ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरBSEB : बिहार बोर्ड सख्त, गेट कूदने वाले छात्रों को देगा ये सजा, कहा- वंचित छात्रों को अप्रैल में मौका

BSEB : बिहार बोर्ड सख्त, गेट कूदने वाले छात्रों को देगा ये सजा, कहा- वंचित छात्रों को अप्रैल में मौका

BSEB Bihar Board Exam : बिहार बोर्ड ने कहा है कि गेट कूदकर या अवैध तरीके से परीक्षा केंद्र में प्रवेश करने वाले विद्यार्थियों पर दो साल का बैन लगाया जाएगा। साथ ही उसके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज की जाएगी।

BSEB : बिहार बोर्ड सख्त, गेट कूदने वाले छात्रों को देगा ये सजा, कहा- वंचित छात्रों को अप्रैल में मौका
Pankaj Vijayहिन्दुस्तान,पटनाSat, 03 Feb 2024 10:05 AM
ऐप पर पढ़ें

BSEB Bihar Board Exam : बिहार बोर्ड ने कहा है कि गेट कूदकर या अवैध तरीके से परीक्षा केंद्र में प्रवेश करने वाले विद्यार्थियों पर दो साल का बैन लगाया जाएगा। साथ ही उसके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज की जाएगी। इसके अलावा जो केंद्राधीक्षक परीक्षा केंद्र पर तय समय से लेट पहुंचने वाले विद्यार्थियों को एंट्री देंगे, उन्हें सस्पेंड किया जाएगा और इन पर भी एफआईआर दर्ज की जाएगी। गौरतलब है कि बिहार बोर्ड ने इंटरमीडिएट परीक्षा की फर्स्ट शिफ्ट में सुबह 9 बजे तक और सेकेंड शिफ्ट में दोपहर 1.30 बजे तक एंट्री का समय निर्धारित किया है। परीक्षा केंद्र देरी से पहुंचने वालों विद्यार्थियों को प्रवेश न देने के चलते वे एंट्री के लिए अवैध तरीके अपना रहे हैं। विद्यार्थियों के दीवारें और गेट कूदने की तस्वीरें लगातार आ रही हैं। 

वंचित छात्र अप्रैल की विशेष परीक्षा में हो सकेंगे शामिल
बिहार बोर्ड इंटर व मैट्रिक परीक्षा में शामिल होने से वंचित छात्रों को विशेष परीक्षा में शामिल होने का मौका मिलेगा। विशेष परीक्षा का आयोजन अप्रैल में होगा। गुरुवार से शुरू परीक्षा में कई छात्र-छात्राएं अलग कारणों से परीक्षा से वंचित रह गए। इसमें सैकड़ों छात्र-छात्राएं परीक्षा केंद्र पर विलंब से पहुंचने की वजह से वंचित रह गए। बिहार बोर्ड की ओर से कहा गया कि वैसे पंजीकृत छात्र-छात्राएं जो स्कूलों और कॉलेजों की ओर से आयोजित सेंटअप परीक्षा में उत्तीर्ण हैं, लेकिन शिक्षण संस्थान के प्रधान की लापरवाही के कारण उनका ऑनलाइन आवेदन पत्र नहीं भरा जा सका, वैसे छात्रों को अपवाद स्वरूप मौका मिलेगा।

गणित के सवाल रहे आसान दूसरे दिन 39 निष्कासित
राज्यभर में इंटर परीक्षा दूसरे दिन शुक्रवार को शांतिपूर्ण रही। लगभग एक प्रतिशत छात्र-छात्राएं अनुउपस्थित रहे। वहीं कई छात्र-छात्राओं के केन्द्र पर विलंब से पहुंचने से उनकी परीक्षा छूट गई। दूसरे दिन प्रथम पाली (930 बजे से 1245 बजे) में विज्ञान व कला के छात्र के लिए गणित एवं दूसरी पाली में राजनीति विज्ञान व वोकेशनल कोर्स के छात्रों के लिए फाउंडेशन कोर्स की परीक्षा हुई। गणित के प्रश्नों को हल करने में परेशानी नहीं हुई। छात्रों ने बताया कि कुछ टाइम टेकिंग वाले थे।

दो दिनों में 90 पकड़ाये पहले दिन 51 नकलची पकड़े गए थे। वहीं दूसरे दिन दोनों पालियों में 14 जिलों से 39 नकलचियों को पकड़ा गया। दूसरे दिन भी नालंदा से दूसरे के बदले परीक्षा देते हुए छह, अरवल से चार, जहानाबाद, नवादा, एवं मधेपुरा से एक-एक परीक्षार्थी पकड़े गये।

Virtual Counsellor