ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरBPSC TRE 2 : इन अभ्यर्थियों को भी आयु में 10 वर्ष छूट, डालना होगा CTET व STET का ये वाला नंबर

BPSC TRE 2 : इन अभ्यर्थियों को भी आयु में 10 वर्ष छूट, डालना होगा CTET व STET का ये वाला नंबर

BPSC TRE 2 : बीपीएससी ने शिक्षक भर्ती के दूसरे चरण में कक्षा 6-8 के अभ्यर्थियों को भी अधिकतम आयु सीमा में 10 वर्ष छूट देने का ऐलान किया है। बीपीएससी ने अपनी वेबसाइट पर इस संबंध में नोटिस जारी किया है।

BPSC TRE 2 : इन अभ्यर्थियों को भी आयु में 10 वर्ष छूट, डालना होगा CTET व STET का ये वाला नंबर
Pankaj Vijayलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 10 Nov 2023 10:14 AM
ऐप पर पढ़ें

बीपीएससी ने बिहार शिक्षक भर्ती के दूसरे चरण में कक्षा 6-8 के अभ्यर्थियों को भी अधिकतम आयु सीमा में 10 वर्ष छूट देने का ऐलान किया है। बीपीएससी ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट www.bpsc.bih.nic.in पर इस संबंध में नोटिस जारी किया है। नोटिस में कहा गया है कि मध्य विद्यालय वर्ग 6-8 के शिक्षक और वर्ग 6-8 के प्रारंभिक शिक्षक के लिए 10 अप्रैल 2023 के पूर्व पात्रता परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले प्रशिक्षित अभ्यर्थियों को सिर्फ  इस प्रथम संव्यवहार में अधिकतम आयु सीमा में 10 वर्ष की छूट 1 अगस्त 2023 को आधार मानकर देय होगी। गौरतलब है कि वर्ग 6-8 के शिक्षक अभ्यर्थी बीते कई दिनों से 10 वर्ष की छूट न दिए जाने का विरोध कर रहे थे। उनका कहना था कि जब टीआरई-1 में छूट दी गई तो फिर टीआरई 2 में क्यों नहीं दी गई। 

विभाग द्वारा जारी टीआरई-2 नोटिफिकेशन में 6-8  प्रशिक्षित उम्मीदवारों के लिए आयु सीमा में 10 वर्ष अतिरिक्त छूट दिये जाने का का उल्लेख नहीं था जिससे अभ्यर्थियों के बीच संशय  की स्थिति व्याप्त थी। टीआरई - 1 विज्ञापन में ये छूट दी गई थी। 

सीटीईटी व एसटीईटी अभ्यर्थी कौन सा नंबर लिखें फॉर्म में 
- ऑनलाइन आवेदन पत्र में माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा ( एसटीईटी) 2023 के रिजल्ट कार्ड नम्बर के स्थान पर बीएसईबी यूनिक आईडी नंबर एवं निर्गत तिथि के स्थान पर परीक्षाफल प्रकाशन की तिथि अंकित करेंगे ।

(2) ऑनलाइन आवेदन पत्र में मध्य विद्यालय एवं प्रारम्भिक शिक्षक (प्रशिक्षित ) के लिए सीटीईटी उत्तीर्ण उम्मीदवार प्रमाण पत्र / अंक पत्र में अंकित सीरियल नंबर एवं निर्गत तिथि अंकित करेंगे। 

अब हर साल होगी शिक्षक भर्ती परीक्षा, सीटेट व बीएड अपेयरिंग अभ्यर्थियों को मौका नहीं
बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) ने साफ कर दिया है शिक्षक नियुक्ति के दूसरे चरण में सीटेट और बीएड के अपेयरिंग उम्मीदवारों को मौका नहीं दिया जाएगा। यह जानकारी बिहार लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष अतुल प्रसाद ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्स पर ट्वीट कर दी है। 

इसके अलावा उन्होंने बताया कि हर साल अगस्त में टीआरई आयोजित करने की योजना है। इसके लिए सरकार के पास प्रस्ताव भेजा गया है। शिक्षक नियुक्ति परीक्षा प्रत्येक साल आयोजित की जाए। ताकि नियमित तौर पर शिक्षकों की नियुक्ति होती रहे। इधर आवेदन की प्रक्रिया लगातार जारी है। अब तक दो लाख अभ्यर्थियों ने आवेदन कर दिया है। अभ्यर्थी 14 नवंबर तक बिना विलंब शुल्क के साथ आवेदन कर सकते हैं। मालूम हो कि माध्यमिक और उच्च माध्यमिक में पहले चरण से अधिक उम्मीदवार रहेंगे । पहले चरण की शिक्षक नियुक्ति में काफी सीटें खाली रह गई हैं। चयनित उम्मीदवारों में हजारों ने योगदान नहीं किया है। ऐसी स्थिति में सीटों की संख्या में बढ़ोतरी होनी तय है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें