ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News करियरBihar Sakshamta Pariksha: जून के दूसरे सप्ताह में होगी शिक्षकों की काउंसिलिंग

Bihar Sakshamta Pariksha: जून के दूसरे सप्ताह में होगी शिक्षकों की काउंसिलिंग

Bihar Sakshamta Pariksha:  सक्षमता परीक्षा उत्तीर्ण नियोजित शिक्षकों का जून के अंत तक नये स्कूलों में पदस्थापन कर दिया जाएगा। इसी लक्ष्य के साथ शिक्षा विभाग ने तैयारी शुरू कर दी है। इसके लिए जून के दू

Bihar Sakshamta Pariksha: जून के दूसरे सप्ताह में होगी शिक्षकों की काउंसिलिंग
Anuradha Pandeyहिन्दुस्तान ब्यूरो,पटनाFri, 24 May 2024 10:54 AM
ऐप पर पढ़ें

 सक्षमता परीक्षा उत्तीर्ण नियोजित शिक्षकों का जून के अंत तक नये स्कूलों में पदस्थापन कर दिया जाएगा। इसी लक्ष्य के साथ शिक्षा विभाग ने तैयारी शुरू कर दी है। इसके लिए जून के दूसरे सप्ताह में शिक्षकों की काउंसिलिंग शुरू कर दी जाएगी।

सभी जिलों को निर्देश दिया गया है कि स्कूलों के रिक्त पदों की सूची विभाग को उपलब्ध करा दें, ताकि संबंधित पोर्टल पर इसे अपलोड किया जा सके। नये स्कूलों में योगदान के साथ ही इन्हें विशिष्ट शिक्षक का दर्जा मिलेगा और ये सरकारी कर्मी हो जाएंगे। विभाग ने यह भी फैसला लिया है कि शिक्षकों की काउंसिलिंग संबंधित जिले में ही करायी जाएगी।

मालूम हो कि आचार संहिता में काउंसिलिंग पर लगी रोक को देखते हुए विभाग ने पूर्व में निर्णय लिया था कि तीन सक्षमता परीक्षा कराने के बाद एक साथ सभी का पदस्थापन किया जाएगा। दूसरी सक्षमता परीक्षा में विलंब होने से अब विभाग ने निर्णय लिया है कि पहली सक्षमता परीक्षा में उत्तीर्ण इच्छुक शिक्षकों का पदस्थापन कर दिया जाएगा। पहली सक्षमता परीक्षा में एक लाख 87 हजार शिक्षक उत्तीर्ण हुए हैं। दूसरे और तीसरे चरण की सक्षमता परीक्षा के रिजल्ट आने के बाद उस पर अलग से फिर विभाग निर्णय लेगा।

विभाग ने यह भी निर्णय लिया है कि सक्षमता परीक्षा में बेहतर अंक लाने वाले शिक्षकों को शहरी क्षेत्र के स्कूलों में पदस्थापित किया जाएगा। इसको देखते हुए ही शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के स्कूलों के रिक्त पदों की अलग-अलग सूची तैयार की जा रही है। शिक्षकों का स्कूल आवंटन सॉफ्यवेयर के माध्यम से होगा। इसके पहले रिक्त पदों और शिक्षकों की सूची को क्रमवार सॉफ्टवेयर में अपलोड की जाएगी। मालूम हो कि सक्षमता परीक्षा पास करने वाले नियोजित शिक्षकों को इनके आवंटित जिले के स्कूलों में नये सिरे से पदस्थापित करना है।

 

राज्य के सभी डीईओ और डीपीओ स्थापना का बंद वेतन अब चालू कर दिया गया है। शिक्षा विभाग ने गुरुवार को आदेश जारी कर दिया है। बीपीएससी से बहाल शिक्षकों के वेतन भुगतान में देरी के कारण विभाग ने उक्त पदाधिकारियों का वेतन बंद किया था। विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक के निर्देश पर वेतन चालू कर दिया गया है। विभाग के निदेशक प्रशासन सुबोध द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि शिक्षकों के वेतन भुगतान में बरती गयी लापरवही के कारण सभी डीईओ-डीपीओ के अप्रैल माह के वेतन भुगतान पर पाबंदी लगा दी गयी थी। इस संबंध में डीईओ और डीपीओ से स्पष्टीकरण भी मांगा गया था। ाकारियों के स्पष्टीकरण की समीक्षा और शिक्षकों का वेतन भुगतान होने के बाद विभाग ने इन पदाधिाकरियों को भी राहत दी है।

Virtual Counsellor