अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Bihar Board Result 2018: 5000 छात्रों ने उत्तर पुस्तिका में की ये गलती

Bihar Board Class 12 Result: इंटर मूल्यांकन के दौरान छात्रों की गलती सामने आ रही है। इंटर के लगभग पांच हजार छात्रों ने उत्तर पुस्तिका पर अंक वाली जगह पर अपना नाम और रौल नंबर लिख दिया है। अब जब स्कैन किया जा रहा है तो यह पकड़ में आ रहा है। स्कैन के दौरान मार्क्‍स की जगह छात्रों का नाम और रौल नंबर आ रहा है। 

ज्ञात हो कि इस बार उत्तर पुस्तिका के पहले पृष्ठ पर ओएमआर अटैच किया गया था। यह ओएमआर तीन पार्ट में था। पहले और तीसरे पार्ट में छात्रों को अपना डिटेल्स भरना था। बीच वाले भाग परीक्षकों के लिए थे। इस भाग में उत्तर पुस्तिका मूल्यांकन के बाद परीक्षकों के लिए भरा जाना था। लेकिन बीच वाले भाग में भी छात्रों ने ही भर दिया है। 

14 केंद्रों से मार्क्‍स फाइल आ चुके हैं। इसके स्कैन का काम भी शुरू हो चुका है। बोर्ड सूत्रों की माने तो जैसे-जैसे मूल्यांकन केंद्र से मार्क्‍स फाइल आ रहे हैं, उसी तरह से स्कैन का भी काम चल रहा है।


गौरतलब है कि बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने इंटर के मूल्यांकन की तिथि बढ़ा दी है। पहले इंटर का मूल्यांकन की तिथि 11 मार्च तक निर्धारित की गयी थी, लेकिन अब इसे बढ़ा कर 18 मार्च कर दिया गया है। इसकी जानकारी बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर ने दी।

एक मूल्यांकन केंद्र से स्थानांतरित होंगे परीक्षक
इंटर मूल्यांकन केंद्रों पर जिन विषयों का मूल्यांकन संबंधित केंद्र पर समाप्त हो गया है। वहां से परीक्षकों का स्थानांतरण दूसरे मूल्यांकन केंद्र पर किया जाएगा। बिहार बोर्ड की मानें तो कई मूल्यांकन केंद्रों पर जरूरत से अधिक परीक्षक हैं। वहीं कई मूल्यांकन केंद्र ऐसे हैं जहां पर परीक्षकों की कमी के कारण मूल्यांकन बाधित है। ऐसे में अब परीक्षक एक केंद्र से दूसरे केंद्र पर स्थानांतरित किए जाएंगे। इसको लेकर बिहार बोर्ड ने पत्र सारे केंद्रों को जारी किया है। 

इंटर मूल्यांकन शुरू हुए पांच दिन हो गए, लेकिन अभी कई मूल्यांकन केंद्र पर शिक्षकों का योगदान नहीं हो पाया है। लगभग 30 फीसदी मूल्यांकन हो पाया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Bihar Board Result 2018: 5000 students made a mistake in the answer sheet