ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरBihar Sakshamta Pariksha: मामूली नहीं था प्रश्न पत्र, भगवान का नाम लेकर दिए उत्तर, जानें- उम्मीदवारों के रिएक्शन

Bihar Sakshamta Pariksha: मामूली नहीं था प्रश्न पत्र, भगवान का नाम लेकर दिए उत्तर, जानें- उम्मीदवारों के रिएक्शन

बिहार सक्षमता परीक्षा आज से शुरू हो चुकी है। ये परीक्षाएं 6 मार्च तक राज्य के 9 जिलों में आयोजित की जाएगी। आज सक्षमता परीक्षा का पहला दिन था। परीक्षा का आयोजन दो शिफ्ट में किया गया। आइए जानते हैं, कैस

Bihar Sakshamta Pariksha: मामूली नहीं था प्रश्न पत्र, भगवान का नाम लेकर दिए उत्तर, जानें- उम्मीदवारों के रिएक्शन
Priyanka Sharmaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 26 Feb 2024 08:59 PM
ऐप पर पढ़ें

Bihar Sakshamta Pariksha 2024:  बिहार स्कूल शिक्षा बोर्ड (BSEB) आज यानी 26 फरवरी से सक्षमता परीक्षा शुरू कर दी है, जो 6 मार्च तक राज्य के 9 जिलों में स्थित 52 कंप्यूटर केंद्रों पर आयोजित की जाएगी। आज परीक्षा का पहला दिन था। सक्षमता परीक्षा  का आयोजन दो शिफ्ट में किया गया। पहली शिफ्ट सुबह 10 बजे से दोपहर 12:30 बजे तक और दूसरी शिफ्ट दोपहर 3 बजे से शाम 5:30 बजे तक आयोजित की गई थी। बता दें, इस परीक्षा के लिए कुल 2,32,190 शिक्षकों ने आवेदन किया है। आइए जानते हैं पहले दिन की परीक्षा कैसी रही है और प्रश्न पत्र को लेकर क्या दिए उम्मीदवारों ने रिएक्शन।

परीक्षा में शामिल सुनीता कुमारी ने बताया कि, " शिक्षकों के लिए आयोजित सक्षमता परीक्षा काफी अच्छी रही। प्रश्न कठिन नहीं थे, लेकिन उन्हें आसान भी नहीं कहा जा सकता, वहीं हमारे मुख्यमंत्री ने कहा था कि ये मामूली परीक्षा है, लेकिन ऐसा नहीं है, परीक्षा में स्टैंडर्ड प्रश्न पूछे गए थे"

परीक्षा में शामिल एक शिक्षिका रश्मि कुमारी ने कहा कि,"परीक्षा मामूली नहीं थी, अब परीक्षा में जो लिखा है वह रिजल्ट आने के बाद मालूम चलेगा। प्रश्न घुमा फिराकर मुश्किल पूछे गए थे। ऐसे में समझ में नहीं आ रहा था कि क्या लिखना है। वहीं परीक्षा में प्रश्नों के उत्तर अब भगवान के नाम लेकर सब टिक कर दिए हैं। अब क्या होगा, क्या नहीं होगा। पता नहीं पास भी होंगे या नहीं'

एक अन्य उम्मीदवार नीलम सिंह ने बताया, "प्रश्न पत्र मामूली नहीं था। प्रश्नों का स्टैंडर्ड अच्छा था। परीक्षा प्रश्न को देखते हुए लगा रहा है कि 80% उम्मीदवार पास हो ही जाएंगे"

ऐसा है परीक्षा का पैटर्न

कक्षा 1 से 5 तक के शिक्षकों के लिए भाषा में 30), सामान्य अध्ययन में 40 और सामान्य विषय में 80 प्रश्न होंगे। वहीं कक्षा 6 से 8 तक के  शिक्षकों के लिए भाषा में 30, सामान्य अध्ययन में 40 और संबिधित विषय में 80 प्रश्न होंगे। कक्षा 9 से 10 तक के शिक्षकों के लिए भाषा में 30, सामान्य अध्ययन में 40 और संबिधित विषय में 80 प्रश्न होंगे। कक्षा 11 से 12 तक के शिक्षकों के लिए भाषा में 30, सामान्य अध्ययन में 40 और संबिधित विषय में 80 प्रश्न होंगे।

बता दें, बीएसईबी सक्षमता परीक्षा परीक्षा में कोई नेगेटिव मार्किंग नहीं होगी। यानी गलत उत्तर देने पर कोई मार्क्स नहीं काटे जाएंगे। परीक्षा में प्रत्येक प्रश्न 1 अंक का होगा। परीक्षा में जनरल वर्ग के उम्मीदवारों को पास होने के लिए 40% अंक, पिछड़ वर्ग (BC) के लिए 36.5%, अन्यंत पिछड़ वर्ग के लिए 34% अंक, SC-ST वर्ग के लिए 32 अंक, दिव्यांग वर्ग के लिए 32% अंक और महिला उम्मीदवारों के लिए 32% अंक लाने होंगे।

 

Virtual Counsellor