटर्न, मार्किंग स्कीम और रिजल्ट, जानें 10 खास बातें

CBSE Exams

कल से सीबीएसई बोर्ड परीक्षा शुरू हो रही है। कक्षा 10 और 12 के 31 लाख से अधिक छात्र व छात्राएं इस साल बोर्ड परीक्षाओं में शामिल होंगे। छात्रों पर दवाब कम करने के लिए बोर्ड ने घोषणा की है कि 33 फीसदी अधिक आंतरिक विकल्प प्रश्न होंगे और वह 'रचनात्मक जवाबों' को अधिक 'प्राथमिकता' देगी। सीबीएसई ने यह भी कहा कि वह नतीजों की घोषणा पिछले साल से एक सप्ताह पहले करने की कोशिश में जुटी है। तीन लाख से अधिक लोग परीक्षाओं की निगरानी करेंगे, जिसमें अधीक्षक, पर्यवेक्षक और नोडल अधिकारी शामिल होंगे। 

1. इस साल सीबीएसई में 10वीं और 12वीं मिलाकर कुल 31,14, 831 विद्यार्थियों ने कराया नामांकन। दसवीं में 18,27,472 तथा 12वीं में 12,87,359 विद्यार्थियों ने कराया नामांकन। 

2. देश में दसवीं व 12वीं की परीक्षा के लिये कुल 4974 केंद्र बनाये गये हैं तथा विदेश में 78 केंद्र बनाये गये हैं। देश में कुल 21,400 स्कूल और विदेश में 225 स्कूल। 

3. कुल 28 ट्रांसजेंडर छात्र भी दे रहे हैं परीक्षा। 

4. कक्षा 12वीं की परीक्षा 15 फरवरी से वोकेशनल तथा 2 मार्च से मुख्य परीक्षा होगी। यह परीक्षा 4 अप्रैल को समाप्त होगी

5. कक्षा 10वीं की वोकेशनल परीक्षा 21 फरवरी से शुरू होगी और मुख्य परीक्षा 7 मार्च से शुरू होगी। यह परीक्षा 29 मार्च को समाप्त होगी।

6. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) परीक्षा के हर चरण पर ऑनलाइन नजर रखेगा। सीबीएसई सचिव ने बुधवार को बताया कि जीपीएस और जियो टैगिंग की मदद से यह संभव होगा। उन्होंने कहा कि केंद्रों में परीक्षा की वीडियो रिकॉर्डिंग के साथ ही वेबस्ट्रीमिंग की भी व्यवस्था होगी, ताकि निगरानी में आसानी हो। 

7. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड इस बार विगत वर्ष की अपेक्षा एक सप्ताह पहले परीक्षा परिणाम घोषित करेगा। इसके लिए बोर्ड तैयारी कर रहा है। 

8. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की परीक्षाएं शुक्रवार से शुरू होने जा रही हैं। सीबीएसई ने क्रिएटिव आंसर लिखने पर अंक दिए जाने की बात कही है। यह व्यवस्था बोर्ड ने पहली बार शुरू की है। सीबीएसई के सचिव अनुराग त्रिपाठी ने बताया कि परीक्षा में छात्र प्रश्नों के निर्धारित उत्तर से अलग या नई जानकारी वाला उत्तर देता है तो उसके अंक नहीं काटे जाएंगे, बल्कि उसे अंक दिए जाएंगे। इस बाबत हम मूल्यांकन करने वाले एक लाख शिक्षकों को प्रशिक्षित भी कर रहे हैं। इसमें से 70 हजार का प्रशिक्षण पूरा हो चुका है।

9. सीबीएसई ने यह भी स्पष्ट किया है कि अब छात्रों को कुल प्रश्नपत्र के 33 फीसदी अधिक प्रश्न विकल्प के रूप में होंगे, जिससे उत्तर लिखने में आसानी होगी। उदाहरण के लिए पहले यदि 100 प्रश्न एक प्रश्नपत्र में होते थे और विकल्प के लिए 10 प्रश्न अतिरिक्त दिए जाते थे तो अब यह संख्या 10 के स्थान पर 33 होगी, जिससे छात्रों को अधिक विकल्प मिल सके।

10. केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा में अगर कोई परीक्षार्थी एक ही तरह की गलती बार-बार करता है तो उसके लिए बस एक बार ही अंक काटे जायेंगे। परीक्षक कॉपी में लिखे गए एक ही तरह की गलती पर बार-बार अंक नहीं काट सकते हैं।

बोर्ड के निर्देश

  • भाषा विषय की परीक्षा में स्पेलिंग की गलती पर भी अब अंक काटे नहीं जाएंगे।
  • परीक्षा 16 फरवरी से वोकेशनल विषयों से शुरू होगी, उत्तीर्णता प्रतिशत बढ़ेगा।
  • दो मार्च से मुख्य विषयों की परीक्षा होगी मूल्यांकन के लिए हो रही कार्यशाला।
  • इन चीजों में हुआ बदलाव
  • उत्तर में स्टेप वाइज मार्किंग की जायेगी।
  • परीक्षक अंक दायीं तरफ बने एक बॉक्स में लिखेंगे।
  • अंक को पूरा बोल्ड करके लिखना है, जिससे जोड़ने में गलती न हो।
  • एक अंक वाले प्रश्न में अगर एक शब्द में भी उत्तर लिखा है तो उसमें भी अंक मिलेगा।
  • साफ लिखावट रहेगी तो उसके लिए अतिरिक्त अंक परीक्षक दे सकते हैं।
     
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:CBSE 10th 12th Exam 2019: Pattern of Questions Marking Scheme and Results know 10 important points