रीट पर्चा लीक मामले में भाजपा कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन, सचिन पायलट ने रखा सरकार पक्ष

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां के नेतृत्व में पार्टी कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को सिविल लाइन्स फाटक पर राजस्थान शिक्षक पात्रता परीक्षा (रीट) पर्चा लीक मामले की जांच सीबीआई से करवाने सहित अन्य मांगों...

offline
Alakha Singh भाषा , जयपुर
Last Modified: Tue, 1 Feb 2022 6:13 PM

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां के नेतृत्व में पार्टी कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को सिविल लाइन्स फाटक पर राजस्थान शिक्षक पात्रता परीक्षा (रीट) पर्चा लीक मामले की जांच सीबीआई से करवाने सहित अन्य मांगों को लेकर प्रदर्शन किया। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हटाने के लिये पानी की बौछार की लेकिन जब वे धरनास्थल से नहीं हटे तो पुलिस ने उन्हें तितर-बितर करने के के लिए हल्का बल प्रयोग भी किया। पूनियां सहित कई कार्यकर्ताओं ने गिरफ्तारी भी दी। 

धरनास्थल पर गिरफ्तारी से पूर्व पूनियां ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा, ''हम मुख्यमंत्री से मिलना चाह रहे हैं... जायज मांग है... रीट परीक्षार्थियों के साथ अन्याय हुआ है, इतनी बड़ी धांधली हुई है, मुख्यमंत्री हमें आश्वस्त करें कि उनके जो मंत्री हैं उन्हें बर्खास्त करेंगे, उन्हें पार्टी के अन्य पदों से हटायेंगे।'' उन्होंने कहा, ''हमारा आंदोलन जारी रहेगा, कलेक्ट्रेट का घेराव जारी रहेगा, विधानसभा में भी मुखर रूप से अपनी आवाज उठायेंगे।''

वहीं मामले में कांग्रेस नेता सचिन पायलट ने सरकार का पक्ष रखा है। उन्होंने कहा कि राजस्थान शिक्षक पात्रता परीक्षा (REET) में गड़बड़ी सामने आने के बाद सरकार ने कई अधिकारियों को बर्खास्त कर दिया है। मामले की जांच शुरू हो गई है और इसके लिए कड़ा कानून भी बनेगा। एक समिति का गठन किया गया है जो इस बारे में 45 दिन के भीतर अपने सुझाव देगी।

ऐप पर पढ़ें

REET REET Exam 2021 Paper Leak Case