DA Image
21 अक्तूबर, 2020|3:06|IST

अगली स्टोरी

BPSC: बिहार जुडीशियल सर्विसेज की 7 अक्टूबर को प्रस्तावित परीक्षा स्थगित कराने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका

supreme court

BPSC Bihar Judicial Services Exam 2020: बिहार न्यायिक सेवा की 7 अक्टूबर को प्रस्तावित परीक्षा को स्थगित कराने की मांग को लेकर अभ्यर्थियों के एक समूह ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दी है। 13 अभ्यर्थियों की ओर से फाइल की गई यह याचिका में कोरोना महामारी का हवाला देकर परीक्षा को स्थगित करने की मांग की गई है।

याचिकाकर्ताओं का कहना है, 'बिहार लोक सेवा आयोग द्वारा निश्चित समय के भीतर सिविल जज(Junior Grade)/ जूडीशियल मजिस्ट्रेट के 221 पदों की भर्ती के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशान का नोटिफिकेशन गलत, तानाशाहीवाला और गैरजरूरी है।

याचिकाकर्ताओं की ओर से कहा गया कि महमारी के इस काल में समय सीमा के भीतर ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया पूरा करना मूलभूत अधिकारों का हनन है। यह परीक्षा 7 अक्टूबर 2020 को होने को प्रस्तावित है।

याचिका में कहा गया, "यह नोटिफिकेशन अवसर की समानता का उल्लंघन करता है। हजारों अभ्यर्थियों के अधिकारों का इससे हनन होता है। संविधान के अनुच्छेद 14, 16 और 19 में दिए गए अधिकारों का हनन होता है।"

याचिका में परीक्षा को स्थगित करने की मांग की गई है। याचिका एडवोकेट अरविंद गुप्ता द्वारा दायर की गई है और इस पर एडवोकेट राजीव रंजन की ओर से बहस की जाएगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:BPSC: Petition in Supreme Court to postpone the proposed examination schedule on October 7 of Bihar Judicial Services