DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

CBSE 12वीं में लीनियर प्रोग्रामिंग वाले प्रश्न के पूरे अंक मिलेंगे

CBSE

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड यानी सीबीएसई ने कॉपी जांच कर रहे शिक्षकों को एक सर्कुलर जारी कर कहा है 12वीं के गणित के पेपर में लीनियर प्रोग्रामिंग से संबंधित सवाल का पूरा अंक दें। सर्कुलर के मुताबिक इस प्रश्न का हल दो तरह से किया जा सकता है और दोनों में अलग-अलग उत्तर आ सकता है, इसलिए जिन छात्रों ने इस सवाल को हल करने की कोशिश की है, उन्हें पूरे नंबर दिए जाए। यह सर्कुलर सीधे कॉपी जांच कर रहे शिक्षकों के पास पहुंचा है। इसे सीबीएसई ने अपने आधिकारिक वेबसाइट पर जारी नहीं किया है। 

पेचीदा होता लीनियर प्रोग्रामिंग के प्रश्न

सीबीएसई ने 30 मार्च को कॉपी जांच कर रहे मूल्यांकनकर्ताओं को यह सर्कलुर भेजा था। इस सर्कुलर के मुताबिक प्रश्न संख्या 29 (सेट 1 और 2 से) और प्रश्न संख्या 27 (सेट 3 से) के लिए एक अलग मार्किंग स्कीम को पालन करने का निर्देश दिया। इन प्रश्नों में तुलनात्मक रूप से कौन ज्यादा काम कर सकता है, के बारे में प्रश्न पूछा गया है। यह लीनियर प्रोग्रामिंग से संबंधित प्रश्न है जो बेहद पेचीदा होता है। इसे दिमाग में सेट करना पड़ता है। उसके बाद फॉमूला पर इसे बिठाया जाता है। .

सभी छात्रों को नहीं मिलेगा फायदा

सीबीएसई द्वारा जारी सर्कुलर का फायदा सभी छात्रों को नहीं मिलेगा। हालांकि दावा किया गया है कि मूल्यांकन प्रक्रिया के दो दिन पहले ही मूल्यांकनकर्ताओं को नोटिस भेज दिया गया था। लेकिन कॉपी जांच कर रहे शिक्षकों का कहना है कि चूंकि सर्कुलर बहुत देर से भेजा गया, इसलिए जिन छात्रों की कॉपी पहले जांच की जा चुकी है, उनकी कॉपी को दोबारा से चेक नहीं किया जा सकेगा, इसलिए उन छात्रों को इसका फायदा नहीं मिल सकेगा। 

सर्कलुर प्राप्त होने के बाद जिन छात्रों की कॉपी जांच की जाएगी, उन्हें इसका फायदा मिलेगा। इस साल सीबीएसई की परीक्षा में कई गलतियां देखने को मिली है। कक्षा 12 के गणित के प्रश्नपत्र में एक और छह अंक के प्रश्न (26 नंबर) में छात्रों से अंग्रेजी में '-ं७्र२' के ऊपर के क्षेत्र को खोजने के लिए कहा गया, जबकि उसी सेट में हिंदी अनुवाद ने छात्रों को '-ं७्र२' के आसपास के क्षेत्र को खोजने के लिए कहा गया। हालांकि इस प्रश्न को लेकर भी छात्रों के बीच काफी कंफ्यूजन पैदा हुई, लेकिन अभी तक सीबीएसई की ओर से कोई नोटिस नहीं आया है। 

हालांकि सीबीएसई के इस सर्कुलर से कई छात्र और शिक्षक खुशी नहीं हैं। उनका कहना है कि इससे जिन छात्रों ने गलत हल भी किए होंगे, उन्हें भी पूरे अंक मिल जाएंगे। वहीं कई शिक्षकों का मानना ??है कि सवाल सीधा था और छात्रों को किसी भी तरह की कंफ्यूजन नहीं होनी चाहिए। गणित के एक शिक्षक ने कहा, जो छात्र प्रश्न पढ़ चुके हैं, उनका उत्तर 350 होगा। उन्होंने कहा कि इस प्रश्न का केवल एक ही उत्तर है। वहीं उनका कहना है कि गलत उत्तर के लिए नंबर देना सही निर्णय नहीं है। जिन छात्रों ने इस सवाल का जवाब 60 दिया है, वे गलत हैं, क्योंकि सही उत्तर 350 है। कई छात्रों ने सीबीएसई सीबीएसई से निष्पक्ष मूल्यांकन करने का अनुरोध किया है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:candidates will get full points of question of linear programming in the CBSE 12th exam