ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरBSEH 10th 12th Result 2022: फर्जी प्रमाणपत्र के चलते हरियाणा बोर्ड के सैंकड़ों छात्रों का रिजल्ट रद्द

BSEH 10th 12th Result 2022: फर्जी प्रमाणपत्र के चलते हरियाणा बोर्ड के सैंकड़ों छात्रों का रिजल्ट रद्द

BSEH 10th 12th Result 2022: डॉक्यूमेंट्स की कमी के चलते हरियाणा बोर्ड ने 2600 परीक्षार्थियों का रिजल्ट रोका दिया है। फरीदाबाद-पलवल में 16 स्कूलों में फर्जी परीक्षार्थियों का बोर्ड परिणाम रद्द कर दिया

BSEH 10th 12th Result 2022: फर्जी प्रमाणपत्र के चलते हरियाणा बोर्ड के सैंकड़ों छात्रों का रिजल्ट रद्द
Pankaj Vijayकार्यालय संवाददाता,फरीदाबादWed, 15 Jun 2022 09:04 AM
ऐप पर पढ़ें

BSEH 10th 12th Result 2022: हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने फर्जी दस्तावेजों के चलते फरीदाबाद और पलवल जिले के कुल 16 स्कूलों में छात्रों का परीक्षा परिणाम रद्द किया गया है। बोर्ड की ओर से एसएलसी (स्कूल छोड़ने का प्रमाण पत्र) सत्यापन की प्रक्रिया के दौरान जांच में छात्रों के दस्तावेज बोगस पाए गए हैं। इसके बाद छात्रों का परीक्षा परिणाम रद्द करने का फैसला लिया गया है।  हरियाणा बोर्ड की ओर से भिवानी में प्रेस वार्ता के दौरान ये जानकारी दी गई है। इनमें जिला फरीदाबाद के पांच और जिला पलवल के कुल 11 स्कूल शामिल हैं। इसके साथ ही जिन स्कूलों ने एसएलसी की प्रतियां बोर्ड को उपलब्ध नही कराई है उनका परिणाम भी जारी नहीं होगा। ऐसे छात्रों के परीक्षा परिणाम आरएलई (रिजल्ट लेट  ड्यू टू एलिजीबेलिटी) घोषित किए जाएंगे। 

फरीदाबाद में सेकेंडरी के 21 छात्र फर्जी मिले
बोर्ड की ओर से जांच प्रक्रिया के दौरान फरीदाबाद जिले में सेकेंडरी कक्षा में कुल पांच स्कूलों के 21 परीक्षार्थियों के दस्तावेज फर्जी पाए गए हैं। वहीं  पलवल जिले की बात करें तो सात जिलों के 455 परीक्षार्थियों के दस्तावेज फर्जी मिले हैं। गुरुग्राम जिले में एक स्कूल के दो छात्र फर्जी पाए गए हैं। उधर, सीनियर सेकेंडरी कक्षा की बात करें फरीदाबाद जिले में कोई फर्जी परीक्षार्थी नहीं मिला है। जबकि पलवल जिले में चार स्कूलों में 22 परीक्षार्थी फर्जी मिले हैं और गुरुग्राम में सिर्फ एक छात्र फर्जी रहा है। पलवल जिले में सेकेंडरी व सीनियर सेकेंडरी दोनों ही कक्षाओं में फर्जी परीक्षार्थियों की संख्या प्रदेश में सबसे ज्यादा रही है।

BSEH 12th Result 2022 Live: आज bseh.org.in पर जारी होगा रिजल्ट

एसएलसी नहीं भेजने वाले छात्रों का परिणाम भी रुकेगा
जिन स्कूलों ने छात्रों के एसएलसी व प्रमाण-पत्र की प्रतियां एनरोलमेंट रिटर्न के साथ बोर्ड कार्यालय में उपलब्ध नहीं करवाई हैं उनके परिणाम आरएलई घोषित किए जाएंगे। प्रदेश में ऐसे छात्रों की संख्या सेकंडरी कक्षा में 1741 और सीनियर सेकेंडरी कक्षा में 841 है। बोर्ड की ओर से छात्रों के दस्तावेजों की जांच के लिए टीमें भेजकर अभियान चलाते हुए सत्यापन का कार्य दस्ती तौर पर करवाया गया था। वहीं बिहार, मध्यप्रदेश, पश्चिम बंगाल व नेपाल आदि के परीक्षार्थियों के एसएलसी व प्रमाण-पत्रों का सत्यापन ई-मेल के जरिए करवाया गया है।

प्रदेशभर के 142 स्कूलों में 867 परीक्षार्थी फर्जी मिले
हरियाणा बोर्ड की ओर से सत्यापन प्रक्रिया पूरी होने के बाद प्रदेशभर में कुल 142 स्कूलों में 867 परीक्षार्थी फर्जी पाए गए हैं। इनमें सेकेंडरी कक्षा में 92 निजी स्कूलों के कुल  778 परीक्षार्थी शामिल हैं। जबकि आठ सरकारी स्कूलों में कुल 14 परीक्षार्थियों के दस्वावेज फर्जी मिले हैं। वहीं सीनियर सेकेंडरी कक्षा में 40 निजी स्कूलों में कुल 73 और दो सरकारी स्कूलों में कुल दो परीक्षार्थियों के दस्तावेज फर्जी पाए गए हैं।  

आंकड़े
सीनियर सेकेंडरी में फर्जी छात्रों के आंकड़े

जिला      स्कूल  छात्र
गुरुग्राम   01       01पलवल   04       22

सेकेंडरी में फर्जी छात्रों के आंकड़े
फरीदाबाद 05 21
पलवल      17 455
गुरुग्राम     01  02
नूंह            03 09

विशेष अभियान चलाकर सत्यापन का काम किया
प्रो. जगबीर सिंह, अध्यक्ष, हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड
प्रदेशभर में बोर्ड परीक्षार्थियों के दस्तावेज सत्यापन का कार्य किया गया है। इस दौरान जिन परीक्षार्थियों के दस्तावेज फर्जी मिले हैं उनका परिणाम रद्द किया जा रहा है। वहीं जिन स्कूलों ने संबंधित छात्रों की एसएलसी की प्रतियां एनरोलमेंट रिटर्न के साथ बोर्ड कार्यालय में उपलब्ध नहीं करवाई हैं उनका परिणाम आरएलई घोषित किया जाएगा। सत्यापन के लिए बोर्ड की ओर से विशेष अभियान चलाकर काम किया गया है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें