ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरBPSC TRE : CTET रिजल्ट 15 से 17 तक संभव, नई बिहार शिक्षक भर्ती के इन वर्गों में कड़ा मुकाबला, आवेदन भी आएंगे कम

BPSC TRE : CTET रिजल्ट 15 से 17 तक संभव, नई बिहार शिक्षक भर्ती के इन वर्गों में कड़ा मुकाबला, आवेदन भी आएंगे कम

बीपीएससी टीआरई 3.0 भर्ती परीक्षा के लिए 10 फरवरी से आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। तीसरे चरण में सबसे अधिक प्रतिस्पर्धा प्राथमिक और मध्य स्कूलों के लिए होगी। इसमें रिक्तियां कम और आवेदन अधिक होंगे।

BPSC TRE : CTET रिजल्ट 15 से 17 तक संभव, नई बिहार शिक्षक भर्ती के इन वर्गों में कड़ा मुकाबला, आवेदन भी आएंगे कम
Pankaj Vijayवरीय संवाददाता,पटनाFri, 09 Feb 2024 07:17 AM
ऐप पर पढ़ें

बिहार लोक सेवा आयोग शिक्षक नियुक्ति भर्ती परीक्षा के लिए तीसरे चरण के लिए दस फरवरी से आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। तीसरे चरण में सबसे अधिक प्रतिस्पर्धा प्राथमिक और मध्य स्कूलों के लिए होगी। इसमें रिक्तियां कम और आवेदन अधिक होंगे। इस वजह से केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से आयोजित सीईटीई का रिजल्ट 15 से 17 फरवरी के बीच आने की पूरी संभावना है। सीटीईटी में पेपर वन और पेपर टू को मिलाकर देशभर से 31 लाख 32 हजार अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था। वहीं बिहार से दोनों पेपर मिलाकर 5 लाख 58 हजार अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी थी। परीक्षा 21 जनवरी को ली गई थी। इस परीक्षा में सफलता प्राप्त करने वाले लाखों अभ्यर्थियों को तीसरे चरण में आवेदन का मौका मिल जाएगा। 

बीएड वाले सफल अभ्यर्थी छह से आठवीं में आवेदन कर सकेंगे। वहीं डीएलएड वाले अभ्यर्थी प्राथमिक विद्यालयों के लिए आवेदन करेंगे। ऐसी स्थिति में कक्षा एक से पांच और छठी से आठवीं के उम्मीदवारों को तीसरे चरण में आवेदन का मौका मिल जाएगा। वहीं शिक्षा विभाग व आयोग के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार प्राथमिक में कम रिक्तियां होंगी।

तीसरे चरण में कम आवेदन होंगे प्राप्त
आयोग इस बार किसी अपेयरिंग उम्मीदवारों को मौका नहीं दे रहा। जिनका रिजल्ट पहले से क्लीयर है उसी को आवेदन का मौका दिया गया है। बिहार बोर्ड की ओर से एसटीईटी के लिए आवेदन तो दिसंबर में ही करा लिया गया। इसकी परीक्षा मार्च में संभावित है। ऐसी स्थिति में नए अभ्यर्थी माध्यमिक और उच्च माध्यमिक में नहीं आएंगे। ऐसी स्थिति में पूर्व में एसटीईटी सफल उम्मीदवरी ही आवेदन कर सकेंगे। उच्च माध्यमिक व माध्यमिक में कम आवेदन आने की संभावना है पर इसमें रिक्तियों की संख्या ज्यादा होने की संभावना है। पूरे राज्य में उतक्रमित विद्यालयों की संख्या बढ़ी है। ऐसी स्थिति में माध्यमिक व उच्च माध्यमिक में रिक्तियां अधिक होंगी। दूसरे चरण की परीक्षा में कई विषयों में कम अभ्यर्थी सफल हो सके थे। ऐसी स्थिति में तीसरे चरण में रिक्तियां अधिक और आवेदन कम प्राप्त होने की संभावना है।

BPSC TRE : नई बिहार शिक्षक भर्ती का नोटिफिकेशन जारी, STET अपीयरिंग और ये DElEd अभ्यर्थी बाहर, 10 खास बातें

छह माह में शिक्षकों की तीन लाख रिक्तियां निकाली गई
एक तरह से देखा जाए तो पूरे देश में शिक्षक नियुक्ति में रिकार्ड बनाने में बिहार सबसे आगे हैं। देश का यह पहला राज्य है जिसने छह माह के अंतराल में तीन लाख से अधिक शिक्षकों की रिक्तियां निकाली है। इसमें पहले चरण में एक लाख 20 हजार रिक्तियों को भरा गया। वहीं दूसरे चरण में लगभग 96 हजार शिक्षक नियुक्त किये। दूसरी तरफ शिक्षा विभाग के आदेश के बाद बीपीएससी ने तीसरे चरण की वैकेंसी भी निकाल दी है। इसमें भी 87 हजार रिक्तियां आने की संभावना है। इसके लिए आवेदन की प्रक्रिया दस फरवरी से शुरू हो जाएगी। आवेदन की अंतिम तिथि 23 फरवरी निर्धारित की गई है।

Virtual Counsellor