DA Image
16 सितम्बर, 2020|5:02|IST

अगली स्टोरी

परीक्षा में छात्रा को मैथ्स में मिले 2 नंबर, रीचेकिंग करवाई तो बोर्ड के उड़े होश

supriya photo ani

BSEH 10th Result 2020 : आंसरशीट चेकिंग की प्रक्रिया में हरियाणा बोर्ड की बड़ी लापरवाही सामने आई है। हरियाणा बोर्ड 10वीं की परीक्षा में एक दिव्यांग छात्रा को बोर्ड ने मैथ्स विषय में सिर्फ 2 नंबर दिए थे, लेकिन जब कॉपी की रीचेकिंग की गई तो उसने 100 में से पूरे 100 नंबर हासिल किए। छात्रा का नाम सुप्रिया है। उसकी आंखों की रोशनी काफी कम है। 

सुप्रिया की आंसरशीट ब्लाइंड कैंडिडेट के तौर पर चेक नहीं की गई थी। उसकी कैटेगरी के तहत प्रक्रिया न अपनाए जाने के चलते उसे कम नंबर दे दिए गए थे। 

सुप्रिया ने न्यूज एजेंसी एएनआई से कहा, 'मुझे मैथ्स के पेपर में सिर्फ 2 नंबर दिए गए थे। इसके बाद से मैं सदमे में और दुखी थी। मेरे पिता ने रीचेकिंग के लिए आवेदन किया और मेरे 100 नंबर आए। मेरी बोर्ड से बस यही मांग है कि और किसी दिव्यांग छात्र के साथ ऐसा न किया जाए।'

सुप्रिया के पिता छज्जूराम ने कहा कि उसके सभी विषयों में 90 से ज्यादा मार्क्स आए थे लेकिन मैथ्स में सिर्फ 2 नंबर आए जबकि पेपर अच्छा गया था। ऐसे में हमे रीचेकिंग कराने का फैसला किया। रीचेकिंग के लिए आवेदन करने में मुझे 5000 रुपये खर्च करने पड़े हैं। मैं खुद मैथ्स का टीचर हूं। मैथ्स के पेपर की रीचेकिंग में उसे पूरे 100 मार्क्स मिले हैं। 

सुप्रिया के स्कूल गवर्नमेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल, हिसार के प्रिंसिपल ऋषिकेश कुंदू ने कहा कि सुप्रिया काफी मेहनती छात्रा है। पढ़ाई में वह काफी अच्छी है। स्कूल खुलने के बाद उसे सम्मानित किया जाएगा। 

हरियाणा बोर्ड ने 10वीं कक्षा का रिजल्ट 10 जुलाई को जारी हुआ था। नियमित परीक्षार्थियों का परीक्षा परिणाम 64.59 फीसदी रहा था। पूरे राज्य में हिसार की ऋषिता ने टॉप किया था। हिसार से ही उमा, कल्पना, स्नेह, निकिता, मारुति ने दूसरे स्थान पर जगह बनाई। जबकि हिसार से चहक व गर्विता, जींद से रोहित, रेवाड़ी से किरन, कैथल से भूमिका व सलोनी ने तीसरा स्थान पाया है। मेरिट लिस्ट में पहले तीन स्थानों पर 15 स्टूडेंट्स हैं। लड़कियों का पास प्रतिशत 69.86 रहा और 60.27 प्रतिशत लड़के पास हुए। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:BSEH 10th Result 2020 : Specially abled HBSE Haryana girl who scored 2 in Maths gets 100 after re evaluation