ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News करियरBihar Board: निर्धारित मापदंड पूरा न करने पर 439 माध्यमिक स्कूलों की मान्यता निलंबित

Bihar Board: निर्धारित मापदंड पूरा न करने पर 439 माध्यमिक स्कूलों की मान्यता निलंबित

बिहार के स्कूलों का हाल खराब है। जांच में सामने आया कि कहीं पर कक्षाओं की कमी है तो कहीं पर शिक्षक ही नहीं है। स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारियों की जांच में मापदंड पूरा नहीं करने वाले 439 स्कूलों की मा

Bihar Board: निर्धारित मापदंड पूरा न करने पर 439 माध्यमिक स्कूलों की मान्यता निलंबित
Alakha Singhमुख्य संवाददाता,पटनाTue, 05 Dec 2023 07:10 AM
ऐप पर पढ़ें

बिहार बोर्ड ने राज्य के 439 माध्यमिक और सात उच्च माध्यमिक स्कूलों की मान्यता को निलंबित कर दिया है। इसका निर्णय बोर्ड बैठक में सोमवार को लिया गया। बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि ये स्कूल निर्धारित मापदंड को पूरा नहीं कर रहे थे। कहीं पर कक्षाओं की कमी है तो कहीं पर शिक्षक ही नहीं हैं। वहीं कई स्कूलों ने जांच कार्य में सहयोग नहीं किया। इन स्कूलों की जांच शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने की थी।

बोर्ड अध्यक्ष ने बताया इन स्कूलों को सुधार का एक मौका दिया जाएगा। निर्धारित तिथि में अगर स्कूलों ने सुधार कर लिया तो फिर इनकी मान्यता दे दी जाएगी। बता दें कि इससे पहले बिहार बोर्ड ने 28 अक्टूबर को 178 माध्यमिक और तीन उच्च माध्यमिक स्कूलों को निलंबित किया गया था। इन स्कूलों ने निर्धारित मापदंड पूरा नहीं किया था।

मैट्रिक और इंटर परीक्षार्थी को अन्य स्कूलों से किया जाएगा टैग बिहार बोर्ड अध्यक्ष ने बताया कि इन स्कूलों के मैट्रिक और इंटर के परीक्षार्थियों को पास के स्कूलों से टैग किया जाएगा। इन छात्रों का प्रवेश पत्र उनके स्कूल में ही भेजा जाएगा। चूंकि मैट्रिक और इंटर परीक्षा की तिथि जारी कर दी गई है। इस कारण छात्रों को परेशानी ना हो, इसके लिए प्रवेश पत्र इनके स्कूल में ही भेजा जाएगा। लेकिन इन स्कूलों में प्रायोगिक और सैद्धांतिक परीक्षा का केंद्र नहीं बनाया जाएगा।

शिक्षक नियुक्ति परीक्षा का केंद्र बापू परीक्षा भवन में होगा
बापू परीक्षा भवन में पहली बार बीपीएससी द्वारा आयोजित शिक्षक नियुक्ति परीक्षा के लिए परीक्षा केंद्र बनाया जाएगा। इसकी जानकारी बिहार बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर ने दी। वार्षिक कैलेंडर जारी करते हुए बोर्ड अध्यक्ष ने बताया कि बापू परीक्षा केंद्र में बीपीएससी के शिक्षक नियुक्ति के दूसरे चरण की परीक्षा आयोजित होगी। वैसे तो बापू परीक्षा भवन में 20 हजार परीक्षार्थियों के परीक्षा देने की क्षमता है। लेकिन परीक्षा भवन पूरी तरह से तैयार नहीं हुआ है। इस कारण तीन हजार अभ्यर्थी शामिल हो पाएंगे। उन्होंने बताया कि मैट्रिक और इंटर परीक्षा के लिए भी बापू परीक्षा भवन में इस बार केंद्र बनाया जा सकता है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें