ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरBPSC TRE : तीसरी बिहार शिक्षक भर्ती में सबसे कम आवेदन 11वीं 12वीं टीचर के, देखें किस वर्ग के कितने फॉर्म

BPSC TRE : तीसरी बिहार शिक्षक भर्ती में सबसे कम आवेदन 11वीं 12वीं टीचर के, देखें किस वर्ग के कितने फॉर्म

BPSC TRE 3.0 में सबसे कम आवेदन उच्च माध्यमिक के लिए आए हैं। एक से पांचवीं के लिए एक लाख तीन हजार आवेदन तो छठी से आठवीं के लिए एक लाख 42 हजार 420, नवमीं व दसवीं के लिए एक लाख दो हजार 450 ने आवेदन आए।

BPSC TRE : तीसरी बिहार शिक्षक भर्ती में सबसे कम आवेदन 11वीं 12वीं टीचर के, देखें किस वर्ग के कितने फॉर्म
Pankaj Vijayहिन्दुस्तान,पटनाFri, 23 Feb 2024 09:40 AM
ऐप पर पढ़ें

तीसरे चरण की बीपीएससी बिहार शिक्षक भर्ती में सबसे अधिक आवेदन (छठी से आठवीं) के लिए प्राप्त हुआ है। सबसे कम आवेदन उच्च माध्यमिक के लिए आए हैं। एक से पांचवीं के लिए एक लाख तीन हजार आवेदन तो छठी से आठवीं के लिए एक लाख 42 हजार 420, नवमीं व दसवीं के लिए एक लाख दो हजार 450 ने आवेदन आए। उच्च माध्यमिक में 37956 आवेदन आए। तीसरे चरण की बीपीएससी बिहार शिक्षक भर्ती की आवेदन प्रक्रिया आज 23 फरवरी को समाप्त हो जाएगी।

तीसरे चरण में एक से बारहवीं तक 86 हजार से अधिक रिक्तियों को भरा जा सकता है। उच्च माध्यमिक में सबसे अधिक सीटें विज्ञान संकाय के रसायन शास्त्र विषय में हैं। वहीं कला संकाय में सबसे अधिक सीटें इतिहास विषय में हैं। इस बार कुल 56 विषयों में परीक्षा होगी। इसमें एक से पांचवीं में तीन, छठी से आठवीं में आठ, माध्यमिक में 15 और उच्च माध्यमिक में 30 विषयों की परीक्षा होगी।

टीआरई 3.0 की परीक्षा तिथि व रिजल्ट- तीसरे चरण की बिहार शिक्षक भर्ती परीक्षा 7 मार्च से 17 मार्च तक होगी। इस भर्ती में कक्षा एक से 12वीं तक के टीचरों की भर्ती की जाएगी। 22 से 24 मार्च के बीच तीसरे चरण की शिक्षक भर्ती परीक्षा का रिजल्ट घोषित कर दिया जाएगा। 

टीआरई-3 में सप्लीमेंट्री रिजल्ट का कोई प्रावधान नहीं रखा गया है।

तीसरे चरण की परीक्षा में एक ही पेपर होंगे। यह परीक्षा ढाई घंटे की होगी। भाग-एक में भाषा की परीक्षा होगी। भाग-2 सामान्य अध्ययन और भाग- तीन संबंधित विषय का होगा। भाग- एक (भाषा) क्वालिफाइंग विषय होगा। इसमें 30 अंकों के 30 प्रश्न पूछे जाएंगे। सामान्य अध्ययन में 40 प्रश्न होंगे और हर प्रश्न के सही उत्तर के लिए एक-एक यानी कुल 40 अंक होंगे। वहीं जिस विषय के शिक्षक बनेंगे, उस विषय से 80 अंक के 80 सवाल पूछे जाएंगे। भाषा में क्वालिफाई करने के बाद ही मेधा सूची बनाई जाएगी। एक ही बुकलेट में तीनों भाग के प्रश्न होंगे। परीक्षा का सिलेबस एनसीईआरटी और एससीआरटी से होगा। इंटरव्यू नहीं होगा। बीपीएससी टीआरई 3.0 में भी नेगेटिव मार्किंग नहीं होगी। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें