ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News करियरBSEB 12th Topper: पिता की मृत्यु के बाद मां ने दिखाया डॉक्टर बनने का सपना, साइंस स्ट्रीम के थर्ड टॉपर इतने घंटे करते हैं पढ़ाई

BSEB 12th Topper: पिता की मृत्यु के बाद मां ने दिखाया डॉक्टर बनने का सपना, साइंस स्ट्रीम के थर्ड टॉपर इतने घंटे करते हैं पढ़ाई

बिहार बोर्ड 12वीं की साइंस स्ट्रीम के अमन दुबे तीसरा स्थान हासिल करते हुए जिले के टॉपर की लिस्ट में शामिल हुए हैं और वह भविष्य में डॉक्टर बनना चाहते हैं आइए जानते हैं उनके बारे में, कैसे करते हैं पढ

BSEB 12th Topper: पिता की मृत्यु के बाद मां ने दिखाया डॉक्टर बनने का सपना, साइंस स्ट्रीम के थर्ड टॉपर इतने घंटे करते हैं पढ़ाई
Priyanka Sharmaएक प्रतिनिधि,भभुआSat, 23 Mar 2024 09:35 PM
ऐप पर पढ़ें

Bihar Board Topper Story: बिहार बोर्ड का रिजल्ट आज जारी किया गया है। इस साल तीनों स्ट्रीम (साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स) में कुल पास 87.21% छात्रों ने सफलता हासिल की है। वहीं  साइंस स्ट्रीम में 87.80% छात्र सफल हुए हैं। इस साल साइंस स्ट्रीम अमन दुबे का नाम भी  टॉपर की लिस्ट में शामिल है। उन्होंने बोर्ड परीक्षा 2024 में जिले में तीसरा स्थान हासिल किया है। आइए जानते हैं उनके बारे में।

मां मुंडेश्वरी के आंगन रामगढ़ गांव में पले-बढ़े अमन दुबे डॉक्टर बनना चाहते हैं। वह इंटर के साइंस स्ट्रीम में तृतीय जिला टॉपर बना है। उसने बताया कि उनकी मां ने उन्हें डॉक्टर बन मरीजों की सेवा करने का सपना दिखाया है। इसे पूरा करने के लिए वह नियमित रूप से 10 घंटे पढ़ाई करते हैं।

मां पुतुल देवी ने बताया कि जब अमन 8 साल का था, तब उसके पिता का देहांत हो गया था। जिसके बाद उन्होंने अपने बेटे अमन को डॉक्टर बनकर मरीजों की सेवा करने की राह दिखाई थी। वह अपने बेटे की पढ़ाई पर खुद ध्यान देती हैं। अमन ने बताया कि इंटरमीडिएट की परीक्षा पास कर ली है। अब डॉक्टर बनने की तैयारी करनी है। किसी भी हाल में मां के सपने को पूरा करना है।

उन्होंने बताया कि संयुक्त परिवार होने की वजह से मेरे चाचा ने कभी आर्थिक संकट की कमी महसूस नहीं होने दी है और मेरा परिवार  हमेशा मुझे पढ़ाई के लिए प्रेरित करता रहा है।

बता दें, इस साल साइंस, कॉमर्स और आर्ट्स् स्ट्रीम में कुल पास प्रतिशत 87.21% है। वहीं प्रत्येक स्ट्रीम की बात करें तो आर्ट्स में 86.15%, साइंस स्ट्रीम में 87.80% , कॉमर्स स्ट्रीम में 94.88%, वोकेशनल स्ट्रीम में 85.38% छात्र पास हुए थे।

जानें - लड़कियों-लड़के के पास प्रतिशत

तीनों स्ट्रीम में मिलाकर लड़कियां 88.84% और लड़के 85.69% सफल हुए हैं। वहीं प्रत्येक स्ट्रीम की बात करें तो आर्ट्स स्ट्रीम में 88.07%  लड़कियां और 83.17% लड़के सफल हुए हैं।  कॉमर्स स्ट्रीम में 96.91%  लड़कियां और 93.86% लड़के और साइंस स्ट्रीम में 89.71%  लड़कियां और 86.73% लड़के सफल हुए हैं। इसी के साथ बता दें, बिहार बोर्ड इंटरमीडिएट परीक्षा में कुल 5,24,939 छात्रों को फर्स्ट डिविजन मिली है। सेकंड डिविजन में 5,04,897 छात्र और थर्ड डिविजन 96,595 है।

Virtual Counsellor