ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरBPSC TRE : आज से 8.41 लाख देंगे बिहार शिक्षक भर्ती परीक्षा, जानें गाइडलाइंस व किस विषय से कितने अभ्यर्थी

BPSC TRE : आज से 8.41 लाख देंगे बिहार शिक्षक भर्ती परीक्षा, जानें गाइडलाइंस व किस विषय से कितने अभ्यर्थी

BPSC TRE 2.0 : बीपीएससी बिहार शिक्षक भर्ती परीक्षा आज से शुरू होगी। अभ्यर्थियों को ढाई घंटा पहले से परीक्षा केंद्र में प्रवेश दिया जाएगा। परीक्षा शुरू होने के एक घंटा पहले गेंट बंद हो जाएंगे।

BPSC TRE : आज से 8.41 लाख देंगे बिहार शिक्षक भर्ती परीक्षा, जानें गाइडलाइंस व किस विषय से कितने अभ्यर्थी
Pankaj Vijayवरीय संवाददाता,पटनाThu, 07 Dec 2023 07:57 AM
ऐप पर पढ़ें

बीपीएससी बिहार शिक्षक भर्ती के दूसरे चरण की परीक्षा सात से 15 दिसंबर तक होगी। 1,22,252 पदों के लिए होनेवाली इस परीक्षा में 8,41,835 अभ्यर्थी शामिल होंगे। बिहार लोक सेवा आयोग ने परीक्षा की तैयारी पूरी कर ली है। यह जानकारी मंगलवार को प्रेसवार्ता में बीपीएससी के अध्यक्ष अतुल प्रसाद व सचिव रवि भूषण ने दी। कहा कि हर दिन की परीक्षा के लिए अलग-अलग जिलों में अलग-अलग केंद्र बनाए गए हैं। 9 दिसंबर को सर्वाधिक 555 केंद्रों पर परीक्षा ली जाएगी। 

ओएमआर शीट से कोई हेराफेरी नहीं करें
बीपीएससी अध्यक्ष ने बताया कि पिछले चरण की परीक्षा में अभ्यर्थियों ने ओएमआर शीट भरने में काफी गलती की थी। इस बार अभ्यर्थी पहले ही इसका अभ्यास कर लें। बीपीएससी अध्यक्ष ने स्पष्ट कहा कि इस बार ओएमआर शीट में ही रोल नंबर भरना होगा। इसमें गोला भरना है। किसी तरह की गड़बड़ी होने पर ओएमआर शीट से कोई छेड़खानी नहीं करें। ओएमआर शीट पर एक गोला के अतिरिक्त अन्य गोला या किसी तरह का डॉट नहीं लगाएं। परीक्षा में किसी तरह की गड़बड़ी नहीं हो, इसके लिए प्रत्येक केन्द्र पर विशेष जांच की व्यवस्था की गई है। 

किस जिले में कब परीक्षा
-बीपीएससी के अनुसार, 8 दिसंबर, 9 दिसंबर, 10 दिसंबर, 14 दिसंबर और 15 दिसंबर को विभिन्न जिलों में तथा 7 दिसंबर से 15 दिसंबर तक एक पाली में पटना जिला स्थित केंद्रों पर परीक्षा होगी।
-14 और 15 दिसंबर को बिहार के 9 जिलों (पटना, भोजपुर, मुजफ्फरपुर, बेगूसराय, भागलपुर, नालंदा, सारण, दरभंगा एवं पूर्णियां) में प्राथमिक (वर्ग 1 से 5) और उच्च माध्यमिक (वर्ग 11 से 12) की परीक्षा होगी।

बिहार शिक्षक भर्ती : BPSC TRE में ढाई घंटा पहले पहुंचें, जानें कब बंद होंगे गेट, मोबाइल, घड़ी, आईडी प्रूफ समेत 10 नियम

ढाई घंटा पहले से मिलेगा प्रवेश 
अभ्यर्थियों को परीक्षा शुरू होने के ढाई घंटा पहले परीक्षा केंद्र में प्रवेश दिया जाएगा। परीक्षा शुरू होने के एक घंटा पहले (11.00 बजे पूर्वाह्न) परीक्षा कक्ष में प्रवेश बंद कर दिया जायेगा। अभ्यर्थियों की गहन जांच के साथ ई-एडमिट कार्ड एवं आधार कार्ड से मिलान करने के बाद ई-एडमिट कार्ड की बार-कोड स्कैनिंग की जाएगी। इसके बाद फोटोग्राफ का मिलान करने के बाद परीक्षा केंद्र में प्रवेश की अनुमति दी जायेगी। इसके लिए प्रवेश द्वार पर निर्धारित समय (ढाई घंटा पूर्व) पर पुलिस बल, दंडाधिकारी एवं केन्द्राधीक्षक द्वारा प्रतिनियुक्त व्यक्ति उपस्थित रहेंगे। दिव्यांग अभ्यर्थियों को स्क्राइब उपलब्ध कराने के लिए जिला स्तर पर जिला शिक्षा पदाधिकारी द्वारा श्रुतिलेखकों की सूची तैयार कर दिव्यांग अभ्यर्थी वाले केन्द्र को उपलब्ध करायेंगे। 

तारीख       अभ्यर्थियों की संख्या        परीक्षा केंद्र              परीक्षा 
7 दिसंबर          6473                          03            पिछड़ा वर्ग एवं अतिपिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग
8 दिसंबर          2,23,506              396        शिक्षा विभाग और पिछड़ा वर्ग (9वीं-10वीं) और अनुसूचित जाति कल्याण विभाग (छठी से आठवीं)                                                                
9 दिसंबर        3,11,300                 555        शिक्षा विभाग, पिछड़ा व अति पिछड़ा वर्ग (छठी से आठवीं) 
10 दिसंबर         84,139                151        शिक्षा विभाग (छठी से आठवीवीं, विषय,अंग्रेजी,हिन्दी,संस्कृत, उर्दू )
14 दिसंबर         1,07,263            184        प्राथमिक के सभी विषय, अनुसूचित जाति एवं जनजाति, शिक्षा विभाग 
15 दिसंबर         1,09,154            184        सभी विभाग उच्च माध्यमिक (11वीं से 12वीं )

- परीक्षा खत्म होने के बाद अभ्यर्थियों के सामने ही ओएमआर शीट सील की जाएगी। इसके बाद ही अभ्यर्थी को परीक्षा कक्षा छोड़ने की अनुमति होगी
- सभी अभ्यर्थियों के लिए हर शिफ्ट में ई-एडमिट कार्ड की एक अतिरिक्त कॉपी अपने साथ केंद्र पर जाना अनिवार्य होगा
- परीक्षार्थी अपने ऑनलाइन आवेदन में भरे गये मूल फोटो पहचान पत्र साथ में रखना सुनिश्चित करेंगे

- अभ्यर्थियों के ई एडमिट कार्ड का क्यूआर कोड स्कैनिंग, बायो मीट्रिक ऑथेंटिकेशन (फिंगरप्रिंट), ओएमआर आंसर-शीट के बार कोड का स्कैनिंग किया जाएगा
- हर परीक्षा केंद्र पर जैमर की व्यवस्था की जाएगी
- परीक्षा समाप्ति के बाद भी अभ्यर्थी बिना वीक्षक की अनुमति के बाहर नहीं निकल सकते। परीक्षा केन्द्र पर छात्रों को सिर्फ ब्लैक, ब्लू बॉल पेन और व्हाइट बॉल पेन के साथ प्रवेश मिलेगा। इलेक्ट्रॉनिक्स गैजेट पर रोक होगी।

परीक्षा में गड़बड़ी करने वाले केंद्राधीक्षकों पर कार्रवाई
बीपीएससी के अध्यक्ष अतुल प्रसाद ने कहा शिक्षक नियुक्ति की परीक्षा में किसी तरह की लापरवाही करने वाले केन्द्राधीक्षकों पर सीधी कार्रवाई होगी। आयोग के नियमों का पूरी तरह से पालन करना होगा। अध्यक्ष ने बताया कि पहले चरण की परीक्षा में गड़बड़ी करने वाले दो स्कूलों को काली सूची में डाल दिया गया है। इसमें एक पटना और दूसरा सारण के स्कूल हैं। इसके अलावा बीपीएससी की हाल की एक परीक्षा में गलती करने वाले बांकीपुर गर्ल्स हाई स्कूल के केन्द्राधीक्षक पर कार्रवाई की गई है। इसबार भी जितने भी परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं। सभी पर आयोग की सीधी नजर होगी। 

आयोग के कंट्रोल रूम से सबकुछ मॉनिटीरिंग होगा। इसके अलावा अध्यक्ष ने कहा है कि वरीय उप समाहर्ता स्तर के पदाधिकारियों को जोनल दंडाधिकारी के रूप में प्रतिनियुक्त किया जाय। जिला पदाधिकारी/ पुलिस अधीक्षक परीक्षा केन्द्रों पर प्रतिनियुक्त किये जाने वाले स्टैटिक एवं जोनल दंडाधिकारियों/ पुलिस पदाधिकारियों को सही तरह से कार्य के लिए निर्देशित करें। केंद्र के अधीक्षक को निर्देश दिया गया है किहर एग्जाम रूम की दीवार पर घड़ी लगाएं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें