ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News करियरNEET Paper Leak: सीबीआई का बड़ा ऐक्शन, दूसरे राज्यों में गड़बड़ी के मामलों को भी अपने हाथों में लिया

NEET Paper Leak: सीबीआई का बड़ा ऐक्शन, दूसरे राज्यों में गड़बड़ी के मामलों को भी अपने हाथों में लिया

CBI NEET 2024 : सीबीआई ने नीट(यूजी)पेपर लीक मामले पटना,गुजरात समेत अन्य राज्यों में हुई गड़बड़ी से जुड़े केस को टेकओवर कर लिया है। सीबीआई के सोर्स के मुताबिक, अब इस केस की जांच सीबीआई करेगी।

NEET Paper Leak: सीबीआई का बड़ा ऐक्शन, दूसरे राज्यों में गड़बड़ी के मामलों को भी अपने हाथों में लिया
Yogesh Joshiलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीMon, 24 Jun 2024 08:12 PM
ऐप पर पढ़ें

सीबीआई ने पटना,गुजरात और राजस्थान में हुई गड़बड़ी से जुड़े नीट(यूजी)पेपर लीक मामले केस को अपने हाथों में ले लिया है।सीबीआई के सोर्स के मुताबिक, अब इस केस की जांच सीबीआई करेगी। इससे पहले नीट पेपर लीक मामले में आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) की टीम ने नालंदा के एकंगरसराय प्रखंड में छापेमारी की और एक व्यक्ति को हिरासत में लिया था। पूछताछ के लिए हिरासत में लिये गये व्यक्ति का नाम राकेश कुमार था। स्थानीय लोगों के बीच चर्चा के अनुसार वह सॉल्वर गैंग का सदस्य रहा है।  मालूम हो कि नीट मामले में नालंदा का नाम शुरू से ही जुड़ा हुआ है। नगरनौसा निवासी संजीव मुखिया, उसके पुत्र डा. शिव व आधा दर्जन सहयोगियों का नाम भी इसमें आ रहा है। ये लोग बीपीएससी शिक्षक भर्ती परीक्षा पेपर लीक कांड के भी आरोपी हैं। इनमें से कई लोग पहले से ही पुलिस गिरफ्त में हैं। नीट मामले में नालंदा के कई और लोगों की संलिप्तता हो सकती है। इस वजह से ईओयू की टीम कई बार वहां छापेमारी कर चुकी है। 

सूत्रों के मुताबिक, मामले की शीर्ष प्राथमिकता पर जांच के लिए सीबीआई की ओर से विशेष टीमों का गठन किया गया है। यह टीमें बिहार के पटना और गुजरात के गोधरा भेजी जा रही हैं। अधिकारियों ने बताया कि राज्यों में दर्ज नीट संबंधी एफआईआर को सीबीआई अपने हाथ में लेगी और पुलिस अधिकारियों से भी संपर्क करेगी। सूत्रों के मुताबिक, झारखंड में सीबीआई की विशेष टीम धांधली से जुड़े अन्य अपराधियों की धरपकड़ के लिए छापेमारी भी कर सकती है।

नीट यूजी में धांधली और पेपर लीक के आरोप में सीबीआई जांच की मांग और दोबारा से परीक्षा कराने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में कई याचिकाएं लंबित है। इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और एनटीए से जवाब मांगा है और मामलों की सुनवाई 8 जुलाई तय है।

Virtual Counsellor