ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरबिहार शिक्षक भर्ती : TRE सप्लीमेंट्री रिजल्ट लटकने के संकेत, जानें क्या बोले BPSC चेयरमैन, समझाया वैकेंसी का गणित

बिहार शिक्षक भर्ती : TRE सप्लीमेंट्री रिजल्ट लटकने के संकेत, जानें क्या बोले BPSC चेयरमैन, समझाया वैकेंसी का गणित

BPSC TRE supplementary result : बीपीएससी अध्यक्ष अतुल प्रसाद ने कहा कि प्रथम चरण की शिक्षक भर्ती का सप्लीमेंट्री रिजल्ट देना आयोग की पहली प्राथमिकता नहीं है। इससे पहले कई रिजल्ट पेंडिंग हैं।

बिहार शिक्षक भर्ती : TRE सप्लीमेंट्री रिजल्ट लटकने के संकेत, जानें क्या बोले BPSC चेयरमैन, समझाया वैकेंसी का गणित
Pankaj Vijayलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 06 Dec 2023 11:34 AM
ऐप पर पढ़ें

BPSC TRE supplementary result : बिहार लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष अतुल प्रसाद ने कहा कि प्रथम चरण की शिक्षक भर्ती का सप्लीमेंट्री रिजल्ट देना आयोग की पहली प्राथमिकता नहीं है। रिजल्ट तभी निकलेगा, जब हम इसके लिए तैयार हो जाएंगे। अध्यक्ष ने टीआरई 2 के रिजल्ट के साथ पूरक रिजल्ट जारी करने का इशारा भी किया। बताया कि सप्लीमेंट्री रिजल्ट का इंतजार करने वाले अभ्यर्थियों ने दूसरे चरण में आवेदन किया है। अभ्यर्थी अगर दूसरे चरण में सफल हो जाएंगे तो सप्लीमेंट्री रिजल्ट का इंतजार नहीं करेंगे। ऐसी स्थिति में दूसरे अभ्यर्थी को फायदा होगा।

बीपीएससी चेयरमैन ने मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि अगर टीआरई -1 का कोई चयनित उम्मीदवार जॉइन नहीं करता है तो वह वैकेंसी वेटिंग लिस्ट में जाएगी। वेटिंग लिस्ट का प्रावधान है नहीं। इसलिए वो वैकेंसी कैरी फॉर्वर्ड होगा। किसी ने अगर जॉइन करके छोड़ दिया तो वो भी कैरी फॉर्वर्ड होगा। लेकिन अगर किसी अभ्यर्थी को ऑफर ही नहीं मिला है, डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन या पुलिस वेरिफिकेशन में डाउट है, वो वैकेंसी व मल्टीपल रिजल्ट की वैकेंसी अगर हमें वापस मिलती है तो वो सप्लीमेंट्री रिजल्ट में आएगी। इसलिए हम शुरू से सप्लीमेंट्री रिजल्ट देने की बात कर रहे हैं न कि वेटिंग लिस्ट का रिजल्ट जारी करने की। नियोजित शिक्षकों को बाहर करके नौकरी देने की मांग पर चर्चा करना ही बेकार है। यह तो असंवैधानिक है। 

बिहार शिक्षक भर्ती : BPSC TRE में ढाई घंटा पहले पहुंचें, जानें कब बंद होंगे गेट, मोबाइल, घड़ी, आईडी प्रूफ समेत 10 नियम

बिहार लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष अतुल प्रसाद ने बीते शुक्रवार को भाजपा सांसद सुशील कुमार मोदी की ओर से की गई 40 हजारों पदों पर टीआरई सप्लीमेंट्री रिजल्ट की मांग पर कहा था कि काल्पनिक आंकड़ों पर परिणाम नहीं निकाला जाता। उन्होंने अभ्यर्थियों से कहा कि वे सपनों के सौदागरों से सावधान रहें। बीपीएससी अध्यक्ष ने सुशील मोदी का बिना नाम लिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर कहा, 'अभ्यर्थियों को सपनों के सौदागरों से सावधान रहना चाहिए। रिजल्ट हो या फिर सप्लीमेंट्री रिजल्ट, ये केवल उतनी ही रिक्तियों के लिए हो सकते हैं जितनी विभाग द्वारा बताई गई हैं, न कि नियमों की गलत व्याख्या या कुछ मनगढ़ंत सोच या कुछ शरारती अफवाहों पर आधारित किसी काल्पनिक आंकड़े पर।' 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें