ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरनीतीश और तेजस्वी ने बिहार शिक्षक भर्ती के चयनितों को सौंपे नियुक्ति पत्र, नौकरियों को लेकर किए बड़े ऐलान

नीतीश और तेजस्वी ने बिहार शिक्षक भर्ती के चयनितों को सौंपे नियुक्ति पत्र, नौकरियों को लेकर किए बड़े ऐलान

BPSC : बिहार लोक सेवा आयोग की ओर से आयोजित शिक्षक भर्ती परीक्षा में चयनित 120336 नए टीचरों को नियुक्ति पत्र दिया गया। नीतीश और तेजस्वी ने पटना के गांधी मैदान में 25 हजार शिक्षकों को नियुक्ति पत्र दिया

नीतीश और तेजस्वी ने बिहार शिक्षक भर्ती के चयनितों को सौंपे नियुक्ति पत्र, नौकरियों को लेकर किए बड़े ऐलान
Pankaj Vijayलाइव हिन्दुस्तान,पटनाThu, 02 Nov 2023 04:39 PM
ऐप पर पढ़ें

बिहार लोक सेवा आयोग की ओर से आयोजित शिक्षक भर्ती परीक्षा में चयनित 120336 नए टीचरों को गुरुवार को नियुक्ति पत्र सौंपा गया। इनमें से 25 हजार शिक्षकों को सीएम नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने पटना के गांधी मैदान में नियुक्ति पत्र दिया। अन्य चयनित शिक्षकों को उनके जिले में ही नियुक्तिपत्र दिया गया। राज्य के 27 जिलों से 25 हजार शिक्षक 602 बसों से पटना के गांधी मैदान पहुंचे थे। तीन प्रमंडलों भागलपुर, पूर्णिया और सहरसा के अंतर्गत आने वाले जिलों के शिक्षक पटना के गांधी मैदान नहीं आए। इन 11 जिलों के सभी शिक्षकों को उनके जिले में आयोजित कार्यक्रम में नियुक्तिपत्र सौंपा गया। पटना, नालंदा और वैशाली जिले के सभी सफल शिक्षक पटना पहुंचे थे।

यहां पढ़ें बिहार शिक्षक नियुक्ति पत्र वितरण का लाइव अपडेट

2 माह में और 1.20 शिक्षक भर्ती होंगे
- सीएम ने कहा, 'हमने 10 लाख लोगों को नौकरी, 10 लाख को रोजगार के लिए कहा था। हम चाहते हैं कि 2 माह में शेष शिक्षकों की भर्ती करा ली जाए। 1.50 लाख से ज्यादा हो गया, आज 1.20 लाख आज हो गया। इसके अलावा 50 हेड मास्टर और 50 हजार पुलिस सिपाही । हम चाहते हैं कि डेढ़ साल में हम लोग 10 लाख कर दें। ये सब आज तक कहीं हुआ है क्या? 5 लाख लोगों को रोजगार का अवसर मिल गया है। 5 लाख नौकरी और 5 लाख रोजगार हम पूरा कर रहे हैं।'

नियोजित शिक्षकों को भी राज्य कर्मचारी का दर्जा
- मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने घोषणा की कि एक मामूली परीक्षा लेकर नियोजित शिक्षकों को भी राज्य कर्मचारी बना देंगे । उन्होंने अगले 2 महीने में बचे हुए विद्यालय अध्यापकों के रिक्त पदों को भरे जाने के भी निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि बीपीएससी द्वारा 120336 नए शिक्षकों की भर्ती की गई है। बिहार में इतने बड़े पैमाने पर पहली बार भर्ती हुई है। देश में कभी इतनी बड़ी बहाली नहीं हुई। 

- सीएम ने कहा, 'हमने 10 लाख लोगों को नौकरी, 10 लाख को रोजगार के लिए कहा था। हम चाहते हैं कि 2 माह में शेष शिक्षकों की भर्ती करा ली जाए। 1.50 लाख से ज्यादा हो गया, आज 1.20 लाख आज हो गया। इसके अलावा 50 हेड मास्टर और 50 हजार पुलिस सिपाही । हम चाहते हैं कि डेढ़ साल में हम लोग 10 लाख कर दें। ये सब आज तक कहीं हुआ है क्या? 5 लाख लोगों को रोजगार का अवसर मिल गया है। 5 लाख नौकरी और 5 लाख रोजगार हम पूरा कर रहे हैं।'

04.20 PM -  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा - नियोजित शिक्षकों को भी बहुत जल्द एक परीक्षा लेकर राज्यकर्मी बनाएंगे।

04.12 PM -  उन्होंने कहा कि हमलोगों ने नौकरी देने के मामले में चट-पट-झट सिस्टम विकसित किया है। चट में नियुक्ति के लिए फॉर्म भरा जाता है, पट में परीक्षा देनी होती है और झट से ज्वाइन करवाया जाता है। इससे हम आगे भी नियुक्ति करेंगे। नियुक्ति की प्रक्रिया चलती रहेगी।  आपको कैसी सरकार चाहिए, हिंदु मुस्लिम करने वाली, या नौकरी देने वाली। आप लोगों ने हमें नौकरी के नाम पर वोट दिया था, हम पूरी निष्ठा से काम कर रहे हैं।

उपमुख्यमंत्री ने नवनियुक्त शिक्षकों से कहा कि जिस तरह से हमने नौकरी देने में नया सिस्टम बनाया है, उसी तरह आप भी चट मंगनी-पट विवाह कीजिए। अच्छे तरीके से काम कीजिए, बच्चों को पढ़ाइए।

04.05 PM -  डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने कहा - बीपीएससी ने रिकॉर्ड टाइम में यह भर्ती पूरी की। आज तक देश में एक विभाग में कभी भी एक ही दिन में 1.20 लाख जॉइनिंग लेटर नहीं दिए। ऐसा पहले कभी देश में नहीं हुआ। भर्तियों का सिलसिला आगे भी जारी रहेगा। शिक्षक भर्ती का दूसरा चरण शुरू होने वाला है।

तेजस्वी ने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार ने दो करोड़ नौकरी देने का वायदा किया था। लेकिन क्या किया? कहां गया वो वायदा? नौकरी देने के नाम पर युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। उन्हें धर्म-जाति में बांटकर वोट की राजनीति कर रहे हैं। आपने नौकरी के नाम पर वोट दिया, लेकिन आपको बेरोजगारी मिली, बुलडोजर मिला। लेकिन, हमने नीतीश कुमार के नेतृत्व में लाखों युवकों को न केवल नौकरी दी बल्कि लाखों युवाओं के लिए रोजगार के अवसर भी सृजित किये हैं। 

03.57 PM - बिहार सरकार में वित्त मंत्री विजय चौधरी का बीजेपी पर निशाना, कहा- इधर नियुक्ति पत्र मिल रहा है, दूसरी तरफ उन लोगों का कलेजा फट रहा है। कोई आज तक इस भर्ती में गड़बड़ी के सबूत नहीं दे पाया। आने वाले समय में जनता इन लोगों को सबक सिखाएगी। 

03.30 PM - सीएम नीतीश कुमार औ डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने नवचयनित शिक्षकों को नियुक्ति पत्र सौंपा।

03.18 PM - सीएम नीतीशु कमार और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव मंच पर पहुंचे। कार्यक्रम स्थल पर दोनों का शानदार स्वागत हुआ।

02.55 PM - केके पाठक भी कार्यक्रम में पहुंचे। स्टेज पर पहुंचे ACS के के पाठक। शिक्षकों ने ताली बजाकर किया स्वागत।

02:40 PM - भर्ती में कोई गड़बड़ी नहीं हुई: नीतीश
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शिक्षक बहाली में किसी तरह की गड़बड़ी को सिरे से खारिज किया है। बुधवार को बिजली कंपनी के एक कार्यक्रम के बाद पत्रकारों ने जब उनसे यह पूछा कि भाजपा कह रही है कि बीपीएससी द्वारा पैसा लेकर शिक्षकों को नौकरी दी गई है, तब सीएम ने कहा कि आज तक कितना बढ़िया से बिहार में काम हुआ है।

02:10 PM - नियुक्ति पत्र पाने को शिक्षकों में उत्साह
नवचयनित शिक्षकों में उत्साह है। इसके बाद स्कूल आवंटन की प्रक्रिया शुरू की जायेगी। वहीं शेखपुरा में गुरुवार को कुल 1340 शिक्षकों को नियुक्ति पत्र दिया जायेगा। इनमें से 1140 शिक्षकों को शहर के परेड मैदान में तो 200 शिक्षकों को पटना के गांधी मैदान में सीएम के हाथों नियुक्ति पत्र दिया जायेगा। परेड मैदान में मंच बनाया गया है। जिला के प्रभारी मंत्री व सरकार के परिवहन मंत्री शीला मंडल और डीएम जे प्रियदर्शनी द्वारा नियुक्ति पत्र बांटा जायेगा।

- शेष जिलों के चिन्हित शिक्षकों को बसों से लाया जाएगा। नियुक्ति पत्र देने के बाद चार से चरणवार नए शिक्षकों का प्रशिक्षण शुरू किया जाएगा।

- इन जिलों से गांधी मैदान आए शिक्षक
पटना, नालंदा, भोजपुर, बक्सर, रोहतास, गया, जहानाबाद, अरवल, औरंगाबाद, नवादा, शेखपुरा, जमुई, लखीसराय, मुंगेर, बेगूसराय, खगड़िया, दरभंगा, मधुबनी, समस्तीपुर, मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी, शिवहर, पूर्वी चंपारण, वैशाली, सारण, गोपालगंज और सीवान।

- शिक्षकों का प्रशिक्षण 4 नवंबर से होगा शुरू
बीपीएससी से नव नियुक्त शिक्षकों का प्रशिक्षण फिर एक बार चार नवंबर से शुरू किया जाएगा। इसमें राज्य भर से कक्षा एक से पांचवीं तक के 17670 शिक्षक शामिल होंगे। वहीं 11वीं-12वीं के 1280 शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। एससीईआरटी ने शेड्यूल जारी कर दिया है। 18 नवंबर से 15 दिनों तक चलने वाला यह प्रशिक्षण आवासीय होगा। इसमें कक्षा 12वीं तक के लिए चयनित नवनियुक्त शिक्षकों को शामिल किया जाएगा। सभी शिक्षकों को तीन नवंबर को रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। 64 प्रशिक्षण स्थल का चयन किया गया है। प्रशिक्षण सभी डायट, पीटीईसी, बाइट में किया जाएगा। हर प्रशिक्षण स्थल पर 250 सौ से चार सौ के लगभग शिक्षक शामिल होंगे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें