ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरBPSC TRE 2.0: बिहार शिक्षक भर्ती परीक्षा की डेमो OMR शीट जारी, चेयरमैन अतुल प्रसाद ने 2 बातों को लेकर किया आगाह

BPSC TRE 2.0: बिहार शिक्षक भर्ती परीक्षा की डेमो OMR शीट जारी, चेयरमैन अतुल प्रसाद ने 2 बातों को लेकर किया आगाह

BPSC TRE : अतुल प्रसाद ने कहा, 'टीआरई  2.0 की ओएमआर शीट में रोल नंबर की कोई टेक्स्ट एंट्री नहीं होंगी। इसी तरह सब्जेक्ट कॉम्बिनेशन भी वही होंगे जो अभ्यर्थियों ने एप्लीकेशन फॉर्म भरते समय दिए होंगे।

BPSC TRE 2.0: बिहार शिक्षक भर्ती परीक्षा की डेमो OMR शीट जारी, चेयरमैन अतुल प्रसाद ने 2 बातों को लेकर किया आगाह
Pankaj Vijayलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 24 Nov 2023 10:31 AM
ऐप पर पढ़ें

बिहार लोक सेवा आयोग ने दिसंबर में आयोजित होने जा रही दूसरे चरण की शिक्षक भर्ती परीक्षा ( बीपीएससी टीआरई 2.0 ) की डेमो ओएमआर शीट जारी कर दी है। ओएमआर शीट देखकर अभ्यर्थी यह अंदाजा लगा सकते हैं कि उन्हें किस तरह की उत्तर पुस्तिका मिलेगी। पांच ऑप्शन होंगे - ए, बी, सी, डी, ई। सही उत्तर वाले गोले को नीले या काले पेन से भरना होगा। इस बार अभ्यर्थियों को रौल नंबर को अंक में लिखने का विकल्प नहीं मिलेगा। इसके साथ विषय को लिखने के लिए भी अलग से कॉलम नहीं रहेगा। बल्कि ओएमआर पर रौल नंबर और विषय के लिए सिर्फ गोलाकार को भरना होगा। जिन अभ्यर्थी का जो रौल नंबर होगा, उसके अंक के सामने वो सिर्फ गोला को भरेंगे। 

ओएमआर शीट पर फ्लूइड या इरेजर का इस्तेमाल करने की मनाही है। डेमो ओएमआर शीट में बताया गया है कि गोलों को किस तरह से भरना है। किसी एक प्रश्न के उत्तर में एक से एक अधिक गोले भरने पर वह उत्तर गलत माना जाएगा। बीपीएससी शिक्षक भर्ती परीक्षा 7 से 10 तक आयोजित होगी। इस भर्ती में कुल 1.22 लाख शिक्षकों की भर्ती होगी। 

ओएमआर शीट जारी किए जाने के बाद बीपीएससी के चेयरमैन अतुल प्रसाद ने ट्वीट कर कहा, 'टीआरई  2.0 की ओएमआर शीट में रोल नंबर की कोई टेक्स्ट एंट्री नहीं होंगी। इसी तरह सब्जेक्ट कॉम्बिनेशन भी वही होंगे जो अभ्यर्थियों ने एप्लीकेशन फॉर्म भरते समय दिए होंगे। ऐसे में उम्मीदवारों को सावधान रहना चाहिए क्योंकि गलत एंट्री को कंप्यूटर द्वारा अस्वीकार कर दिया जाएगा और कोई मैन्युअल क्रॉस वेरिफिकेशन भी नहीं होगा।'

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, 'टीआरई 2.0 में ओएमआर शीट पर क्वेश्चन बुकलेट सीरीज पहले से ही प्रिंट होगी। अभ्यर्थियों को इसे नहीं भरना है। इसके साथ छेड़छाड़ नहीं करनी है। अन्यथा ओएमआर शीट खारिज की जा सकती है।'

प्रथम चरण की शिक्षक नियुक्ति परीक्षा में रौल नंबर और विषय को लिखने में हजारों की संख्या में अभ्यर्थियों ने गलती की थी। इसके बाद वे उसे सही करने के लिए बीपीएससी कार्यालय का चक्कर लगाते रहे। बाद में बीपीएससी ने सुधार का मौका दिया था। लेकिन, इस बार अध्यक्ष अतुल प्रसाद ने स्पष्ट कर दिया है कि गलत भरने वाले अभ्यर्थियों को सुधार का मौका नहीं दिया जाएगा। इस कारण ओएमआर को सावधानीपूर्वक भरें।

फीस जमा करा आवेदन सब्मिट करने का मौका
बीपीएससी ने पहले से रजिस्ट्रेशन कर चुके सभी अभ्यर्थियों ( कक्षा एक से पांच को छोड़कर) को आवेदन शुल्क भुगतान करने का आखिरी मौका दिया है। रजिस्ट्रेशन कर चुके अभ्यर्थियों को 23 व 24  नवंबर को फीस भुगतान का मौका मिलेगा। मध्य, माध्यमिक व उच्च माध्यमिक स्तर के जिन अभ्यर्थियों ने 17 नवंबर तक रजिस्ट्रेशन किया है, वे ही 25 नवंबर तक आवेदन पूरा कर सकते हैं। 

BPSC , BPSSC , BSSC : भर्ती विज्ञापनों में बैकलॉग और चालू रिक्तियां अलग-अलग छपेंगी

प्राथमिक शिक्षक भर्ती के लिए 25 तक रजिस्ट्रेशन का मौका
कक्षा 1 से 5 के लिए रजिस्ट्रेशन, फीस भुगतान व ऑनलाइन आवेदन सब्मिट करने की अंतिम तिथि 25 नवंबर 2023 तक है। इस वर्ग की शिक्षक भर्ती में परीक्षा 150 अंको की होंगी। इसके लिए ढाई घंटा का समय निर्धारित किया गया है। मालूम हो कि पहले भाग में 30 अंकों ़की परीक्षा होगी। वहीं दूसरे भाग में 120 अंकों की परीक्षा होगी। दोनों मिलाकर एक से पांचवी कक्षा में दस हजार से अधिक सीटें हैं। एक से पांचवी कक्षा के लिए आवेदन और पंजीयन की प्रक्रिया जारी है। परीक्षा में निगेटिव मार्किंग नहीं होगी।

परीक्षा की खास बातें
- नेगेटिव मार्किंग नहीं होगी। भाषा (अहर्ता) पेपर के 30 नंबर में 22 प्रश्न हिंदी से एवं 8 प्रश्न इंग्लिश से होगा।  इस पेपर में क्वालीफाई करने के लिए 9 मार्क्स लाना होगा। जीएस और मेन पेपर के नियम पहले जैसे रहेंगे। 
- शिक्षक भर्ती परीक्षा अब कुल 150 प्रश्नों की होगी। 30 क्वालिफाइंग नेचर वाले होंगे। ये भाग एक होगा। भाग दो व तीन पिछली बार वाला 40 और 80 का होगा ।

- पहली वाली शिक्षक भर्ती में टाई ब्रेकर डेट ऑफ बर्थ से तय हुआ था। ये समान होने पर नाम के अल्फाबेट देखे गए थे। अब नई शिक्षक भर्ती में इसमें बदलाव किया गया है। भाषा वाला 30 नंबर को तो क्वालिफाइंग होगा। भाग दो में जब टाइ होगा तो फिर मुख्य पेपर (भाग-3) के प्राप्तांक के आधार पर मेरिट बनाई जाएगी। अगर इसके मार्क्स भी बराबर होंगे तो भाषा वाले क्वालिफाइंग नेचर के पेपर के मार्क्स देखे जाएंगे। 

एग्जाम पैटर्न
- कुल 150 मार्क्स का पेपर होगा।
- भाषा विषय -30
- सामान्य अध्य्यन -40
- संबंधित विषय -80

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें